Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिसंसद में मंत्रियों को Absent देखकर भड़के PM मोदी, माँगी लिस्ट

संसद में मंत्रियों को Absent देखकर भड़के PM मोदी, माँगी लिस्ट

प्रधानमंत्री ने संसदीय समिति की बैठक के दौरान अपनी नाराजगी जाहिर की और संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी को संसद में अनुपस्थित रहने वाले मंत्रियों के नामों की लिस्ट रोजाना देने को कहा।

संसद में नेताओं की गैरहाजिरी के कारण प्रधानमंत्री मंगलवार (जुलाई 16, 2019) को भड़क गए। उन्होंने संसदीय समिति की बैठक के दौरान अपनी नाराजगी जाहिर की और संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी को संसद में अनुपस्थित रहने वाले मंत्रियों के नामों की लिस्ट रोजाना देने को कहा।

प्रधानमंत्री ने इस दौरान जल संकट के मुद्दे पर बात की। उन्होंने नेताओं को निर्देश दिए कि वे संसदीय क्षेत्र में अधिकारियों के साथ जल संकट पर बैठक करें और स्थानीय लोगों से भी इस बारे में बातचीत करें।

खबर के मुताबिक प्रधानमंत्री ने सांसदों को राजनीति से इतर भी काम करने का सुझाव दिया। उन्होंने सांसदों से कहा कि वे लोग अपने संसदीय क्षेत्र में कुछ हटकर भी काम करें। जिसमें वे स्थानीय प्रशासन की मदद लें और साथ में सामाजिक कार्यों से भी जुड़ें।

प्रधानमंत्री ने सांसदों को गंभीर बीमारियों जैसे टीबी और लैप्रोसी से लड़ने और उन्हें दूर करने के लिए मिशन की तरह काम करने का सुझाव दिया।

सांसदों की अनुपस्थिति पर संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी ने बताया कि जैसा कि पीएम मोदी पहले भी कह चुके हैं कि संसद में उपस्थिति के मामले में कोई अपवाद नहीं होगा। सभी के लिए संसद की चर्चाओं में भाग लेना अनिवार्य है।

बता दें कि 14 जुलाई को पार्टी ने लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों को नोटिस जारी करके आज की बैठक के बारे सूचित कर दिया था ताकि सभी सांसद बैठक में मौजूद रहें। लेकिन सूचना देने के बाद भी सांसदों की कुर्सी खाली रही, जिसके कारण प्रधानमंत्री भड़क उठे। इस बैठक में हिस्सा लेने वालों में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, संसदीय मामलों के मंत्री प्रहलाद जोशी, विदेश मंत्री एस जय शंकर और वी मुरलीधरन का नाम शामिल है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,090FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe