Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीति'चोर हैं ये माद₹#@$': राहुल गाँधी की यात्रा में शामिल हुए, अब पुलिस से...

‘चोर हैं ये माद₹#@$’: राहुल गाँधी की यात्रा में शामिल हुए, अब पुलिस से माँग रहे ‘न्याय’, कहा- कंटेनर मँगवाए, पर पैसे नहीं दिए

ऑपइंडिया ने इस मामले में बिहार बंगाल ट्रांसपोर्ट के मालिक अनिल कौशिक से भी बात की है। कौशिक ने बताया कि यह ड्राईवर बिना बात विवाद खड़ा कर रहे हैं। कौशिक ने आरोप लगाया कि गाड़ी मालिक इस मामले में कॉन्ग्रेस को बिना वजह घसीट रहे हैं।

कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में ट्रक कंटेनर भेजने वाले मालिकों ने आरोप लगाया है कि उनकी गाड़ियों के किराए का पैसा नहीं मिला है। इन ट्रक मालिकों का कई लाख रूपए यात्रा के कारण ट्रांसपोर्टर पर बकाया है, जिसका भुगतान अभी तक नहीं हुआ है। इस सम्बन्ध में मालिकों ने उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में शिकायत भी पुलिस को दी है। उधर ट्रांसपोर्टर ने इस मामले में आरोप लगाया है कि गाड़ी मालिक इस मामले का राजनीतिकरण कर रहे हैं और उन्होंने उनका माल रोक रखा है।

दैनिक भास्कर की एक खबर के अनुसार, कुछ ट्रक ड्राइवरों की गाड़ियाँ कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में गईं थी। यह गाड़ियाँ दिल्ली के दो ट्रांसपोर्टर अनिल कौशिक और मनोज सिंह ने इन ट्रक मालिकों से ली थी। कौशिक बिहार बंगाल ट्रांसपोर्ट (दिल्ली) जबकि मनोज सिंह दिल्ली हरिद्वार ट्रांसपोर्ट के मालिक हैं।

उन्होंने इन पर राहुल गाँधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा वाले सफ़ेद कंटेनर लगवाए थे। यह गाड़ियाँ 20 दिसम्बर, 2023 को कॉन्ग्रेस यात्रा के लिए भेजी गई थीं। इन ट्रांसपोर्टर को गाड़ियाँ भेजने वाले मालिकों का आरोप है कि यात्रा खत्म होने के बाद भी उनकी गाड़ियों के किराए का पैसा नहीं दिया जा रहा है।

इन गाड़ी मालिकों ने आरोप लगाया है कि उनका भुगतान रोका गया। भुगतान माँगने पर उनसे साफ़ बात नहीं की जा रही और उन्हें मारने की धमकियाँ मिल रही हैं। उन्हें घर से उठवाने की बात कही जा रही है। आरोप है इन गाड़ी मालिकों ने मनोज सिंह और अनिल कौशिक के 22-25 स्पेशल कंटेनर भी रोक रखे हैं। मालिकों का कहना है कि वह कंटेनर तब देंगे जब उनका पैसा मिल जाएगा।

ऑपइंडिया ने इस मामले में बिहार बंगाल ट्रांसपोर्ट के मालिक अनिल कौशिक से भी बात की है। कौशिक ने बताया कि यह ड्राईवर बिना बात विवाद खड़ा कर रहे हैं। कौशिक ने कहा कि यह गाड़ियाँ उन्हें 1 जनवरी, 2024 को मिली थीं। इसके बाद इन्हें 2 महीने 22 दिन यात्रा में संचालित किया गया। गाड़ियों के भुगतान को लेकर कौशिक ने बताया कि वह हर 15 दिन पर हर गाड़ी का भुगतान कर देते हैं। इन गाड़ियों का भी 2 महीने का भुगतान हो गया है और 22 दिन का भुगतान बाकी है जो कि वह देने को भी तैयार हैं।

कौशिक ने आरोप लगाया कि गाड़ी मालिक पैसा ना मिलने के इस मामले में कॉन्ग्रेस को बिना वजह घसीट रहे हैं। उन्होंने बताया कि राहुल गाँधी की यात्रा में जाने वाले एक कंटेनर की कीमत लगभग ₹3 लाख है, इनमें AC जैसी सुविधाएँ हैं। ऐसे 22-25 कंटेनर इन गाड़ी मालिकों ने बुलंदशहर में रोके हुए हैं और वापस कौशिक के कहने पर फरीदाबाद नहीं ला रहे। कौशिक का कहना है कि उन्हें अपने कंटेनर वापस मिलते ही इन ड्राईवर का भुगतान हो जाएगा और वह उससे पहले भी भुगतान करने को तैयार हैं लेकिन ड्राईवर उनकी बात नहीं सुन रहे।

इस मामले में कौशिक ने समझौते के लिए अपने सहयोगी मनोज को बुलंदशहर भेजा है। कौशिक ने धमकी देने के आरोप पर बताया है कि मालिकों के उनके कंटेनर और माल रोकने पर उन्होंने वापस लेने की बात कही थी। उन्होंने इस मामले में राजनीतिकरण और गाड़ी मालिकों पर गड़बड़ करने के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि इस मामले में कॉन्ग्रेस का कोई लेना देना नहीं है और अन्य दलों के लिए भी इवेंट मैनेजमेंट भी करते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अर्पित त्रिपाठी
अर्पित त्रिपाठीhttps://hindi.opindia.com/
अवध से बाहर निकला यात्री...

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

अब तक की सबसे अधिक ऊँचाई पर पहुँचा भारत का विदेशी मुद्रा भंडार, उधर कंगाली की ओर बढ़ा पाकिस्तान: सिर्फ 2 महीने का बचा...

एक तरफ पाकिस्तान लगातार बर्बादी की कगार पर पहुँच रहा है, तो दूसरी तरफ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार बढ़ता जा रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -