Wednesday, May 22, 2024
Homeव्हाट दी फ*ऑफिस में बम है... TCS ने महिला को नहीं दी नौकरी, एक कॉल से...

ऑफिस में बम है… TCS ने महिला को नहीं दी नौकरी, एक कॉल से बेंगलुरु के दफ्तर में मचा दिया हड़कंप: पुलिस ने किया गिरफ्तार

टीसीएस के ट्रांसपोर्ट हेल्पडेस्क के जिस कैब ड्राइवर को इस पूर्व महिला कर्मचारी ने ऑफिस में बम होने की धमकी का फर्जी कॉल किया था उसे वो कंपनी में जॉब के दौरान से ही जानती थी।

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु के होसुर रोड स्थित ‘टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज’ (TCS) के दफ्तर में मंगलवार (14 नवंबर, 2023) को हड़कंप मच गया। दरअसल, इस ऑफिस के B ब्लॉक को फोन पर पूरे ऑफिस को बम से उड़ाने की धमकी मिली थी। इससे वहाँ हड़कंप मच गया।

सूचना मिलते ही पुलिस आनन-फानन में बम स्क्वॉड समेत मौके पर पहुँची। इसके बाद जाँच-पड़ताल शुरू हुई। आखिर में जाँच में सामने आया कि फोन पर बम से उड़ाने की ये फर्जी कॉल थी। बेंगलुरु पुलिस की छानबीन में TCS की छँटनी में निकाली गई एक्स कर्मचारी बी श्रुति शेट्टी का नाम सामने आया। इसके बाद पुलिस ने बुधवार (15 नवंबर, 2023) को उसे उसके घर बेलगावी से गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस की जानकारी के मुताबिक, आरोपित पूर्व कर्मचारी श्रुति शेट्टी ने BBM किया है। उसने एमबीए करने के लिए टीसीएस से इस्तीफा दे दिया था। उसे गुस्सा था कि कंपनी ने इसके बाद फिर से उसे जॉब पर नहीं रखा। उसे जब लगा की कंपनी उसे दोबारा नौकरी पर नहीं रखेगी तो उसे कंपनी पर बहुत गुस्सा आया। उसने गुस्से के चलते बगैर कुछ सोचे-समझे मंगलवार को TCS के ट्रांसपोर्ट हेल्पडेस्क में फोन लगाया। उसने कहा कि बेंगलुरु ऑफिस में बम है। इसके बाद ऑफिस के सब लोग दहशत में आ गए।

जानकारी के मुताबिक, टीसीएस के ट्रांसपोर्ट हेल्पडेस्क के जिस कैब ड्राइवर को इस पूर्व महिला कर्मचारी ने ऑफिस में बम होने की धमकी का फर्जी कॉल किया था उसे वो कंपनी में जॉब के दौरान से ही जानती थी। इस एक्स कर्मचारी ने इस ड्राइवर को नशे की हालत में कॉल की थी।

गौरतलब है कि टीसीएस के हैदराबाद ऑफिस में इसी तरह का वाकया मई में पेश आया था। तब ऐसे ही किसी ने ऑफिस को बम से उड़ाने की फर्जी धमकी दी थी। बाद में जाँच में पाया गया था कि ये कॉल भी कथित तौर पर एक्स कर्मचारी ने की थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -