Wednesday, June 19, 2024
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृति16 बीघा जमीन बेची, रिश्तेदारों से उधार लिया, राम मंदिर को दान किया ₹1...

16 बीघा जमीन बेची, रिश्तेदारों से उधार लिया, राम मंदिर को दान किया ₹1 करोड़: अब रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के साक्षी बनेंगे सियाराम गुप्ता, ‘प्रथम दानदाता’ को मिला न्योता

उन्होंने संकल्प लिया था कि वह श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए ₹1 करोड़ का दान देंगे। इसके लिए धन जुटाने को उन्होंने अपनी 16 बीघे जमीन बेच दी थी।

अयोध्या में बन रहे श्रीराम मंदिर के लिए पहले दानदाता को प्राण-प्रतिष्ठा के कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया गया है। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ के रहने वाले सियाराम ने श्रीराम मंदिर के लिए अदालत से निर्णय आने से पहले ही 1 करोड़ रुपए का दान दे दिया था। उन्हें अब मंदिर निर्माण के लिए पहले दानदाता के रूप में जाना गया है।

जानकारी के अनुसार, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के समर्पित कार्यकर्ता सियाराम गुप्ता ने अक्टूबर 2018 में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए ₹1 करोड़ दिए थे। उन्होंने यह धनराशि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के काशी प्रांत को दी थी। उनके रिकॉर्ड के अनुसार वह पहले दानदाता निकले हैं।

उन्होंने संकल्प लिया था कि वह श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए ₹1 करोड़ का दान देंगे। इसके लिए धन जुटाने को उन्होंने अपनी 16 बीघे जमीन बेच दी थी। हालाँकि, इससे भी पैसे पूरे नहीं हुए तो उन्होंने अपने रिश्तेदारों से ₹15 लाख उधार लिए। इस तरह से उन्होंने ₹1 करोड़ पूरे करके 20 नवम्बर, 2018 को दान किए थे।

हालाँकि, श्रीराम मंदिर के लिए देश के सुप्रीम कोर्ट से निर्णय एक वर्ष 9 नवम्बर 2019 को आया था। सियाराम गुप्ता इसके बाद इस दान को देकर भूल गए और इसका प्रचार-प्रसार भी नहीं किया। उनका कहना है कि उन्हें इसका प्रचार करने की कोई मंशा नहीं थी।

अब जब 22 जनवरी, 2023 को श्रीराम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होनी है तो उससे पहले सियाराम गुप्ता को भी आमंत्रण भेजा गया है। उन्हें मंदिर का पहला दानदाता, रिकॉर्ड के अनुसार बताया गया है। सियाराम गुप्ता श्रीराम के अनन्य भक्त हैं। उन्होंने प्रतापगढ़ में प्रयागराज रोड पर एक मंदिर का निर्माण करवाया है और यहीं रह कर पूजा अर्चना करते हैं।

गौरतलब है कि 22 जनवरी 2024 को श्रीराम मंदिर में प्राण-प्रतिष्ठा का कार्यक्रम होना है जिसमें 6000 से अधिक लोगों को बुलाया गया है। आमंत्रित लोगों में पुराने कारसेवक, कारोबारी, पत्रकार, नेता और विशिष्टगण शामिल हैं। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस छोड़ किरण और श्रुति ने थामा कमल: कभी तीन लाल में बँटी थी हरियाणा की राजनीति, अब BJP सबका परिवार

बीजेपी में शामिल होने के बाद किरण चौधरी और उनकी बेटी श्रुति चौधरी दिल्ली पहुँचे और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की।

डीपफेक वीडियो और ऑनलाइन फेक न्यूज़ पर लगेगी लगाम, ‘मोदी 3.0’ लेकर आ रहा ‘डिजिटल इंडिया बिल’: डेटा प्रोटेक्शन के बाद अब YouTube और...

अमित शाह का वीडियो वायरल कर दिया गया और दावा किया गया कि वो आरक्षण खत्म करने की बात कर रहे हैं। कई हस्तियाँ डीपफेक की शिकार बन चुकी हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -