Saturday, December 4, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनचोरी करके बनाया गया दीपिका पादुकोण का Levi's जीन्स वाला विज्ञापन? Yeh Ballet ...

चोरी करके बनाया गया दीपिका पादुकोण का Levi’s जीन्स वाला विज्ञापन? Yeh Ballet के डायरेक्टर ने लगाया आरोप

दीपिका पादुकोण का एड 26 फरवरी 2021 को रिलीज हुआ जबकि नेटफ्लिक्स पर Yeh Ballet पिछले साल आ चुकी है। एड में फिल्म के सेट को ही कॉपी करने की कोशिश की गई है और...

JNU में पीआर स्टंट करने के बाद तमाम आरोपों से घिरी दीपिका पादुकोण एक बार फिर चर्चा में हैं। दरअसल, इस बार नेटफ्लिक्स फिल्म ‘Yeh Ballet’ के निर्देशक सूनी तारापोरवाला (Sooni Taraporevala) ने लेवाइस जींस के उस विज्ञापन पर प्लेगरिज्म पर आरोप लगाया है, जिसमें दीपिका पादुकोण स्टार चेहरा हैं।

इंस्टाग्राम पर अपनी बात रखते हुए तारापोरवाला ने लिखा, “हाल ही में मेरा ध्यान इस एड की तरफ गया। मैं इसमें अपनी फिल्म Yeh Ballet का सेट देख कर चौंक गई। इस एड का क्रिएशन शैलजा शर्मा ने किया था और शूट खत्म होने के बाद इस सेट को तोड़ दिया गया था। एड में हमारे इस सेट को ही कॉपी करने की कोशिश की गई है।”

सूनी तारापोरवाला (Sooni Taraporevala) ने बताया कि ऐसा कोई स्टूडियो मुंबई में नहीं था, इसलिए इस विज्ञापन के डायरेक्टर ने इसे देखा और हमारे सेट को प्लेगराइज किया।

वह कहती हैं कि क्या ब्रांड और इस एड के डायरेक्टर विदेशों में बिना परमिशन के ऐसा करने की सोच सकते हैं। क्या अगर उनके खुद के क्रिएटिव वर्क के साथ ऐसा किया जाएगा, तो वे इसे बर्दाश्त करेंगे? ये एक बौद्धिक चोरी है। शैलजा शर्मा को अपने क्रिएटिव वर्क का ऐसा हश्र देख, पता नहीं कैसा लग रहा होगा।

सूनी लिखती हैं कि भारत में कॉपी-कैट कल्चर समाप्त होना चाहिए, इसे निरस्त किया जाना चाहिए। उन्होंने गुस्से में पूछा – “आप सोचते हैं कि एक विदेशी प्रोडक्शन कंपनी और निर्देशक बेहतर जानते होंगे। क्या आपके पास रचनात्मकता नहीं है? क्या सोच रहे थे आप?”

बता दें कि दीपिका पादुकोण का एड 26 फरवरी 2021 को रिलीज हुआ था और नेटफ्लिक्स पर Yeh Ballet पिछले साल आ चुकी है। इस विवाद पर लिवाइस जींस के लिए इस एड की प्रोडक्शन डिजाइनर रुपिन सूचक ने कहा है कि एड के डायरेक्टर नाडिया मर्कार्ड ओटजेन Yeh Ballet जैसा ही सेट चाहते थे। इसलिए ये सेट बनाया गया। इस मामले पर दीपिका पादुकोण की ओर से अभी कोई रिएक्शन नहीं आया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘आतंक का कोई मजहब नहीं होता’ – एक आदमी जिंदा जला कर मार डाला गया और मीडिया खेलने लगी ‘खेल’

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फैलाया जा रहा प्रोपगेंडा जिन स्थानीय खबरों पर चल रहा है उनमें बताया जा रहा है कि ये सब अराजक तत्वों ने किया था, इस्लामी भीड़ ने नहीं।

‘महिला-पुरुष की मालिश का मतलब यौन संबंध नहीं होता, इस पर कार्रवाई से परहेज करें’: HC ने दिल्ली सरकार को फटकारा

दिल्ली सरकार स्पा में क्रॉस-जेंडर मसाज पर रोक लगा चुकी है। इसके अलावा रिहायशी इलाकों में नए मसाज सेंटर खोलने पर भी रोक लगा दी गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,510FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe