Wednesday, July 24, 2024
102 कुल लेख

अर्पित त्रिपाठी

अवध से बाहर निकला यात्री...

आँखों में मिर्ची झोंकी, 35 बार चाकू से वार कर मार डाला: बिहार में दिन-दहाड़े सड़क पर हत्या, बिहार में 1 साल में साढ़े...

बिहार के नवादा शहर में KLS कॉलेज के पास 21 वर्षीय युवक राहुल कुमार की चाकुओं से 35 बार गोद कर दिनदहाड़े हत्या। आँखों में मिर्ची भी झोंकी।

पहले सर्बानंद, अब हिमंता… असम में जब से आई BJP तब से गिर रहा अपराध का ग्राफ: 90% कम हुए दंगे, NCRB की रिपोर्ट...

असम में वर्ष 2016 में भाजपा की सरकार के बाद से अपराध और दंगों में कमी देखने को मिली है। इस पर NCRB ने आँकड़े दिए हैं।

मोदी सरकार में दंगे 50% कम, PM इंदिरा के बाद सबसे कम: BJP राज्यों में 90% तक घटे, कॉन्ग्रेसी राज्य में 30% ज्यादा दंगे

मोदी सरकार के दौरान देश में दंगे लगातार कम हुए। दंगों को कम करने में भाजपा शासित राज्यों ने अच्छा काम किया, वहीं कॉन्ग्रेसी राज्य फिसड्डी।

7.6% रही GDP, विदेशियों ने कहा था 6%… कोर इंडस्ट्री भी 14 महीने में सबसे तेज: 5 आँकड़ों से जानिए भारतीय अर्थव्यवस्था की रफ्तार...

भारत की अर्थव्यवस्था लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है। नवम्बर माह में सामने आए आँकड़े इसकी पुष्टि कर रहे हैं। जीडीपी वृद्धि दर 7.6% रही है।

भारत में अब इस्तेमाल हो रहे 99.2% स्मार्टफोन ‘मेड इन इंडिया’, 9 साल में 20 गुना बढ़ा प्रोडक्शन: जानिए कैसे मोदी सरकार ने बदल...

भारत में इस समय बिक रहे 99.2% स्मार्टफोन 'मेड इन इंडिया' हैं। बीते 9 साल में देश में स्मार्टफोन का प्रोडक्शन करीब 9 गुना बढ़ा है।

एक और शरणार्थी संकट से जूझेगा भारत, विद्रोह के बाद टूट की कगार पर म्यांमार! भाग-भाग कर भारत में शरण ले रहे फौजी, जानिए...

म्यांमार की सेना के खिलाफ लड़ाई तेज हो रही है। लड़ाई से बचने के लिए बड़ी संख्या में म्यांमार के फौजी भारत भाग रहे हैं।

नेहरू ने चीन को बेच दिया था भारत का परमाणु बम बनाने का पदार्थ: अमेरिकी विदेश विभाग के कागजों से बड़ा खुलासा

वर्ष 1953 में नेहरू सरकार की अनुमति से एक सरकारी कम्पनी ने चीन को परमाणु बम बनाने में काम आने वाला थोरियम नाइट्रेट बेच दिया था।

झमाझम दिवाली, तड़ातड़ बम… वायु प्रदूषण (AQI) पराली से भी कम: हिंदू धर्म को टारगेट करना कब होगा बंद?

दिल्ली में दिवाली के बाद और पहले के AQI का विश्लेषण करने से पता चला है कि पटाखों का दिल्ली की हवा पर कोई ख़ास फर्क नहीं पड़ा है।