Wednesday, May 22, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनस्वरा भास्कर के साथ फिल्म बना रहे थे विवेक अग्निहोत्री, शूटिंग से ठीक पहले...

स्वरा भास्कर के साथ फिल्म बना रहे थे विवेक अग्निहोत्री, शूटिंग से ठीक पहले कर दी छुट्टी: ‘द कश्मीर फाइल्स’ के निर्देशक ने खुद बताई वजह

स्वरा ने 'द कश्मीर फाइल्स' को लेकर भी अग्निहोत्री की आलोचना की थी। उन्होंने ट्वीट किया था, “अगर आप चाहते हैं कि लोग आपको सफलता के लिए आपकी मेहनत को बधाई दे तो पहले बीते 5 साल में उनके सिर पर बैठकर गंदगी नहीं फैलाना चाहिए था।”

‘द कश्मीर फाइल्स’ के निर्देशक विवेक अग्निहोत्री और ‘अनारकली ऑफ आरा’ की अभिनेत्री स्वरा भास्कर की तकरार आपने कई बार सोशल मीडिया में देखी होगी। पर आप शायद ही जानते हों कि कभी स्वरा भास्कर के साथ अग्निहोत्री फिल्म बनाने जा रहे थे। लेकिन शूटिंग से पहले उन्होंने बॉलीवुड की इस लिबरल अदाकारा को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। इसकी वजह अग्निहोत्री ने एक हालिया इंटरव्यू में बताई है।

विवेक अग्निहोत्री ने Lehren को दिए इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने फिल्म ‘बुद्धा इन अ ट्रैफिक जाम’ के लिए स्वरा भास्कर को साइन किया था। लेकिन लास्ट मिनट पर उन्हें रिप्लेस कर दिया गया। उन्होंने कहा, “हमारे उस (फिल्म) के लिए स्वरा भास्कर थी। स्वरा वह फिल्म कर रही थी। शूटिंग से एक दिन पहले, मैं हैदराबाद के लिए उड़ान भर रहा था और मेरे निर्माता ने कहा कि अगर कोई फिल्म से पहले इतने नखरे दिखाती है तो फिल्म के बाद यह काफी मुश्किल होने वाला है। इसलिए हमने उन्हें आखिरी मिनट में रिप्लेस कर दिया।” नीचे के वीडियो में आप यह बात 25वें मिनट से सुन सकते हैं।

बताया जाता है कि इसी घटना के बाद से ही स्वरा और विवेक के बीच अच्छे रिश्ते नहीं हैं। दोनों अक्सर सोशल मीडिया पर भिड़ते रहते हैं। स्वरा ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर भी अग्निहोत्री की आलोचना की थी। उन्होंने ट्वीट किया था, “अगर आप चाहते हैं कि लोग आपको सफलता के लिए आपकी मेहनत को बधाई दे तो पहले बीते 5 साल में उनके सिर पर बैठकर गंदगी नहीं फैलाना चाहिए था।” स्वरा का ये ट्वीट तब आया था, जब लोग बॉलीवुड सेलेब्स से ‘द कश्मीर फाइल्स’ को सपोर्ट करने की माँग कर रहे थे। हालाँकि ये ट्वीट स्वरा को ही भारी पड़ गया और वो सोशल मीडिया पर बुरी तरह ट्रोल हो गईं।

उल्लेखनीय है कि विवेक अग्निहोत्री हमेशा से लीक से हटकर सिनेमा बनाते रहे हैं। उनकी द कश्मीर फाइल्स ने नब्बे के दशक में हुए हिंदुओं के नरसंहार को आवाज देने का काम किया है। लेकिन एक तबके को यह रास नहीं आ रहा है। एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने तो कहा है कि इस फिल्म को प्रदर्शन की अनुमति ही नहीं मिलनी चाहिए थी। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले दिनों इस फिल्म को ‘झूठा’ करार दिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

जातिवाद, सांप्रदायिकता, परिवारवाद… PM मोदी ने देश को INDI गठबंधन की 3 बीमारियों से किया आगाह, कहा- ये कैंसर से भी अधिक विनाशक

पीएम मोदी ने कहा कि मोदी घर-घर पानी पहुँचा रहा है, सपा-कॉन्ग्रेस वाले आपके घर की पानी की टोंटी भी खोल कर ले जाएँगे और इसमें तो इनकी महारत है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -