Thursday, September 29, 2022
Homeसोशल ट्रेंड'दीवाली पर पटाखों को भूल जाओ, जुआ खेलो': फर्नीचर कंपनी ने दिया ज्ञान तो...

‘दीवाली पर पटाखों को भूल जाओ, जुआ खेलो’: फर्नीचर कंपनी ने दिया ज्ञान तो लोगों ने दिखाया आईना, पूछा – ईद-मुहर्रम पर ये करते हो?

एक यूजर ने लिखा कि अभी जुआ आया है, फिर शराब की बोतल खोलने की सलाह दी जाएगी। हिन्दुओं ने स्पष्ट कहा कि दीवाली पर दो दीपक जलाएँगे और पटाखे उड़ाएँगे, क्योंकि यही परंपरा है।

जैसे-जैसे दीवाली नजदीक आती जा रही है, हिन्दुओं को ज्ञान देने और हिन्दू त्योहारों का अपमान करने व मजाक उड़ाने का सिलसिला भी तेज़ होता जा रहा है। पहले ये काम अधिकतर सेलेब्रिटीज किया करते थे, अब विभिन्न ब्रांड्स ने ये जिम्मा उठाया है। सब्यसाची ने नंगापन के साथ मंगलसूत्र को बेचना चाहा तो विराट कोहली ने ज्ञान दिया कि दीवाली कैसे मनाई जानी चाहिए। अब फर्नीचर कंपनी ‘Pepperfry’ ने सलाह दी है कि दीवाली पर पटाखे उड़ाने की जरूरत नहीं है, घर में ताश खेलो।

कंपनी ने अपने सोशल मीडिया हैंडल से तस्वीर साझा की है, जिसमें घर के सभी लोग बैठ कर परिवार में ही ताश खेल रहे हैं। एक महिला गिटार बजाती हुई दिख रही हैं। दूरदर्शन के वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने इस विज्ञापन पर तंज कसते हुए कहा, “पटाखे मत जलाओ, जुआ खेलो। दीवापली पर नया सेक्युलर अभियान।” लोगों ने ‘Pepperfry’ से पूछा कि क्या वो ईद-मुहर्रम के दौरान भी मुस्लिमों को ऐसे ही ज्ञान देता है कि घर से बाहर मत निकलो, अंदर बैठ कर ताश खेलो।

‘Pepperfry’ की करतूत से खफा हुए लोग

एक यूजर ने लिखा कि उसने अपने ऑनलाइन कार्ट में ‘Pepperfry’ की एक कुर्सी सेव कर के रखी थी, लेकिन अब वो उसे नहीं खरीदेगा। किसी ने सरकार ने ऐसी कंपनियों पर हिन्दुओं की भावनाएँ भड़काने के लिए कार्रवाई की माँग की, तो किसी ने कहा कि ये कंपनियाँ खुद अपना चरित्र सामने ला रही हैं और खुद को एक्सपोज कर रही हैं। एक यूजर ने लिखा कि अभी जुआ आया है, फिर शराब की बोतल खोलने की सलाह दी जाएगी। हिन्दुओं ने स्पष्ट कहा कि दीवाली पर दो दीपक जलाएँगे और पटाखे उड़ाएँगे, क्योंकि यही परंपरा है।

‘Pepperfry’ की करतूत से खफा हुए लोग

लोगों ने सलाह दी कि फर्नीचर के लिए कभी इन महँगी कंपनियों पर विश्वास करने की जरूरत नहीं है, इससे अच्छा है कि स्थानीय बढ़ई/लोहार से फर्नीचर बनवाएँ और उसका प्रयोग करें – इससे काम भी मनपसंद होगा और बजट भी कम लगेगा। एक यूजर ने लिखा कि 7000 रुपए की कुर्सी 7000 रुपए में बेचने वाले ऐसा ज्ञान दे रहे हैं। लोगों ने कहा कि हिन्दू पटाखे उड़ाना नहीं भूलेंगे, आप अपनी बिक्री भूल जाओ। कई हिन्दुओं ने ‘Pepperfry’ कंपनी का बहिष्कार करने का ट्रेंड चलाया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कैसा है वह ‘साहेब कोना’ जहाँ पहली बार हिंदू बने ईसाई: 1906 में जहाँ से भागे थे पादरी, 2022 में हमें भागना पड़ा

छत्तीसगढ़ के खड़कोना में 1906 में पहली बार हिंदुओं का धर्मांतरण हुआ। उसके बाद जो सिलसिला शुरू हुआ, उसने जशपुर को ईसाई धर्मांतरण के बड़े केंद्र में बदल दिया।

‘गौमूत्र पियो, गोबर खाओ हरा@*$’: बर्मिंघम में ‘अल्लाह-हू-अकबर’ बोल हिंदू मंदिर पर टूटी कट्टरपंथियों की भीड़, PM मोदी को दी माँ की गाली; Videos...

ब्रिटेन के बर्मिंघम में हिंदू मंदिर पर इस्लामी भीड़ ने हमला किया। वहाँ हिंदुओं को तो गंदी गालियाँ दी ही गईं। साथ में पीएम मोदी की माँ को भी गाली बकते कट्टरपंथी सुनाई पड़े।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,129FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe