Thursday, March 4, 2021

विषय

तालिबान

मस्जिद में चल रही थी बम बनाने की क्लास, फट गया… मर गया 30 आतंकी: अफगान रक्षा मंत्रालय ने की पुष्टि

अफगानिस्तान के एक मस्जिद में बम बनाने के दौरान हुए विस्फोट में 30 तालिबानी आतंकी मारे गए। आधिकारिक सूचना के मुताबिक...

संघियों-मनुवादियों को खत्म करने के लिए लश्कर-तालिबान से मदद की ग्राफिटी: मेंगलुरु की सड़कों पर खुलेआम चेतावनी

26/11 हमलों की बरसी के मौके पर मेंगलुरु की दीवारों पर भयावह बातें लिखी (ग्राफिटी) हुई थीं। जिसमें चेतावनी दी गई थी कि ‘संघी और मनुवादियों’ को ख़त्म करने के लिए लश्कर-ए-तैय्यबा और तालिबान की मदद ली जा सकती है।

‘मेरे पिता ने तालिबानियों को दिया था ID कार्ड’: जॉब छुड़ाने के लिए अफगान महिला की आँख में घोपा गया चाकू, चली गोलियाँ

“कई बार जब मैं ड्यूटी पर जाती थी तो मेरे पिता मेरा पीछा करते थे। उन्होंने आसपास के इलाके में तालिबान से संपर्क रखना शुरू कर दिया था और उनसे कहने लगे थे कि वह मुझे मेरी जॉब करने से रोकें।”

मस्जिद में बैठ कर बना रहे थे बम, अचानक हुआ धमाका; जरीफ़, अब्दुल, अबू और हबीब मौके पर ही ढेर

सिकंदर खेल गाँव में स्थित मस्जिद को तालिबानी आतंकियों ने अड्डा बना रखा था। बम बनाने में हुई गड़बड़ी के कारण वहाँ विस्फोट हो गया।

पेड़ में बाँधकर मारते, कहते थे धर्म बदलो-मुस्लिम बनो: सिख निधान सिंह ने बताया अफगानिस्तान में क्या-क्या झेला

निधान सिंह को तालिबानी आतंकियों ने अफगानिस्तान के एक गुरुद्वारे से अगवा कर लिया था। उनके साथ 11 सिख भारत लाए गए हैं।

संयुक्त राष्ट्र ने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के सरगना मुफ्ती नूर वली महसूद को घोषित किया ‘वैश्विक आतंकवादी’

संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन तहरीक-ए-तालिबान, पाकिस्तान के नेता मुफ़्ती नूर वली महसूद को वैश्विक स्तर का आतंकवादी घोषित कर दिया है।

बच्चे के लिए 7 साल 9 महीने का इंतजार, आतंकियों ने 4 घंटे में छीनी जिंदगी: काबुल हमले से जैनब की गोद सूनी

काबुल में अस्पताल पर हुए आतंकी हमले ने जैनब की गोद फिर से सूनी कर दी है। गोद भरने के लिए उसने करीब सात साल इंतजार किया...

क्या अफगान-तालिबान शांतिवार्ता की घुटन का परिणाम है ISIS द्वारा गुरूद्वारे पर हमला, भारत में लिबरल-वामपंथी गिरोह की चुप्पी के मायने?

कल गुरूद्वारे पर हमले के बाद पूरा अफगानिस्तान अपने सिख-हिन्दू भाइयों के लिए उमड़ पड़ा और अपनी सहानुभूति व्यक्त कर उसके साथ खड़े होने की दृढ़ता दिखाई। इस हमले पर अभी तक तालिबान की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। इस्लामिक स्टेट ने इसकी जिम्मेदारी लेकर एक बार फिर अपना घिनौना चेहरा दुनिया के सामने रख दिया। इधर भारत में लिबरल-वामपंथी गिरोह इसको लेकर चुप्पी साधे हुए है। जैसे उसने सुकमा में नक्सली हमले के वक्त साधा था।

अफगानिस्तान: 11 दिनों में पहली बार अमेरिकी एयरस्ट्राइक, तालिबानी हमले में मारे गए थे 20 जवान

अफगानिस्तान में 29 फरवरी को शांति समझौता हुआ था। हमलों से पहले ट्रंप और तालिबानी नेता मुल्ला बरादर के बीच बातचीत भी हुई थी। ताजा हमलों से शांति समझौता टूटने की कगार पर पहुॅंच गया है।

पाकिस्तान में आतंकियों की हो रही ऑनलाइन भर्ती, अमेरिकी रिपोर्ट में हुआ खुलासा

"सोशल मीडिया और व्हाट्सएप जैसे मैसेजिंग एप के ज़रिए लोगों को आतंकवादी बनाने को लेकर काम तेज़ी से चल रहा है। इस सम्बन्ध में भारतीय अधिकारियों ने वैश्विक सोशल मीडिया कम्पनियों के प्रतिनिधियों से भी मुलाक़ात की है।"

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,284FansLike
81,900FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe