Friday, June 14, 2024

विषय

राममंदिर

‘काफिर नंबर-1’ : ऊर्फी जावेद ने राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा पर किया हवन-पाठ, इस्लामी कट्टरपंथियों ने दी गालियाँ

उर्फी जावेद के इंस्टा पर उनकी हवन पूजा की वीडियो देख कुछ इस्लामी कट्टरपंथी उन्हें गाली दे रहे हैं। उन्हें काफिर नंबर-1 कहा जा रहा है।

काले खाँ ने हिन्दू किसान नेता को मार डाला, भाई घायल: मंदिर के लिए चंदा माँग रहे थे, पुलिस ने नकारा सांप्रदायिक एंगल

उन्नाव के लोगों का कहना है कि चंदा माँगते भाइयों पर हमला करने वाले हिस्ट्रीशीटर काले खाँ के खौफ की वजह से लोग थाने में उसकी शिकायत नहीं करते।

कारसेवकों पर गोली चलाना सही फैसला, मुलायम सरकार सिर्फ अपना फर्ज निभा रही थी: प्राण-प्रतिष्ठा से पहले स्वामी प्रसाद मौर्या ने उगला जहर

स्वामी प्रसाद मौर्य ने राम मंदिर आंदोलन के दौरान कारसेवकों पर की गई तत्कालीन समाजवादी पार्टी की गोलाबारी की कार्रवाई को जायज ठहराया है।

30 दिसंबर को अयोध्या में रहेंगे PM मोदी, एयरपोर्ट महर्षि वाल्मीकि के नाम: 6 जनवरी से विमान सेवा, 22 जनवरी को रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा

22 जनवरी 2024 को अयोध्या के भव्य राम मंदिर में भगवान रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा होनी है। उससे पहले 30 दिसंबर 2023 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में होंगे।

16 बीघा जमीन बेची, रिश्तेदारों से उधार लिया, राम मंदिर को दान किया ₹1 करोड़: अब रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के साक्षी बनेंगे सियाराम गुप्ता,...

श्रीराम मंदिर निर्माण के प्रतापगढ़ के सियाराम गुप्ता ने एक करोड़ का दाना दिया था, वह राममंदिर निर्माण के लिए दान देने वाले पहले व्यक्ति थे।

जिस दिन रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा, उसी दिन पूरी होगी इस्कॉन की ‘श्रीराम पदयात्रा’: 5000 भक्तों को अयोध्या में रोजाना कराएगी मुफ्त भोजन

22 जनवरी 2024 को अयोध्या के भव्य राम मंदिर में भगवान रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा की जाएगी। उसी दिन इस्कॉन की श्रीराम पद यात्रा भी पूर्ण होगी।

भक्तों के लिए अयोध्या में बसाया गया टिन का नगर तीर्थक्षेत्रपुरम: प्राण-प्रतिष्ठा के बाद 48 दिनों की ‘मंडल पूजा’, देश भर से पहुँचेंगे साधु-संत...

देश के सभी महान साधु-संतों, देश का मान बढ़ाने वाली हस्तियों सहित कारसेवकों उनके परिजनों और पत्रकारों (1984 से 1992) को आमंत्रण दिया गया है।

वह मस्जिद मंदिर तोड़ कर नहीं बनाई गई लेकिन अब ऐसा हो सकता है कि मंदिर तोड़ कर उस जगह मस्जिद बनाई जाए: मौलाना...

“प्रधानमंत्री ने अयोध्या के मंदिर निर्माण कार्यक्रम में शामिल होकर संविधान की अवहेलना की है। उस ज़मीन पर बाबरी मस्जिद थी जिसे हिटलर की फ़ौज से मिलते जुलते लोगों ने तोड़ा था। जो लोग इंसाफ में भरोसा रखते हैं वह किसी न किसी दिन उस मंदिर को मस्जिद में तब्दील कर देंगे।”

मस्जिद की जगह अस्पताल और स्कूल बनवाए मुस्लिम समाज, हम भी पैसे देंगे: अयोध्या के संतों की अपील

दान की भूमि पर मस्जिद का निर्माण नहीं किया जा सकता है, ऐसा होने पर मस्जिद में की गई दुआ कबूल नहीं होती है। नतीजतन मुस्लिम समाज को उस स्थान पर अस्पताल और विद्यालय खोलना चाहिए।

5 अगस्त राम मंदिर भूमि पूजन-शिलान्यास का दिन ही नहीं बल्कि एक नए युग की शुरुआत है, यह युग है रामराज्य का: योगी आदित्यनाथ

इस पावन घड़ी की प्रतीक्षा करते हुए पीढ़ियाँ ख़त्म हो गईं। राम के नाम में आस्था रखने वालों ने 5 शताब्दी तक इस अवसर की प्रतीक्षा की।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें