Friday, July 19, 2024
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृति'OMG 2 में भगवान शिव को कचौड़ी खरीदते दिखाया': अक्षय कुमार को महाकाल मंदिर...

‘OMG 2 में भगवान शिव को कचौड़ी खरीदते दिखाया’: अक्षय कुमार को महाकाल मंदिर के पुजारियों का नोटिस, कहा- 24 घंटे में हटाओ आपत्तिजनक दृश्य

महाकाल मंदिर के पुजारियों की ओर से वकील अभिलाष व्यास ने OMG 2 के प्रोड्यूसर विपुल शाह, चन्द्रप्रकाश द्विवेदी, डायरेक्टर अमित राय, एक्टर अक्षय कुमार को नोटिस भेजा है।

अक्षय कुमार, यामी गौतम और पंकज त्रिपाठी स्टारर फिल्म ‘ओह माय गॉड 2 (OMG 2)’ रिलीज से पहले ही विवादों में घिरी हुई है। अब, महाकाल मंदिर के पुजारियों ने फिल्म के निर्माताओं को कानूनी नोटिस भेजा है। पुजारियों का कहना है कि ट्रेलर में भगवान शिव को कचौड़ी खरीदते दिखाया गया है। इससे भक्तों की भावनाएँ आहत हुई हैं। फ़िल्म 11 अगस्त को रिलीज होनी है।

महाकाल मंदिर के पुजारियों की ओर से वकील अभिलाष व्यास ने OMG 2 के प्रोड्यूसर विपुल शाह, चन्द्रप्रकाश द्विवेदी, डायरेक्टर अमित राय, एक्टर अक्षय कुमार को नोटिस भेजा है। यही नहीं, उन्होंने यह नोटिस सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी को भी नोटिस भेजा। सोमवार (7 अगस्त, 2023) को भेजे गए इस नोटिस में कहा गया है कि नोटिस मिलने के 24 घण्टे के भीतर फिल्म से आपत्तिजनक दृश्यों को हटाएँ और सार्वजनिक रूप से माफी माँगे।

नोटिस में यह भी कहा है कि यदि ऐसा नहीं होता है तो फिल्म के सर्टिफिकेट को रद्द करने की माँग की जाएगी। इसके अलावा, धार्मिक भावनाओं को आहत करने का केस दर्ज कराया जाएगा। फिल्म में जिस तरह की चीजें दिखाई गई हैं वह भारतीय दंड विधान की धारा (IPC) 295A, धारा 298, धारा 500 के अंतर्गत दंडनीय अपराध की श्रेणी में आता है।

‘अखिल भारतीय पुजारी संघ’ के अध्यक्ष और महाकाल मंदिर के पुजारी महेश शर्मा का कहना है कि ‘OMG 2’ में भगवान शिव का गलत चित्रण किया गया है। फिल्म का उद्देश्य भले ही कुछ भी हो लेकिन इसके ट्रेलर में भगवान शिव कचौड़ी खरीदते नजर आ रहे हैं। यही नहीं, उनके द्वारा दिए गए आशीर्वाद की बजाए कचौरी बेचने वाला पैसे माँग रहा है। इससे शिव भक्तों की भावनाएँ आहत हो रहीं हैं। भगवान शिव के भक्तों के लिए पैसा नहीं बल्कि उनका आशीर्वाद ही सबसे बड़ा धन है।

सेंसर बोर्ड से फिल्म को A (एडल्ट) सर्टिफिकेट मिलने को लेकर महेश शर्मा ने यह भी कहा है कि ऐसा लगता है कि फ़िल्म में अश्लील सीन हैं। महाकाल मंदिर के साथ इस तरह की हरकतें स्वीकार नहीं है। फिल्म से कोई विवाद नहीं है। लेकिन फ़िल्म के नाम पर इष्ट देवताओं का अपमान सहन नहीं करेंगे। महेश शर्मा ने हर सप्ताह होने वाली जनसुनवाई में भी आवेदन देकर उज्जैन में फ़िल्म के रिलीज होने पर रोक लगाने की माँग की गई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1 साल में बढ़े 80 हजार वोटर, जिनमें 70 हजार का मजहब ‘इस्लाम’, क्या याद है आपको मंगलदोई? डेमोग्राफी चेंज के खिलाफ असम के...

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने तथ्यों को आधार बनाते हुए चिंता जाहिर की है कि राज्य 2044 नहीं तो 2051 तक मुस्लिम बहुल हो जाएगा।

5 साल में 123% तक बढ़ गए मुस्लिम वोटर, फैक्ट फाइडिंग रिपोर्ट से सामने आई झारखंड की 10 सीटों की जमीनी हकीकत: बाबूलाल का...

झारखंड की 10 विधानसभा सीटों के कई मुस्लिम बहुल बूथ पर 100% से अधिक वोटर बढ़ गए हैं। यह खुलासा भाजपा की एक रिपोर्ट में हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -