Thursday, July 29, 2021

विषय

Yati Narsinghanand Saraswati

महंत यति नरसिंहानंद का दावा उनकी हत्या के लिए आए 3 मुस्लिमों सहित 4 विदेशी गिरफ्तार, यूपी पुलिस ने नकारा

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद स्थित डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती ने कहा कि 4 विदेशी उनकी हत्या करने के लिए आए थे।

पूजा के वक्त महंत पर होता हमला? डासना मंदिर में घुसे संदिग्धों को थी यति नरसिंहानंद की पल-पल की खबर

ये दोनों ऐसे समय में मंदिर परिसर में घुसे थे जब नरसिंहानंद सरस्वती पूजा-पाठ में तल्लीन होते हैं और अपनी सुरक्षा से अलग होते हैं।

यति नरसिंहानंद की हत्या की साज़िश: हिन्दू बता मंदिर में घुसा काशिफ़, विपुल को बनाया साथी – सायनाइड और हथियार बरामद

दोनों ने मंदिर के भीतर घुसते समय खुद को हिन्दू बताया था, लेकिन पुलिस ने उनमें से एक की पहचान काशिफ़ के रूप में की है। दोनों से पूछताछ जारी है। 20 दिन पहले J&K का एक आतंकी महंत यति की हत्या की सुपारी लेकर आया था।

जैश की साजिश, टारगेट महंत नरसिंहानंद: भगवा कपड़ा और पूजा सामग्री के साथ जहाँगीर गिरफ्तार, साधु बन मंदिर में घुसता

कश्मीर के रहने वाले जान मोहम्मद डार उर्फ़ जहाँगीर को साधु के वेश में मंदिर में घुस कर महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती की हत्या करनी थी।

‘हिंदुओं तौबा कर लो… कलमा पढ़ मुसलमान बन जाओ’: यति नरसिंहानंद, कोरोना पर मौलवी का जहरीला Video

'कोरोना से लोग मारे जा रहे और श्मशान घाट में चिता जलाने की जगह नहीं है... उसकी सबसे बड़ी वजह इस्लाम की मुखालफत है।"

मास रिपोर्टिंग के बाद महंत नरसिंहानंद सरस्वती का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड, कट्टरपंथी मना रहे जश्न

गाजियाबाद के डासना स्थित देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती का अकाउंट माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर से सस्पेंड हो चुका है।

‘गिरफ्तार हुए महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती, अब तुम्हारी बारी है हिन्दुओं’: पुराना वीडियो वायरल, जानिए हकीकत

"महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती को शाहजहाँपुर से गिरफ्तार कर लिया गया है। हिन्दुओं, अब तुम्हारी बारी है। समय कोई दयालुता नहीं दिखाता। दूसरा मौका नहीं आएगा।"

‘इस्लाम और कट्टरपंथी इस्लाम में अंतर नहीं, यह सभी धर्मों के लिए खतरा’: यति नरसिंहानंद ने इंटरव्यू रखे अपने विचार

महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती ने कहा कि वह सनातन धर्म के अनुयायी हैं और किसी भी दूसरे पंथ या मजहब के विरोधी नहीं हैं लेकिन दूसरे मजहब को अपने पर थोपे जाने के विरोधी अवश्य हैं।

बरेली के बाद अजमेर में इकट्ठी हुई कट्टरपंथी मुस्लिमों की भीड़, महंत नरसिंहानंद पर कार्रवाई न होने पर दी प्रदर्शन की धमकी

शुक्रवार को राजस्थान की अजमेर शरीफ दरगाह बाजार में जुमे की नमाज के बाद बड़ी संख्या में कट्टरपंथी मुसलमानों की भीड़ इकट्ठा हुई। मुस्लिमों ने नरिसंहानंद सरस्वती की गिरफ्तारी की माँग की।

नरसिंहानंद और वसीम रिजवी का ‘सिर तन से जुदा’ करने वाले पोस्टर लगाने वालों के खिलाफ FIR, AIMIM के लोगों की तलाश

कानपुर पुलिस ने आश्वस्त किया कि आरोपितों की पहचान करने के प्रयास किए जा रहे हैं। गिरफ्त में आते ही उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,780FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe