Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजनाबालिग दलित लड़की को अगवा कर साबिर ने कबूल करवाया इस्लाम, रेप-जबरन निकाह: पीड़ित...

नाबालिग दलित लड़की को अगवा कर साबिर ने कबूल करवाया इस्लाम, रेप-जबरन निकाह: पीड़ित पिता ने दर्ज कराई FIR, राजस्थान के अलवर की घटना

दलित बालिका के परिजनों ने आरोप लगाया कि साबिर ने उनकी बच्ची के साथ दुष्कर्म भी किया है। इस मामले में दलित बालिका के परिजनों ने रामगढ़ थाने में FIR दर्ज करवाई है। पुलिस ने साबित के खिलाफ POCSO और अपहरण समेत कई धाराओं में मामला दर्ज किया है। साबिर के विरुद्ध SC/ST एक्ट में भी मामला दर्ज किया गया है।

राजस्थान के अलवर में एक नाबालिग दलित बालिका को एक मुस्लिम युवक जबरन अपहरण करके अपने साथ ले गया। मुस्लिम युवक ने इसके बाद नाबालिग को इस्लाम कबूल करवा कर उसके साथ निकाह कर लिया। नाबालिग के साथ जबरन दुष्कर्म भी किया गया। बालिका के परिजनों ने इस मामले में मुस्लिम युवक के विरुद्ध मामला दर्ज करवाया है।

जानकारी के अनुसार, अलवर के बगड़ का तिराहा की रहने वाली एक 17 वर्षीय दलित बालिका 13 अप्रैल, 2024 को अपने घर से पास के बाजार के लिए गई थी। बालिका ने कहा था कि वह अपनी पायल सही करवाने के लिए बाजार जा रही है। हालाँकि, बालिका इसके बाद शाम तक नहीं लौटी। परिजनों ने इसके बाद उसकी तलाश चालू की।

परिजनों को तलाश करने पर पता चला कि पास के गाँव का साबिर बालिका को लेकर गया था। इस जानकारी के बाद बालिका के परिजन साबिर के घर पहुँचे। साबिर के परिजनों ने दलित परिवार को गुमराह किया और बताया कि बालिका को ढूँढने में उसकी मदद करेंगे।

इसके बाद भी परिजनों को बालिका का कोई सुराग नहीं लगा। इसके बाद वह एक बार फिर साबिर के घर पुलिस के साथ पहुँचे जहाँ उन्हें पता चला कि उनकी नाबालिग बेटी को इस्लाम कबूल करवा दिया गया है और जबरन उसका साबिर के साथ निकाह करवा दिया गया है।

दलित बालिका के परिजनों ने आरोप लगाया कि साबिर ने उनकी बच्ची के साथ दुष्कर्म भी किया है। इस मामले में दलित बालिका के परिजनों ने रामगढ़ थाने में FIR दर्ज करवाई है। पुलिस ने साबित के खिलाफ POCSO और अपहरण समेत कई धाराओं में मामला दर्ज किया है। साबिर के विरुद्ध SC/ST एक्ट में भी मामला दर्ज किया गया है।

पीड़ित परिवार के साथ उनके समाज के लोग भी काफी आक्रोशित हैं। पुलिस का कहना है कि वह अभी इस मामले में जाँच कर रही है। मामले की जाँच पुलिस उपाधीक्षक ओमप्रकाश विश्नोई को सौंपी गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अर्पित त्रिपाठी
अर्पित त्रिपाठीhttps://hindi.opindia.com/
अवध से बाहर निकला यात्री...

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -