Saturday, April 17, 2021

विषय

Hindu Temple Breaking

पाकिस्तान में 100 साल पुराने मंदिर पर हमला: 1800 हिन्दुओं की जनसंख्या वाले रावलपिंडी में 74 साल बाद हुई थी पूजा

पाकिस्तान के रावलपिंडी शहर में हाल ही में एक हिन्दू मंदिर पर हमला किया गया और उसमें आग लगाने का भी प्रयास किया गया। रावलपिंडी में शनिवार की रात को ‘पुराना किला माता मंदिर’ में लगभग एक दर्जन की संख्या में युवकों ने हमला कर दिया।

उज्जैन में तेजाब डाल कर हनुमान जी की मूर्ति को जलाया: हिन्दू संगठनों के लोग कार्रवाई के लिए सड़क पर, 144 लागू

पुलिस की एक विशेष टीम आरोपितों को पकड़ने में लग गई है। मूर्ति देख पुलिस ने आशंका जताई है कि मूर्ति पर तेजाब डाला गया या फिर हो सकता उस पर आग लगाई गई हो।

आंध्र प्रदेश में मंदिरों पर हमलों की जाँच के लिए SIT: CM जगन ने 9 मंदिरों की रखी आधारशिला, 8 का भूमि पूजन

विजयवाड़ा के सीताराम मंदिर में देवी सीता की मूर्ति खंडित पाई गई थी। उससे पहले विभिन्न मंदिरों में भगवान गणेश, राम, वेंकटेश और सुब्रमण्येश्वर स्वामी की प्रतिमाओं को नुकसान पहुँचाया गया था।

राम की मूर्ति विखंडित; मंदिर ध्वस्त, चर्चा शून्य | Ram murti desecrated, Ajeet Bharti explains

हमारी चुप्पी का परिणाम पूरे भारत को कश्मीर, कैराना बना देगा। आपको फर्क पड़ना चाहिए अगर आंध्र प्रदेश में राम की मूर्ति तोड़ दी जाए।

जब शाह महमूद कुरैशी ने सोमनाथ को गिराने की खाई कसम: मुस्लिम भीड़ द्वारा मंदिर ध्वस्त करने के बाद पुराना वीडियो वायरल

वीडियो में कुरैशी ने खुद को महमूद गजनवी का वंशज बताते हुए गुजरात स्थित सोमनाथ मंदिर (somnath temple) को गिराने की बात कर रहे हैं।

‘अल्लाह हू अकबर’ चिल्लाती मुस्लिमों की भीड़ ने हिंदू मंदिर को किया आग के हवाले: देखें हमले और तोड़फोड़ का Video

सैंकड़ों की भीड़ वहाँ मौजूद है। आस-पास अल्लाह-हू-अकबर के नारे लग रहे हैं। इस्लामी झंडा लहरा कर मंदिर को तोड़ा जा रहा है। जगह जगह से धुआँ उठ रहा है। गोले दगने की आवाजें भी वीडियो साफ सुनाई पड़ रही हैं।

तीस हजार बाबरी बाकी है, और उसे ले कर रहेंगे: अजीत भारती का वीडियो | Ajeet Bharti on 30000 Babris remain, Hindus must have...

अब वह समय आ गया है कि जब भी कोई ‘बाबरी जिंदा है‘ कहे, तो हमें कहना चाहिए कि हाँ, तीस हजार जिंदा है, और एक-एक को तोड़ कर, मंदिर वहीं बनाएँगे।

तीस हजार बाबरी बाकी है, और हम उसे ले कर रहेंगे

हर राष्ट्र में कानून बहुसंख्यकों के हिसाब से होता है और अल्पसंख्यकों को उसी दायरे के अनुकूल बनना पड़ता है। यहाँ हमेशा उल्टा होता आया है क्योंकि सर्वसमावेशन और सहिष्णुता की बात सिर्फ हिन्दुओं की ही जिम्मेदारी बन गई है।

12वीं शताब्दी में विष्णुवर्धन के शासनकाल में बनी महाकाली की मूर्ति को मिला पुन: आकार, पिछले हफ्ते की गई थी खंडित

मंदिर में जब प्रतिमा को तोड़ा गया तब हालात देखकर ये अंदाजा लगाया गया था कि उपद्रवी मंदिर में छिपे खजाने की तलाश में आए थे और उन्होंने कम सुरक्षा व्यवस्था देखते हुए मूर्ति तोड़ डाली।

दिल्ली के बेगमपुर में शिवशक्ति मंदिर में दर्जनों मूर्तियों का सिर कलम, लोगों ने कहते सुना- ‘सिर काट दिया, सिर काट दिया’

"शिव शक्ति मंदिर में लगभग दर्जन भर देवी-देवताओं का सर कलम करने वाले विधर्मी दुष्ट का दूसरे दिन भी कोई अता-पता नहीं। हिंदुओं की सहिष्णुता की कृपया और परीक्षा ना लें।”

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,228FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe