Saturday, April 20, 2024

विषय

डीआरडीओ

बचपन में पिता का साया उठा, माँ ने किया लालन-पालन: जानिए कौन हैं शीना रानी, जिनके नेतृत्व में अग्नि-5 का हुआ सफल परीक्षण

अग्नि-5 मिसाइल को विकसित करने में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) की वैज्ञानिक शीना रानी की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

अब दुनिया को ब्रह्मोस पावर से लैस करेगा भारत: DRDO सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का निर्यात करने को तैयार, कई देशों से डिमांड

मार्च 2024 तक सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का निर्यात शुरू हो जाने की उम्मीद है। पहली डिलिवरी फिलीपींस को की जाएगी।

‘बेब! इस मिसाइल को मैंने डिजाइन किया है’: पाकिस्तानी ‘हसीना’ को गुप्त जानकारियाँ भेज रहा था DRDO वैज्ञानिक, चार्जशीट में खतरनाक खुलासे

महाराष्ट्र ATS ने DRDO के वैज्ञानिक प्रदीप कुरुलकर के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है। इसमें संवेदनशील जानकारी साझा करने का आरोप है।

दाऊद के भाई का पैसा, ISI की प्लानिंग: निशाने पर थे 6 राज्यों के 15 शहर, ओडिशा में पाकिस्तानी जासूस निकले DRDO के 4...

इधर दिल्ली पुलिस ने 6 आतंकियों को पकड़ा है, उधर ओडिशा से डीआरडीओ के 4 कर्मचारी जासूसी के मामले में गिरफ्तार हुए हैं।

‘ये आपकी धरोहर’: जब फिजिक्स के प्रोफेसर राजनाथ सिंह को INMAS डायरेक्टर ने 2-DG का दिया श्रेय

DRDO की INMAS ने 2-DG लॉन्च की है। इस मौके पर उसके डायरेक्टर ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का अलग तरीके से आभार जताया।

DRDO के एंटी कोविड ड्रग 2-DG को DCGI ने दी मंजूरी: पानी में घोलकर ली जा सकेगी दवा, ट्रायल में आए अच्छे परिणाम

डीआरडीओ के एंटी कोविड ड्रग 2-DG का तीसरे फेज का ट्रायल दिसंबर 2020 से मार्च 2021 के मध्य देश के 27 कोविड अस्पतालों में हुआ। ट्रायल में संक्रमित मरीजों पर इसका सकारात्मक परिणाम देखने को मिला।

HSTDV : इस अत्याधुनिक तकनीक के सफल प्रयोग के साथ ही विश्व का चौथा देश बना भारत, राजनाथ सिंह ने दी बधाई

HSTDV का सफल प्रयोग करने वाला भारत दुनिया का चौथा देश बन गया है। इससे पहले अमेरिका, रूस और चीन यह कारनामा कर चुके हैं।

11 दिन में 1000 बेड वाला ‘कोरोना हॉस्पिटल’ तैयार: वीरगति को प्राप्त कर्नल संतोष बाबू के नाम पर ICU वेंटिलेटर वॉर्ड

DRDO ने केवल 11 दिनों में दिल्ली में कोरोना वायरस के इलाज के लिए 1,000 बेड वाली सुविधा का निर्माण किया। इसमें 250 ICU बेड भी...

HSTDV विकसित कर भारत महाशक्तियों में शामिल, हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल बनाने में होगा इस्तेमाल

इस परीक्षण में 1 टन वजन वाले और 18 फीट लंबे एयरव्हीकल को अग्नि मिसाइल से लॉन्च किया गया था। इस परीक्षण का उद्देश्य एचएसटीडीवी को एक खास ऊँचाई तक पहुँचाना था, जिसके बाद स्क्रैमजेट इंजन अपने आप चालू हो जाता है और व्हीकल 6 मैक की रफ्तार हासिल कर लेता है।

20cm तक ज़ूम करके दुश्मन पर नज़र रखेगी भारतीय सेना, 5 और सैन्य उपग्रह किया जाएगा लॉन्च

कार्टोसैट-3 एक उन्नत उपग्रह है। इसमें 0.2 मीटर (20 सेमी) के रिज़ॉल्यूशन को ज़ूम करने की क्षमता है। इस क्षमता को दुनिया में सबसे अच्छा माना जाता है। इससे बंदूक या दुश्मन के बंकर में मौजूद हर छोटी से छोटी वस्तुओं को स्पष्ट देखा जा सकेगा।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe