Monday, December 5, 2022
Homeविविध विषयमनोरंजनकमाल की विकिपीडिया! 55 साल के मिलिंद सोमन को 2020 में पैदा किया, वो...

कमाल की विकिपीडिया! 55 साल के मिलिंद सोमन को 2020 में पैदा किया, वो भी 2 बार; नंगा दौड़ा केस भी कराया

मिलिंद के ट्वीट पर उनकी पत्नी अंकिता कहती हैं, "हाहाहा, वैसे अगर न्यूज चैनलों को ये नहीं पड़ी है कि वो जानकारियों को सत्यापित करें। तो विकी को क्या जरूरत पड़ी है। विकी के हिसाब से मैं इस साल 20 की हो जाऊँगी।"

बॉलीवुड एक्टर व मॉडल मिलिंद सोमन ने कल (जुलाई 28, 2021) सोशल मीडिया पर विकिपीडिया की गलती उजागर की। उन्होंने स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए दिखाया कि कैसे विकिपीडिया पर उनके जन्मदिन को लेकर एक नहीं दो-दो तारीखें मौजूद हैं। अपने ट्वीट में वह पूछते हैं कि क्या किसी ने विकिपीडिया को हैक कर लिया है।

मिलिंद अपने ट्वीट में लिखते हैं, “क्या किसी ने विकिपीडिया को हैक कर लिया है? गजब बात है मैं पिछले ही साल दो अलग-अलग तारीखों पर पैदा हुआ।”

एक्टर द्वारा शेयर किए गए स्क्रीनशॉट में देख सकते हैं कि विकिपीडिया पोस्ट में उनका जन्मदिन 4 नवंबर 2020 और 28 जुलाई 2020 दिखाया गया, जबकि हकीकत में 55 वर्षीय मिलिंद की बर्थडेट 4 नवंबर 1965 है। हाल में वह अपनी इंस्टाग्राम पर न्यूड तस्वीर डालने के कारण चर्चा में आए थे।

मिलिंद ने अपने ट्वीट में विकी पेज पर मौजूद अन्य गलतियाँ भी गौर करवाईं। वह गलती पर सर्कल करते हैं जहाँ लिखा है कि गोवा बीच पर न्यूड दौड़ लगाने की वजह से मिलिंद के खिलाफ आईपीसी की धारा- 294 और आईटी एक्ट की धारा 67 के तहत केस दर्ज किया गया है। मिलिंद इस पेज को शेयर करते हुए लिखते हैं, “हाँ, मैं दौड़ा था और वह तस्वीर मेरे इंस्टाग्राम पेज पर भी है भी, लेकिन केस दर्ज?”

बता दें कि इस ट्वीट पर उनके फैन्स की अलग-अलग प्रतिक्रिया आ रही है। वहीं उनकी पत्नी अंकिता कोंवार ने भी इस ट्वीट पर रिप्लाई किया है। उन्होंने लिखा, “हाहाहा, वैसे अगर न्यूज चैनल को ये नहीं पड़ी है कि वो जानकारियों को सत्यापित करें। तो विकी को क्या जरूरत पड़ी है। विकी के हिसाब से मैं इस साल 20 की हो जाऊँगी।”

गौरतलब है कि अंकिता कोंवार अभी अपने एक पोस्ट को लेकर खासी चर्चा में हैं। इसमें उन्होंने लिखा था, ”अगर आप नॉर्थ ईस्ट इंड‍िया से हैं तो तभी भारतीय हो सकते हैं जब आप देश के लिए मेडल जीतकर लाते हैं। वरना आपको चिंकी, चाइनीज, नेपाली या अब एक नया एडिशन कोरोना के नाम से जाना जाता है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिका का पैसा और सिक्योरिटी, चीन का लैब… ऐसे लीक हुआ कोरोना वायरस: वुहान में काम कर चुके वैज्ञानिक की किताब में खुलासा –...

एंड्रयू हफ ने चीन में WIV में काम किया था। उनका दावा है कि कोविड-19 एक मानव निर्मित वायरस है, जो WIV से लीक हो गया था। किताब में खुलासा।

हवाई सफर हुआ आसान, अब करिए Digi Yatra: आपका चेहरा ही बोर्डिंग पास, जानिए FRT का कब-कहाँ-कैसे मिलेगा फायदा

डिजी यात्रा (Digi Yatra)। डिजी यात्रा सेंट्रल इकोसिस्टम (DYCE)। चेहरा पहचान प्रणाली (FRT)। यदि हवाई यात्रा करते हैं तो इन शब्दों से नाता जोड़ लीजिए, क्योंकि अब चेहरा ही आपका बोर्डिंग पास है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,909FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe