Saturday, May 25, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाजैश आतंकी उबेद, जहाँगीर, सबील अहमद हथियारों-विस्फोटकों के साथ कठुआ में गिरफ्तार

जैश आतंकी उबेद, जहाँगीर, सबील अहमद हथियारों-विस्फोटकों के साथ कठुआ में गिरफ्तार

जम्मू के आईजी मुकेश सिंह ने बताया है कि ये गिरफ्तार हुए संदिग्ध आतंकी कश्मीर के रहने वाले हैं। इनकी पहचान पुलवामा निवासी उबेद-उल-इस्लाम, बड़गाम निवासी जहाँगीर अहमद पारे और पुलवामा निवासी सबील अहमद बाबा के रूप में हुई हैं।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आज (सितंबर 12, 2019) पंजाब से कश्मीर घाटी की ओर AK-47 और विस्फोटक लेकर आते 3 आतंकियों को कठुआ में गिरफ्तार किया। इलाके के एसएसपी श्रीधर पाटिल ने इस गिरफ्तारी की सूचना देते हुए बताया कि ये तीनों आतंकी जैश-ए मोहम्मद के हैं। इनके पास से 4 AK-56, 2 AK-47, 6 मैग्जीन और 180 लाइव राउंड के साथ 11,000 रुपए नकद बरामद किए गए हैं। जिसके बाद अब पंजाब बॉर्डर पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जम्मू के आईजी मुकेश सिंह ने बताया है कि ये गिरफ्तार हुए संदिग्ध आतंकी कश्मीर के रहने वाले हैं। इनकी पहचान पुलवामा निवासी उबेद-उल-इस्लाम, बड़गाम निवासी जहाँगीर अहमद पारे और पुलवामा निवासी सबील अहमद बाबा के रूप में हुई हैं।

जानकारी के अनुसार इन आतंकियों की सूचना पुलिस को सुरक्षाबल द्वारा मिली थी कि हथियारों से भरा ट्रक लेकर ये अमृतसर के रास्ते आ रहे हैं।

इसके बाद ही कठुआ में नाकेबंदी के दौरान ट्रक में रखे सेब के कार्टन से ये हथियार और विस्फोटक चीजें बरामद हुईं और ट्रक में बैठे इन तीनों संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया गया। अब फिलहाल इनसे पूछताछ कर यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि ये हथियार इन्हें कहाँ पर पहुँचाने थे और कहाँ से लाए जा रहे थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

18 साल से ईसाई मजहब का प्रचार कर रहा था पादरी, अब हिन्दू धर्म में की घर-वापसी: सतानंद महाराज ने नक्सल बेल्ट रहे इलाके...

सतानंद महाराज ने साजिश का खुलासा करते हुए बताया, "हनुमान जी की मोम की मूर्ति बनाई जाती है, उन्हें धूप में रख कर पिघला दिया जाता है और बच्चों को कहा जाता है कि जब ये खुद को नहीं बचा सके तो तुम्हें क्या बचाएँगे।""

‘घेरलू खान मार्केट की बिक्री कम हो गई है, इसीलिए अंतरराष्ट्रीय खान मार्केट मदद करने आया है’: विदेश मंत्री S जयशंकर का भारत विरोधी...

केंद्रीय विदेश मंत्री S जयशंकर ने कहा है कि ये 'खान मार्केट' बहुत बड़ा है, इसका एक वैश्विक वर्जन भी है जिसे अब 'इंटरनेशनल खान मार्केट' कह सकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -