Sunday, June 16, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'वो इस्लाम बैन करें, तुम 16 बुतों का घर बनाओ': दुबई में हिंदू मंदिर...

‘वो इस्लाम बैन करें, तुम 16 बुतों का घर बनाओ’: दुबई में हिंदू मंदिर देख भड़के कट्टरपंथी, तस्वीर शेयर करने वाले को कहा- काफिर, तुझे शहर के बीच काट देना चाहिए

दुबई में बनने जा रहा हिंदू मंदिर इस समय कट्टरपंथियों की नजरों में खटक रहा है। सोशल मीडिया पर ये कहकर जहर फैलाया जा रहा है कि भारत वाले इस्लाम को प्रतिबंध कर रहे हैं और दुबई है कि नकली भगवानों के लिए बुतों के लिए मंदिर बनवा रहा है।

दुबई के जेबल अली में हिंदू मंदिर बनकर तैयार हो रहा है। सोशल मीडिया पर इसकी तस्वीरें वायरल हैं। जानकारी के मुताबिक मंदिर के दरवाजे श्रद्धालुओं के लिए 5 अक्टूबर 2022 से खुलेंगे। इसमें 16 देवी-देवताओं की मूर्ति स्थापित होंगी। भीतर एक ज्ञान कक्ष होगा और अन्य क्रियाकलापों के एक सामुदायिक भवन भी।

सिंधु गुरु दरबार मंदिर के ट्रस्टी राजू श्रॉफ ने खलीज टाइम्स से पुष्टि की कि मंदिर 5 अक्टूबर को हिंदुओं का प्रमुख त्योहार दशहरा है। ऐसे में उसी दिन आधिकारिक तौपर पर जनता के लिए दरवाजे खोले जाएँगे। श्रॉफ के अनुसार, ये मंदिर दो चरणों में खुलेगा। पहले में तो केवल श्रद्धालु के लिए पूजा पाठ के लिए द्वार खोले जाएँगे। दूसरे में जो कि 14 जनवरी 2023 को होगा उसमें समुदाय भवन और ज्ञान कक्ष खोला जाएगा।

इस मंदिर में 1000-2000 श्रद्धालु पूजा कर पाएँगे। हिंदू त्योहारों और वीकेंड में ये संख्या और बढ़ने के अनुमान हैं। श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए क्यूआर कोड भी इंस्टॉल किया गया है। यहाँ अपॉइंटमेंट बुक हो सकेगी। मंदिर का समय सुबह 6 से रात के 9 बजे तक रहेगा। हर हिंदू त्योहार यहाँ मनेगा और अच्छे भोग के लिए रसोई व कोल्ड स्टोरेज का भी इंतजाम हैं। मंदिर के भीतर एलसीडी लगाई जाएँगी जहाँ श्लोक होंगे और ज्ञान आदि की बातें होंगी।

कट्टरपंथियों को मंदिर देख आया गुस्सा

बता दें कि दुबई में बन रहे इस हिंदू मंदिर के लिए विश्व भर से हिंदू दुबई को आभार जता रहे हैं जबकि कट्टरपंथी दुबई में मंदिर को देख आग बबूला हो रहे हैं। सोशल मीडिया पर इन लोगों ने गुस्सा जाहिर किया है।

हरीथ महसूद ने कहा, “जब वो अपने देशों में इस्लाम बैन कर रहे हैं। हम उनके फर्जी भगवानों के लिए मंदिर बना रहे हैं और फिर पूछते हैं कि हमारी गती हैं। हम सबको एक दिन अल्लाह के आगे जवाब देना होगा।”

हमजा ने कहा, “मुस्लिमों की गिराई जाने वाली हर मस्जिद के बदले तुम अरब की जमीन पर एक मंदिर बनाने को तैयार रहना। क्या एक्सचेंज ऑफर चला रखा है तुम लोगों ने।”

एक यूजर कहता है, “16 बुतों का घर… अरब राष्ट्र में रहते हुए सोचो ये सब बकवास देखना पड़े।” वहीं दूसरा ये पूछता है कि आखिर ऐसे मुस्लिमों के लिए क्या हुक्म है जो मंदिर बनाकर शिर्क करते हैं?”

बता दें कि कट्टरपंथियों को सिर्फ इस बात से दिक्कत नहीं है कि दुबई में हिंदू मंदिर बन गया। उन्हें उस मुस्लिम से भी समस्या है जो इसे एक अच्छी पहल मान रहा है। अली नाम का यूजर हसन सजवानी(जिन्होंने तस्वीरें शेयर की) उन्हें कहता है, “16 बुतों का घर- अल्लाह की कसम तुम काफिर और तुम्हें तो शहर के बीच लाकर काटा (चाकू का निशान बनाकर) जाना चाहिए।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -