Tuesday, October 19, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजनजो फिल्म हुई हिट, मेघना गुलजार ने उसके लेखक का क्रेडिट छीन लिया: हटाया...

जो फिल्म हुई हिट, मेघना गुलजार ने उसके लेखक का क्रेडिट छीन लिया: हटाया था फिल्म फेयर से भी नाम

लेखक का नाम फिल्म फ़ेयर से हटाया गया। लेखक को जयपुर लिटरेचर फेस्ट में जाने से रोका गया। जब बात ओरिजिनल स्टोरी को अवॉर्ड मिलने की आई तो भी अंधाधुंध को वो अवॉर्ड दे दिया गया, जो फ्रेंच मूवी की कॉपी थी।

बॉलीवुड फिल्ममेकर मेघना गुलज़ार एक बार फिर राज़ी फ़िल्म को लेकर विवादों में आ गई हैं। दरअसल साल 2018 में आई इस फ़िल्म की कहानी को लिखने वाले लेखक हरिंदर सिक्का ने उन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। 

सिक्का का कहना है कि गुलज़ार ने पूरी फिल्म का क्रेडिट पाने के लिए उनके साथ ज्यादतियाँ कीं। उनका कहना है कि उनका नाम फिल्म फ़ेयर से हटाया गया। उन्हें जयपुर लिटरेचर फेस्ट में जाने से रोका गया। साथ ही उनकी बुक भी समय पर पब्लिश नहीं होने दी गई।

रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए सिक्का ने कई खुलासे किए। उन्होंने बॉलीवुड लॉबी पर बात करते हुए कहा कि उनके पास इस बात के सबूत हैं कि जयपुर लिटरेचर फेस्ट से एक शख्स के कहने पर उन्हें हटाया गया। उन्होंने जयपुर लिटरेचर फेस्ट हेड की स्टेटमेंट भी ऑन टीवी पढ़ी। जिसमें हेड ने कहा था कि 35 साल के करियर में कभी भी किसी एक व्यक्ति का नाम हटाने के लिए उन पर इतना दबाव नहीं बनाया गया। 

उन्होंने बताया कि उनका नाम हर जगह से हटाया गया और जब बात ओरिजिनल स्टोरी को अवॉर्ड मिलने की आई तो भी अंधाधुंध को वो अवॉर्ड दे दिया गया, जो फ्रेंच मूवी की कॉपी थी।

अपनी बात रखते हुए उन्होंने छपाक फ़िल्म में लक्ष्मी अग्रवाल की वकील के साथ हुई नाइंसाफी को भी गौर करवाया। उन्होंने कहा कि उनका इस इंडस्ट्री से कोई लेना देना नहीं है। वो बहुत बढ़िया क्षेत्र से आते हैं। लेकिन आज वो ये सब सिर्फ़ इसलिए बता रहे हैं क्योंकि उनके साथ भी ये सब बाहरी होने के कारण किया गया।

उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व गुलज़ार पर सिक्का ने उनकी स्टोरी के साथ जस्टिस न कर पाने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि अगर मेघना गुलजार उनकी लिखी कहानी के साथ न्याय करतीं तो फिर इस फ़िल्म को राष्ट्रीय अवार्ड जरूर मिलता।

सिक्का का कहना था कि फिल्म को राष्ट्रीय पुरस्कार जीतना चाहिए था। लेकिन उन्हें लगता है कि मेघना ने उन्हें धोखा दिया है। उनके मुताबिक निर्देशक ने वादा किया था कि वह उनकी कहानी के साथ छेड़छाड़ नहीं करेंगी। बावजूद इसके छेड़छाड़ हुई। जिसके कारण वह अब भी दुखी होते हैं।

बता दें कि मेघना गुलजार के निर्देशन में बनी राज़ी फिल्म साल 2018 में आई थी। इसे सिक्का की मशहूर किताब ‘कॉलिंग सहमत’ की कहानी पर बनाया गया था। इस फिल्म में आलिया भट्ट और विक्की कौशल ने अभिनय किया था। बॉक्स ऑफिस पर धमाकेदार कमाई करने वाली इस फिल्म को लेकर सिक्का ने प्रतिक्रिया में कहा था कि उन्हें इस किताब को लिखने में 8 साल लगे। लेकिन फिल्म बनने के बाद लगा कि उन्होंने निर्माता को चुनने में गलती कर दी, जो इस कहानी को घर-घर पहुँचाने में नाकामयाब रही।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

सूरत में मंदिरों-घर की छत पर लाउडस्पीकर, सुबह-शाम हनुमान चालीसा; शनिवार को सत्संग भी: धर्म के लिए हिंदू हुए लामबंद

सूरत में आठ महीने पहले लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा की हुई शुरुआत ने कैसे हिंदुओं को जोड़ा, इसका संदेश कितना गहरा हुआ, पढ़िए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe