Thursday, May 23, 2024
Homeराजनीतिलोकसभा चुनाव 2024: बंगाल में हिंसा के बीच देश भर में दूसरे चरण का...

लोकसभा चुनाव 2024: बंगाल में हिंसा के बीच देश भर में दूसरे चरण का मतदान संपन्न, 61%+ वोटिंग, नॉर्थ ईस्ट में सर्वाधिक डाले गए वोट

त्रिपुरा पूर्व सीट पर सबसे ज्यादा 78.53% फीसदी मतदान दर्ज किया गया है। वहीं, सबसे कम 45.94% वोटिंग मध्य प्रदेश की रीवा पर सीट पर हुई है।

लोकसभा चुनाव 2024 में दूसरे चरण के लिए मतदान समाप्त हो गया है। देश के 13 राज्यों की 88 लोकसभा सीटों पर मतदान हुआ। ये मतदान 89 सीटों पर होना था, लेकिन मध्य प्रदेश की बैतूल लोकसभा सीट पर बीएसपी कैंडिडेट के निधन की वजह से मतदान नहीं कराया गया, यहाँ मतदान 7 मई को कराया जाएगा। हालाँकि जिन 88 लोकसभा सीटों पर मतदान हुआ, वहाँ 61.4% प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में सर्वाधिक मतदान प्रतिशत दर्ज किया गया, तो पश्चिम बंगाल में हिंसा की कभरें आई। वहीं, संदेशखाली में भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए, जिसके बाद एनएसजी तक को तैनात करना पड़ा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिन 88 सीटों पर शुक्रवार को वोटिंग हुई है उनमें अभी तक के आँकड़े के अनुसार, त्रिपुरा पूर्व सीट पर सबसे ज्यादा 78.53% मतदान दर्ज किया गया है। वहीं, सबसे कम 45.94% वोटिंग मध्य प्रदेश की रीवा पर सीट पर हुई है। वहीं, छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के 102 गाँवों में पहली बार लोकसभा के लिए मतदान हुआ।

आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में त्रिपुरा में सर्वाधिक 77.97 प्रतिशत मतदान दर्ज किया। इसके अलावा असम में 70.68 प्रतिशत, बिहार में 54.17 प्रतिशत, छत्तीसगढ़ में 72.51 प्रतिशत, जम्मू और कश्मीर में 67.22 प्रतिशत, कर्नाटक में 64.57 प्रतिशत, केरल में 65.04 प्रतिशत, मध्य प्रदेश में 55.32 प्रतिशत, महाराष्ट्र में 53.71 प्रतिशत, मणिपुर में 77.18 प्रतिशत, राजस्थान में 60.06 प्रतिशत, उत्तर प्रदेश में 53.17 प्रतिशत और पश्चिम बंगाल में 71.84 प्रतिशत मतदान हुआ है।

इन राज्यों में हुआ मतदान

बता दें कि लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में केरल की (20) सीटों, कर्नाटक (14), राजस्थान (13), महाराष्ट्र (8), उत्तर प्रदेश (8), मध्य प्रदेश (7), असम (5), बिहार (5) हैं, तो छत्तीसगढ़ (3), पश्चिम बंगाल (3), मणिपुर, त्रिपुरा और जम्मू-कश्मीर में 1-1 सीट पर मतदान कराया गया। साल 2019 के लोकसभा चुनाव में इन 88 में से 52 सीटें भाजपा ने जीतीं थीं। वहीं कांग्रेस को 18 और शिवसेना और जदयू को चार-चार सीटों पर सफलता मिली थी। इसके अलावा 10 सीटें अन्य के खाते में गई थी।

लोकसभा चुनाव के इस दूसरे चरण में राहुल गाँधी, हेमा मालिनी, अरुण गोविल, ओम बिरला, एचडी कुमारस्वामी, शशि थरूर और राजीव चंद्रशेखर जैसे नामचीनों का भाग्य ईवीएम में बंद हो गया। इस चरण में 5 केंद्रीय मंत्री चुनाव मैदान में हैं, जिसमें केरल की अटिंगल सीट से वी. मुरलीधरन, केरल की तिरुवनंतपुरम सीट से राजीव चंद्रशेखर, राजस्थान की जोधपुर लोकसभा सीट से केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, राजस्थान के बाड़मेर से केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी और बेंगलुरु उत्तर सीट से केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे चुनाव मैदान में हैं। 

पश्चिम बंगाल में हिंसा, एनएसजी की तैनाती, भारी हथियार बरामद

केन्द्रीय जाँच ब्यूरो (CBI) ने पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में बड़ी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद हुए। बताया जा रहा है कि यहाँ से उसे विदेश में बने हथियार तक बरामद हुए हैं। CBI की टीम केन्द्रीय सुरक्षा बलों के साथ यहाँ पहुँची। शाहजहाँ के एक करीबी हफीजुल खान के घर से यह हथियार बरामद किए गए हैं। हफीजुल भी तृणमूल कॉन्ग्रेस का नेता बताया जा रहा है। यहाँ हालात बिगड़ने पर एनएसजी तक को तैनात किया गया। इसके अलावा वोटिंग के दौरान पश्चिम बंगाल में कई जगहों पर हिंसा की खबरें आईं।

इसके अलावा तृणमूल कॉन्ग्रेस ने आरोप लगाया कि बंगाल की दो लोकसभा सीटों बालूरघाट और रायगंज में सेंट्रल फोर्सेस ने महिलाओं को वोटिंग से रोका। वहीं, बालूरघाट में बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार और तृणमूल कॉन्ग्रेस वर्कर्स के बीच झड़प भी हुई।

मणिपुर में ईवीएम तोड़ा, हंगामा

आउटर मणिपुर में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में उखरुल जिले के मतदान केंद्र 44/36 और 44/41 पर उपद्रवियों ने ईवीएम मशीन और वीवीपैट को नष्ट कर दिया। आउटर मणिपुर (एसटी) संसदीय क्षेत्र के उखरुल के सहायक रिटर्निंग अधिकारी कजलाई गंगमेई ने रिटर्निंग ऑफिसर को सूचना दी कि बदमाशों ने दोपहर करीब 3.40 बजे मतदान केंद्रों 44/36 और 44/41 पर ईवीएम और वीवीपैट को नष्ट कर दिया है।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव 2024 के लिए 7 चरणों में मतदान कराया जा रहा है। पहले चरण के लिए 19 अप्रैल को मतदान कराया गया था। दूसरे चरण के लिए शुक्रवार (26 अप्रैल 2024) को संपन्न हो गया। अभी 5 चरणों में मतदान कराया जाना और नतीजे 4 जून को सामने आएँगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रोहिणी आचार्य के पहुँचने के बाद शुरू हुई हिंसा, पूर्व CM का बॉडीगार्ड लेकर घूम रही थीं: बिहार पुलिस ने दर्ज की 7 FIR,...

राबड़ी आवास पर उपस्थित बॉडीगार्ड और पुलिसकर्मियों से पूरे मामले में पूछताछ की इस दौरान विशेष अधिकारी मौजूद रहे।

मी लॉर्ड! भीड़ का चेहरा भी होता है, मजहब भी होता है… यदि यह सच नहीं तो ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारों के साथ ‘काफिरों’ पर...

राजस्थान हाईकोर्ट के जज फरजंद अली 18 मुस्लिमों को जमानत दे देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि चारभुजा नाथ की यात्रा पर इस्लामी मजहबी स्थल के सामने हमला करने वालों का कोई मजहब नहीं था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -