Monday, April 15, 2024

विषय

Raghuram Rajan

धीरज साहू के ₹500 करोड़ जायज, क्योंकि कॉन्ग्रेस को भी चुनाव लड़ना है: रघुराम राजन आप ‘अर्थशास्त्री’ ही हैं या ‘चम्मच’

रघुराम राजन ने कॉन्ग्रेस सांसद धीरज साहू के ठिकानों से मिले ₹500 करोड़ को सही ठहराया है। कहा है कि चुनाव लड़ने के लिए पैसे चाहिए होते हैं, इसलिए विपक्षी दलों का कालाधन रखना गलत बात नहीं है।

GDP पर गलत साबित हुए कॉन्ग्रेस के ‘अर्थशास्त्री’ रघुराम राजन, राहुल गाँधी से कहा था- 5% भी हुआ तो भाग्यशाली होंगे, 7.2% रहा ग्रोथ

वित्त वर्ष 2022-23 में भारतीय अर्थव्यवस्था 7.2 प्रतिशत की दर से बढ़ी है। जीडीपी के आँकड़े सामने के बाद से आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन चर्चा में हैं।

कॉन्ग्रेस मित्रमंडली में रघुराम राजन की चाँदी: एस्थर डूफलो, जीन ड्रेज़ के साथ बनाएँगे ‘पेरियार के सपनों का तमिलनाडु’

एक और बड़ी घोषणा ये की गई है कि राज्य के सभी हिन्दू मंदिरों में श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएँ बढ़ाने के लिए एक सलाहकार समिति बनेगी, जो मंदिरों के रख-रखाव से लेकर इससे जुड़े अन्य सलाह देगी।

जतेक के बौउह नय ओतेक के लहठी: सैलरी से ज्यादा रघुराम राजन का सामान ढोने पर RBI ने किया था खर्च

रघुराम राजन को यूपीए के कार्यकाल में गवर्नर नियुक्त किया गया था। कॉन्ग्रेस की न्याय योजना भी उनके दिमाग की ही उपज बताई जाती है।

उत्तर भारतीय कर रहे पंचायती राज को कमजोर: दक्षिण से सांसद बने राहुल गाँधी ने फेंका डिवाइड & रूल का पासा

पंचायती राज की बात कर राहुल गाँधी ने उत्तर-दक्षिण भारतीय पासा फेंका। कॉन्ग्रेसी प्रवक्ता ने मोदी की जीत के लिए उत्तर भारतीयों को जिम्मेवार...

आर्थिक गड़बड़ी 2007-08 (मनमोहन-सोनिया की UPA सरकार) के गलत कर्जों से शुरू हुई: रघुराम राजन

"बैंकों के फँसे कर्जों के संकट (एनपीए क्राइसिस) के बीज 2007-08 में पड़ गए थे। तब मनमोहन सिंह और सोनिया गाँधी की कॉन्ग्रेस के नेतृत्व में यूपीए सरकार सत्ता में थी। इस काल खंड में बहुत सारे खराब कर्ज बाँटे गए, आज इनकी साफ़-सफाई होना विकास के लिए ज़रूरी है।"

पलटू राजन: कॉन्ग्रेस की ‘न्याय योजना’ का किया था समर्थन, अब कह रहे- वेलफेयर पर ख़र्च न करे मोदी सरकार

रघुराम राजन का कहना है कि जन-कल्याणकारी योजनाओं पर सरकार को कम ख़र्च करना चाहिए। चुनाव से पहले राजन ने 3.6 लाख करोड़ रुपए के बजट वाली कॉन्ग्रेस की 'न्याय योजना' का समर्थन किया था। इसे कारगर भी बताया था।

चीन से आगे निकल जाएगी भारतीय अर्थव्यवस्था: रघुराम राजन

विश्व आर्थिक मंच (WEF) को सम्बोधित करते हुए पूर्व RBI गवर्नर ने कहा कि दक्षिण एशियाई देशों में भारत बाकियों से बेहतर स्थिति में होगा।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe