Wednesday, January 26, 2022

विषय

History

जहाँ कभी थी ब्रिटिश सम्राट जॉर्ज पंचम की स्टैच्यू, वहाँ अब नेताजी बोस की भव्य प्रतिमा: ‘पराक्रम दिवस’ पर PM मोदी ने किया अनावरण

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पराक्रम दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडिया गेट पर उनकी आदमकद प्रतिमा का अनावरण किया।

Pak को दिला दिए ₹55 Cr, शरणार्थी हिन्दुओं/सिखों को भरी ठंड में मस्जिदों से निकाल सड़क पर ला दिया: गाँधी का अंतिम अनशन

महात्मा गाँधी को दिल्ली में मुस्लिमों की चिंता थी, हिन्दू-सिख शरणार्थियों की नहीं। उन्होंने अपना अंतिम अनशन भी मुस्लिमों और पाकिस्तान के लिए किया।

लोग जानवरों के मल में खोज रहे थे अन्न के दाने, इंसान को खा रहे थे इंसान, 7400000 मौतें: इधर ताजमहल बनवा रहा था...

शाहजहाँ के शासन काल में उसकी वजह से 74 लाख लोगों को जान गँवानी पड़ी। इंसान को इंसान खा रहा था। कुत्ते की हड्डियाँ भोजन के रूप में बिक रही थीं।

खुले में नमाज हो या पीरियड आते ही निकाह की रवायत या फिर मोपला नरसंहार के दबे पन्ने… 2021 में जिनसे सब भागे, उन...

जब 2021 जाने को है, हम समेट लाए हैं कि 15 ऐसी खबरें जो मीडिया के लिए मिसफिट था, लेकिन 2022 में भी जो हमें याद दिलाते रहेंगे अपने पाठकों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को।

मिस्र के राजा की 3500 साल पुरानी ममी, गले में मिले 30 ताबीज: डिजिटल तकनीक से उठा कई रहस्यों से पर्दा

मिस्र के शोधकर्ताओं ने 3500 साल पुरानी एक ममी के शरीर को खोला है और डिजिटल स्कैनिंग तकनीक के माध्यम से उसका अध्ययन किया है।

चित्तौड़गढ़ के किले में रानी पद्मावती का अपमान, खिलजी का महिमामंडन: जिस शो का CM गहलोत ने किया उद्घाटन, उसमें इतिहास से खिलवाड़

चित्तौड़गढ़ की महारानी पद्मिनी से जुड़े आपत्तिजनक तथ्यों को दिखाने पर राजस्थान की कॉन्ग्रेस सरकार विवादों के घेरे में आ गई है।

‘पश्चिमी आक्रांता चाहते थे वैदिक युग को नीचा दिखाना’: आर्य-द्रविड़ थ्योरी को सबूतों से नकारता IIT खड़गपुर का कैलेंडर, चिढ़े वामपंथी

यूरोपीय आक्रांताओं ने ये दिखाना चाहा कि संस्कृति और ज्ञान-विज्ञान पश्चिम से चल कर ही पूर्व आया है, इसीलिए उन्होंने आर्य-द्रविड़ की थ्योरी गढ़ी।

वो राजा जो पानीपत के तीसरे युद्ध में बदल सकता था भारत की तकदीर… जिसे मारने के लिए इस्लामी आक्रांताओं ने लिया छल का...

वो भरतपुर के महाराजा सूरजमल जाट ही थे, जिनके कारण बृजभूमि में फिर से हरी फसलें लहलहाईं और बलूचों-अफगानों को नंगे पाँव भारत से भागना पड़ा।

‘वो दुष्ट पहाड़ी राजा मूर्तिपूजक, मैं मूर्तिभंजक हूँ’: गुरु गोविंद सिंह ने की थी मुगलों को गद्दी दिलाने में सहायता – किताबों में पूरा...

पहाड़ी हिन्दू राजाओं से युद्ध को लेकर औरंगजेब से गुरु गोविंद सिंह ने कहा था कि वो 'दुष्ट मूर्तिपूजक' हैं, जबकि मैं 'मूर्तिभंजक' (बुतशिकन) हूँ।

हिन्दू योद्धाओं ने की थी गुरुओं की रक्षा, औरंगजेब से जा मिला था सिख गुरु का बेटा: हिन्दू राजा ने दान की हवेली, तब...

दिल्ली के कनॉट पैलेस में जो गुरुद्वारा खड़ा है, उसके लिए हिन्दू राजा ने अपना बँगला दान कर दिया था। हिन्दू राजाओं ने गुरुओं की रक्षा की थी।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
153,699FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe