Saturday, October 1, 2022

विषय

इंडियन एक्सप्रेस

क्या अग्निपथ भर्ती योजना में लागू है जातिगत आरक्षण? जानिए कैसे इंडियन एक्सप्रेस ने CAPF से जोड़कर फैलाया झूठ

इंडियन एक्सप्रेस ने अग्निपथ योजना को लेकर झूठ फैलाया कि उसमें भी आरक्षण का प्रावधान है, जबकि केंद्र सरकार ने स्पष्ट किया है कि ऐसा नहीं है।

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस ने ‘नस्लीय शुद्धता’ के नाम पर आनुवंशिक शोध को लेकर फैलाया झूठ, संस्कृति मंत्रालय के खारिज करने बाद भी राहुल...

संस्कृति मंत्रालय ने 28 मई, 2022 को TNIE के मॉर्निंग स्टैंडर्ड संस्करण में छपे लेख को 'भ्रामक, शरारती और तथ्यों के विपरीत' करार दिया।

खोजी पत्रकारिता के नाम पर इंडियन एक्सप्रेस का फरेब: 15 किमी की दूरी को 5 किमी में समेटा… दूसरे जिले की जमीन को भी...

इंडियन एक्सप्रेस का दावा खोजी पत्रकारिता का। पड़ताल हुई तो निकले फरेब। राम मंदिर को विवादित बनाने के लिए जमीनों की खरीद को लेकर गढ़े फैक्ट।

‘हम पाकिस्तान से प्यार करते हैं, उसके समर्थन में बुराई क्या?’: मैच से पहले इंडियन एक्सप्रेस का पॉडकास्ट, Pak की पैरवी

T20 विश्व कप में भारत-पाक मैच से पहले 'इंडियन एक्सप्रेस' पॉडकास्ट लेकर आया है कि क्यों पाकिस्तान का समर्थन करना बुरी बात नहीं है।

‘ट्रेनिंग, सेक्स और संतुलन’ – नीरज चोपड़ा से Indian Express के इंटरव्यू में सवाल, मिला जवाब – क्वेश्चन से मन भर गया

नीरज चोपड़ा ने इस सवाल का जवाब बेहद शालीनता से दिया। उन्होंने कहा, "सर मेरा आपके क्वेश्चन से मन भर गया है। प्लीज सर।"

‘रूस ने भारत को अफगान वार्ता से बाहर कर दिया’: Indian Express ने छापा झूठ, पुतिन प्रशासन ने लगाई लताड़

'इंडियन एक्सप्रेस' ने दावा किया था कि रूस ने भारत को बातचीत से बाहर रखा है, ऐसे में अमेरिका ने अफ़ग़ानिस्तान शांति बैठक में भारत को शामिल किया।

गुजरात में हिंदू और मुस्लिमों के अलग-अलग कोरोना वार्ड: इंडियन एक्सप्रेस का झूठ बेनकाब

जिस डॉक्टर के हवाले से इंडियन एक्सप्रेस ने यह दावा किया उसने भी उसकी रिपोर्ट को खारिज कर दिया है। वैसे यह पहला मौका नहीं है जब इस मीडिया संस्थान ने किसी खबर को बेवजह मजहबी रंग देने का प्रयास किया हो।

इंडियन एक्सप्रेस ने दिया सड़क पर हुई मारपीट को साम्प्रदायिक रंग, क्योंकि पिटने वाला मुस्लिम था

यह समझ पाना मुश्किल है कि इंडियन एक्सप्रेस ने इसमें साम्प्रदायिकता का एंगल कैसे तलाश लिया? ऑपइंडिया ने जब दहेज पुलिस स्टेशन में फ़ोन किया तो वहाँ के पुलिस अफसर ने घटना में साम्प्रदायिकता का पुट होने से इंकार किया। बकौल पुलिस, यह रोड रेज की घटना थी और अज्ञात हमलावरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,570FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe