Thursday, June 30, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनसलमान खान का धमकी मिलने से इनकार: सलीम खान को बेंच पर मिला था...

सलमान खान का धमकी मिलने से इनकार: सलीम खान को बेंच पर मिला था लेटर, मुंबई पुलिस ने दर्ज की थी FIR

दरअसल, लॉरेंस बिश्नोई ने 1998 में फिल्म ‘हम साथ साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान काले हिरण के शिकार मामले को लेकर सलमान खान को धमकी दी थी। इस वक्त लॉरेंस बिश्नोई तिहाड़ जेल में बंद है, जहाँ उसका नाम पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या में सामने आया है।

बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान (Salman Khan) ने धमकी भरा लेटर मिलने के मामले में बड़ा बयान दिया है। उन्होंने मंगलवार (7 जून 2022) को पुलिस के दिए अपने बयान में कहा कि उन्हें किसी भी व्यक्ति से धमकी, धमकी भरा कॉल और लेटर नहीं मिला है। दरअसल, 5 जून की ​शाम को सलमान और उनके पिता सलीम खान को एक लेटर मिलने की खबर आई थी, जिसमें दोनों को जान से मारने की धमकी दी गई थी। लेटर में हिंदी में लिखा गया था कि उन्हें और उनके बेटे सलमान खान को सिद्धू मूसेवाला की तरह ही मौत के घाट उतार दिया जाएगा। इसके साथ ही लेटर में एलबी (लॉरेस बिश्नोई) और जीबी (गोल्डी बरार) के साइन भी थे।

पुलिस के अनुसार, जब धमकी भरा लेटर मिला था, उस वक्त सलमान खान दुबई में थे। वहाँ पर आईफा 2022 का आयोजन किया गया था। सलीम खान को यह लेटर एक बेंच पर मिला, जहाँ वह रोजाना सुबह टहलने के बाद बैठते हैं।

सिद्धू की हत्या के छह दिनों बाद ही सलीम खान को यह लेटर सुबह साढ़े सात से आठ बजे के करीब अपने और सलमान के नाम से मिला था, जिसके बाद बांद्रा पुलिस ने एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज आगे की जाँच शुरू कर दी थी। लेटर सामने आने के बाद यह भी खबर सामने आई थी कि महाराष्ट्र गृह मंत्रालय के आदेश पर सलमान खान के घर के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनात की गई है।

गौरतलब है कि लॉरेंस बिश्नोई ने 1998 में फिल्म ‘हम साथ साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान काले हिरण के शिकार मामले को लेकर सलमान खान को धमकी दी थी। इस वक्त लॉरेंस बिश्नोई तिहाड़ जेल में बंद है, जहाँ उसका नाम पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या में सामने आया है और उससे दिल्ली व पंजाब पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

उत्तराखंड में चलती कार में महिला और उसकी 5 साल की बच्ची से गैंगरेप, BKU (टिकैत गुट) के सुबोध काकरान और विक्की तोमर सहित...

उत्तराखंड के रुड़की में महिला और उसकी पाँच साल की बच्ची से गैंगरेप के आरोप में टिकैत गुट के नेता समेत पाँच गिरफ्तार कर लिए गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,188FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe