Sunday, October 17, 2021
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृतिभगवान राम के स्वागत में सजी-सँवरी अयोध्या नगरी: इन 15 तस्वीरों में देखिए साकेत...

भगवान राम के स्वागत में सजी-सँवरी अयोध्या नगरी: इन 15 तस्वीरों में देखिए साकेत की सुंदरता

श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने इन तस्वीरों को शेयर करते हुए तुलसीदास के रामचरितमानस की पंक्ति 'रामराज्य बैठे त्रैलोका। हरषित भये गए सब सोका॥' की चर्चा करते हुए लिखा कि...

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की औपचारिक शुरुआत आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भूमिपूजन के साथ ही हो जाएगी। इसके लिए पूरी अयोध्या नगरी को सजाया गया है। जलाशयों से लेकर सड़कों तक को सजाया गया है। पूरा शहर जगमग हो रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ख़ुद सारी तैयारियों पर नज़र रखी थी। नीचे इन तस्वीरों में आप जगमग अयोध्या नगरी को देख सकते हैं, जो भगवान राम के मंदिर के स्वागत के लिए तैयार है:

श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने इन तस्वीरों को शेयर करते हुए तुलसीदास के रामचरितमानस की पंक्ति ‘रामराज्य बैठे त्रैलोका। हरषित भये गए सब सोका॥‘ की चर्चा करते हुए लिखा कि श्री रामजन्मभूमि मन्दिर निर्माण कार्य के शुभारंभ की पूर्व संध्या पर अयोध्या नगरी सज-धज कर वैसे ही तैयार है, जैसे त्रेता में वनवास पश्चात भगवान के शुभागमन पर हुई थी। अयोध्या नगरी दीपोत्सव की अद्भुत छटा से दैदीप्यमान है।

अयोध्या में होने वाले राम मंदिर भूमि पूजन की तैयारियाँ लगभग पूरी हो चुकी हैं। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की भूमिका इस पूरी प्रक्रिया में अहम है। ख़बरों के मुताबिक़ ट्रस्ट लोगों से दान और आर्थिक सहयोग भी लेने वाला है। चाहे वह राशि के तौर पर हो या किसी वस्तु का दान हो। इसके लिए कोई नियम नहीं होगा, श्रद्धालु अपनी-अपनी श्रद्धा से दान कर सकेंगे। 

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe