Wednesday, May 22, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाजिलेटिन की 1200 छड़ें, 6 पैकेट डेटोनेटर, तार के 7 बॉक्स.. कर्नाटक-आंध्र सीमा पर...

जिलेटिन की 1200 छड़ें, 6 पैकेट डेटोनेटर, तार के 7 बॉक्स.. कर्नाटक-आंध्र सीमा पर मिली विस्फोटक से भरी कार, शेख हजार शरीफ हिरासत में

घटना आंध्र प्रदेश-कर्नाटक बॉर्डर की है। आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर कर्नाटक के कोलार में पुलिस टीमें संदिग्ध वाहनों की तलाश कर रहीं थीं। इसी बीच...

कर्नाटक के कोलार जिले में पुलिस ने विस्फोटकों से भरी एक कार पकड़ी है। मारुति स्विफ्ट ब्रांड की इस कार से जिलेटिन की छड़ें, डेटोनेटर और तार बरामद हुए हैं। कार का ड्राइवर घटनास्थल से फरार हो गया है जिसकी तलाश की जा रही है। गाड़ी मालिक की भी छानबीन शुरू हो चुकी है। पुलिस ने शेख हजार शरीफ नाम के एक 30 वर्षीय युवक को हिरासत में ले कर पूछताछ शुरू कर दी है। घटना सोमवार (8 अप्रैल, 2024) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना आंध्र प्रदेश-कर्नाटक बॉर्डर की है। आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर कर्नाटक के कोलार में पुलिस टीमें संदिग्ध वाहनों की तलाश कर रहीं थीं। इसी बीच उन्हें एक सफेद रंग की स्विफ्ट कार आती दिखी। कार रुकने के इशारा करते हुए ड्राइवर हड़बड़ा गया और भागने लगा। पुलिस ने पीछा किया तो थोड़ी दूर जा कर ड्राइवर ने गाड़ी सड़क के किनारे खड़ी कर दी और मौके से भाग निकला। पुलिस ने कार की तलाशी ली तो उसमें से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद हुआ।

कोलार जिले के पुलिस अधीक्षक एम नारायणा ने ‘इंडियन एक्सप्रेस’ को बताया कि कार से जिलेटिन की 1200 छड़ें, डेटोनेटर के 6 पैकेट के साथ तारों के 7 बॉक्स बरामद किए गए हैं। फरार हुए ड्राइवर के साथ गाडी मालिक की भी पहचान और गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे है। पूछताछ के लिए पुलिस ने 30 वर्षीय शेख हजार शरीफ को हिरासत में लिया है। शेख हजार आंध्र प्रदेश की सीमा के पास कर्नाटक के मदनापल्ली का रहने वाला है। इस मामले की FIR नंगली पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई है।

बरामद हुए विस्फोटकों की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहीं हैं। इसमें एक गत्ते के अंदर लायन (शेर) ब्रांड का विस्फोटक दिखाई दे रहा है। इसके अलावा गाड़ी में लाल रंग के तार भी बंडल में लपेट कर मिले हैं। सभी सामान को कार की डिग्गी में रखा गया था। बताते चलें कि इसी साल 17 मार्च को कर्नाटक के ही बेंगलुरु में बेलंदूर थाना पुलिस को ट्रैक्टर कंप्रेसर वाहन में जिलेटिन की छड़ें और अन्य विस्फोटक सामग्री मिली थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -