Tuesday, October 19, 2021

विषय

तालिबान

काबुल के गुरुद्वारे में जबरन घुसे तालिबानी: धमकी-तलाशी से डरे सिखों ने माँगी भारत से मदद, कंधार के शिया मस्जिद में भी हुआ बम...

कंधार में एक शिया मस्जिद में बम विस्फोट की घटना हुई। इसमें 16 लोगों के मारे जाने की खबर है। विस्फोट मस्जिद में जुमे की नमाज के समय हुआ है।

ऑस्ट्रेलिया के मुस्लिमों को ज्ञान देगा तालिबान, इस्लामिक संगठन ने बनाया वक्ता: प्रताड़ित हजारा समुदाय सहित विरोध में उतरे लोग

ऑस्ट्रेलियाई इस्लामिक संगठन एएफआईसी ने तालिबान नेता शेख सुहैल शाहीन और शेख सैयद अब्दुल बशीर साबरी को वक्ता के रूप में आमंत्रित किया है।

‘तालिबान आतंकवादी नहीं’: फेसबुक पर ‘आपत्तिजनक’ पोस्ट करने वाले मकबूल आलम को गुवाहाटी हाईकोर्ट ने दी जमानत

जस्टिस सुमन शिवम की एकल पीठ ने कहा कि आरोपित के पर्सनल फेसबुक अकाउंट से किए गए पोस्ट में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं है।

इस्लामिक शरिया कानून पाकिस्तान में लागू करने की तरफ इमरान ने बढ़ाया कदम, ‘रहमतुल लील आलमीन अथॉरिटी’ का किया गठन

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शरिया कानून लागू करने के लिए 'रहमतुल लील आलमीन अथॉरिटी' का गठन किया।

जुमे की नमाज के समय अफगानिस्तान के शिया मस्जिद में धमाका, 100 की मौत: और खूनी हुई तालिबान और ISIS की जंग

अफगानिस्तान में तालिबान का शासन शुरू होने के साथ ही वहाँ पर इस्लामिक स्टेट खुरासान सक्रिय हो गया है और वह लगातार तालिबान पर भी हमले कर रहा है।

तालिबान ने गुरुद्वारे पर किया हमला, सीसीटीवी कैमरे तोड़े; 3 मुस्लिम गार्ड्स समेत कई लोगों को बनाया बंदी

काबुल स्थित 'करता परवन गुरुद्वारे' पर तालिबान ने मंगलवार को हमला बोल दिया। हथियार बंद तालिबानियों ने यहाँ गार्ड्स समेत कई लोगों को बंदी बना लिया।

जावेद अख्तर के खिलाफ मुंबई में FIR, तालिबान के साथ RSS की तुलना बनी मुसीबत: ये है मामला

मुंबई के एक वकील संतोष दुबे ने जावेद अख्तर के खिलाफ मुलुंड पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज करवाई है। जावेद अख्तर ने RSS के खिलाफ टिप्पणी की थी।

तालिबान ने किया ISIS-K के ठिकाने पर हमला, कई आतंकियों को मार गिराया: काबुल में मस्जिद के बाहर हुए धमाके का लिया बदला

तालिबान ने आतंकवादी संगठन आईएसआईएस-खुरासान (ISIS-K) के ठिकानों पर बदले की कार्रवाई की है। और कई आतंकियों को मार ​गिराने का दावा किया है।

तालिबान ने भाई का गला रेता, पर नहीं झुके अमरुल्लाह सालेह: अफगानिस्तान की निर्वासित सरकार बनाई, होंगे कार्यवाहक राष्ट्रपति

राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश छोड़ने के बाद निर्वासित सरकार का गठन लंबे परामर्श के बाद हुआ है ताकि तालिबान को चुनौती दी जा सके।

अफगानिस्तान में मौत के डर से कई पूर्व महिला जज खुफिया जगहों पर छिपीं, उन्हें खोज रहे हैं जेल से छूटे तालिबानी कैदी

इन महिला जजों ने सैकड़ों पुरुषों को महिलाओं के खिलाफ हिंसा, रेप, हत्या और प्रताड़ना के लिए सजा दी है। तालिबानियों ने इन सभी को जेल से रिहा कर दिया है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,765FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe