Tuesday, September 28, 2021
Homeसोशल ट्रेंड'राक्षस, बुड्ढा, खूँखार...': ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे सलमान खान, जानिए क्यों हो रही...

‘राक्षस, बुड्ढा, खूँखार…’: ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे सलमान खान, जानिए क्यों हो रही बॉयकॉट की बात

यूजर लिखता है, “एक समय में मैं इस राक्षस का फैन था जिसे बीइंग ह्यूमन कहा जाता है। मैं इस ट्रेंड (#BoycottSalmanKhan) को दिल से समर्थन देता हूँ और खुद को बहुत कोसता हूँ ऐसे राक्षस को समर्थन देने के लिए।”

बॉलीवुड एक्टर सलमान खान का नाम आज एक बार फिर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है। कई यूजर्स #BoycottSalmanKhan हैशटैग के साथ उन्हें इंडस्ट्री से बाहर करने की माँग कर रहे हैं। हालाँकि, ऐसा होना असंभव है। मगर, फिर भी कुछ लोग सुशांत सिंह राजपूत का मामला उठा कर ये अपील कर रहे हैं।

यूजर्स अपना गुस्सा जाहिर करते हुए सलमान खान को ‘राक्षस’ या ‘बुड्ढा’ कहने से भी गुरेज नहीं कर रहे। उनको बॉलीवुड से बाहर का रास्ता दिखाने की माँग करते हुए ‘खूँखार’ शक्ल वाला कहा जा रहा है।

Ektap2114 नाम का यूजर लिखता है, “एक समय में मैं इस राक्षस का फैन था जिसे बीइंग ह्यूमन कहा जाता है। मैं इस ट्रेंड को दिल से समर्थन देता हूँ और खुद को बहुत कोसता हूँ ऐसे राक्षस को समर्थन देने के लिए।”

साभार: ट्विटर

अनुराग कुमार लिखते हैं, “हम जनता सलमान खान को बॉलीवुड इंडस्ट्री से बाहर कर देंगे।” वह सलमान खान और उद्धव ठाकरे को लेकर लिखते हैं, “इन दोनों खूसट बुड्ढों को बॉलीवुड इंडस्ट्री से बाहर करो।”

साभार: ट्विटर
साभार: ट्विटर

सुमिता दास लिखती हैं, “स्वच्छ भारत मिशन की ओर एक कदम। सलमान खान का बहिष्कार इस समय की जरूरत है।”

साभार: ट्विटर

एक अन्य यूजर सलमान खान के इस ट्रेंड को सपोर्ट करते हुए लिखती हैं, “इस आदमी ने सबसे घटिया तरीके के माफिया को बॉलीवुड में क्रिएट किया है। ”

साभार: ट्विटर

कुछ लोग सलमान खान की फिल्मों से क्लिप निकाल कर उनके स्क्रीनशॉट भी इस ट्रेंड में मीम की तरह इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके अलावा कई लोग सुशांत सिंह राजपूत की तस्वीर शेयर करके कह रहे हैं कि उन्हें इंसाफ जरूर मिलेगा।

साभार: ट्विटर

गौरतलब है कि इस हैशटैग में सलमान की आलोचना करने वालों के साथ कुछ सलमान खान के फैन्स भी हैं, जिनका कहना है कि जो कोई भी इस हैशटैग के भीतर बॉयकॉट की माँग कर रहे हैं, वही लोग सलमान के सामने आते ही उनके साथ सेल्फी लेने को बेचैन हो जाएँगे।

साभार: ट्विटर

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe