Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाजजैकलीन फर्नांडीस को तिहाड़ जेल से कॉल करता था सुकेश चंद्रशेखर, भेजता था चॉकलेट...

जैकलीन फर्नांडीस को तिहाड़ जेल से कॉल करता था सुकेश चंद्रशेखर, भेजता था चॉकलेट और फूल: रैकेट पर ED ने कसा शिकंजा

बेंगलुरु पुलिस ने जब सुकेश को पहली बार पकड़ा था, तब उसकी उम्र सिर्फ 17 साल थी। उस दौरान उसने कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्‍वामी के बेटे का दोस्‍त बनकर एक परिवार से 1.14 करोड़ रुपए ठगे थे।

मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने 30 अगस्त 2021 को बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीस से कई घंटों तक पूछताछ की थी। अब मीडिया रिपोर्टों से यह बात सामने आई कि कॉनमैन सुकेश चंद्रशेखर तिहाड़ जेल के भीतर से उनको कॉल करता था। उन्हें महँगे फूल और चॉकलेट भेजता था। बताया जाता है कि सुकेश तिहाड़ के भीतर से ही करीब 200 करोड़ रुपए की रंगदारी वसूल चुका है।

ईडी से जुड़े सूत्रों के अनुसार, सुकेश चंद्रशेखर तिहाड़ जेल के अंदर से स्पूफिंग के जरिए जैकलिन फर्नांडीस को कॉल करता था। वह अपनी पहचान सुकेश चंद्रशेखर की बजाय कुछ और बताता था। उसने जैकलीन को फोन पर बताया वह रसूखदार और बड़े ओहदे पर है। सूत्रों के मुताबिक, “जब जैकलीन उसके झाँसे में आ गई, तो उसने उन्हें महँगे फूल और चॉकलेट भेजना शुरू कर दिया।”

ईडी के अधिकारियों के पास सुकेश के दो दर्जन से अधिक कॉल रिकॉर्ड हैं, जिसके आधार पर वे जैकलीन के साथ हुई धोखाधड़ी के बारे में पता लगाने में सफल रहे। हालाँकि, जाँच एजेंसी ने सुरक्षा कारणों से यह खुलासा नहीं किया है कि सुकेश खुद को क्या बताकर एक्ट्रेस से बातचीत करता था। बताया जा रहा है कि सुकेश ने तिहाड़ जेल से कॉल स्पूफिंग के जरिए एक और मशहूर अभिनेत्री को निशाना बनाने की कोशिश की थी।

गौरतलब है कि ईडी ने सोमवार (30 अगस्त) को मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े एक मामले में चेन्‍नई का एक बंगला और कुछ लग्‍जरी कारें सीज की थी। यह कार्रवाई सुकेश चंद्रेशखर नाम के ठग के खिलाफ दर्ज मनी लॉन्ड्रिंग के केस में की गई थी। चंद्रशेखर पर तिहाड़ जेल के अंदर से फिरौती रैकेट चलाने का आरोप है। जाँच एजेंसियों के मुताबिक, तिहाड़ जेल में बंद रहते हुए सुकेश ने 190-200 करोड़ रुपए की फिरौती वसूली।

बता दें कि बेंगलुरु से आने वाले सुकेश चंद्रेशखर को अय्याश जिंदगी जीने के शौक ने शातिर ठग बना दिया। बेंगलुरु पुलिस ने जब सुकेश को पहली बार पकड़ा था, तब उसकी उम्र सिर्फ 17 साल थी। उस दौरान उसने कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्‍वामी के बेटे का दोस्‍त बनकर एक परिवार से 1.14 करोड़ रुपए ठगे थे। बेंगलुरु में जब उसकी पोल खुलने लगी तो वह चेन्‍नई भाग गया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,782FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe