Friday, May 31, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजन'तुम भी मर जाओ' से लगा सदमा: सिद्धार्थ शुक्ला की मौत के बाद 'बिग...

‘तुम भी मर जाओ’ से लगा सदमा: सिद्धार्थ शुक्ला की मौत के बाद ‘बिग बॉस’ की एक्स कंटेस्टेंट जसलीन अस्पताल में भर्ती, वीडियो वायरल

"मैं सिड के घर पर गई थी, जहाँ माहौल बेहद गमगीन ​था। इस दौरान में आंटी (सिद्धार्थ शुक्ला की माँ) और शहनाज की हालात देखकर बहुत दुखी हुई। दोनों से मिलकर जब मैं अपने घर पर आई तो मैंने इंस्टाग्राम पर मैसेज पढ़ा, 'तुम भी मर जाओ'।"

टीवी एक्टर व ‘बिग बॉस 13’ के विजेता सिद्धार्थ शुक्ला की मौत के गम से अभी तक उनके फैंस बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। वे अब तक यकीन नहीं कर पा रहे हैं कि सिद्धार्थ शुक्ला अब इस दुनिया में नहीं हैं। इसी बीच ‘बिग बॉस’ की एक्स कंटेस्टेंट जसलीन मथारू के अस्पताल में भर्ती होने की खबर सामने आई है। जसलीन मथारू ने सोमवार (6 सितंबर) को अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह अस्पताल में बेड पर बीमार हालत में लेटी हुई नज़र आ रही हैं।

वीडियो में जसलीन मथारू ने बताया कि सिद्धार्थ शुक्ला मौत की खबर सुनने के बाद वह शॉक्ड हो गई थीं। उन्होंने बताया, “मैं सिड के घर पर गई थी, जहाँ माहौल बेहद गमगीन ​था। इस दौरान में आंटी (सिद्धार्थ शुक्ला की माँ) और शहनाज की हालात देखकर बहुत दुखी हुई। दोनों से मिलकर जब मैं अपने घर पर आई तो मैंने इंस्टाग्राम पर मैसेज पढ़ा, ‘तुम भी मर जाओ’।”

जसलीन ने आगे बताया, “ऐसे मैसेज से मैं पहली बार प्रभावित हुई। पहली बार मुझ पर इसका असर हुआ और मैं इसे बर्दाश्त नहीं कर पाईं। इसकी वजह से मेरी तबीयत खराब हो गई, जिसके बाद मुझे अस्पताल में भर्ती करवाया गया। मुझे कल रात को 104 डिग्री बुखार था, लेकिन अब मैं ठीक महसूस कर रही हूँ। आप लोग भी अपना ध्यान रखिए।” सोशल मीडिया पर जसलीन का यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, लोग उन्हें जल्दी ठीक होने की शुभकामनाएँ दे रहे हैं।

बता दें कि 2 सितंबर को 40 वर्षीय अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला की हार्ट अटैक की वजह से मौत हो गई थी। सिद्धार्थ को सबसे पहले लोगों ने कलर्स टीवी के मशहूर शो ‘बालिका वधू’ में देखा था। इस शो के साथ ही वो हर घर की पसंद बन गए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -