Sunday, October 17, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन'तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी... तेरा मुँह काला हो जाएगा तो जाएगी कहाँ?' - तब...

‘तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी… तेरा मुँह काला हो जाएगा तो जाएगी कहाँ?’ – तब जावेद अख्तर ने कंगना से कहा था

"तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी क्योंकि तेरा मुँह काला हो जाएगा तो तू जाएगी कहाँ?" - जावेद अख्तर ने अपने घर पर बुला कर कंगना रनौत पर माफी माँगने का दबाव बनाया ताकि...

फ़िल्मी दुनिया के कुछ किरदार ऐसे हैं, जो बॉलीवुड के बारे में खुल कर अपना नज़रिया रखते हैं। इस कड़ी में सबसे मज़बूत नाम है, कंगना रनौत। कंगना ने पिछले कुछ समय में फ़िल्मी दुनिया के हर नकारात्मक पहलू पर बेबाक होकर अपना नज़रिया पेश किया है।

हाल ही में कंगना रनौत ने रिपब्लिक भारत को दिए साक्षात्कार में कई हैरान कर देने वाली बातें कही हैं। साक्षात्कार के दौरान ही कंगना ने जावेद अख्तर पर बेहद गंभीर आरोप लगाए।   

कंगना ने साक्षात्कार में कहा, “जावेद अख्तर ने मुझे अपने घर बुलाया। इसके बाद उन्होंने कहा कि अगर मैं ऋतिक रोशन से माफ़ी नहीं माँगी तो मुझे आत्महत्या करनी पड़ेगी।” जिसके बाद साक्षात्कार ले रहे अर्नब गोस्वामी ने कंगना को जवाब दोहराने के लिए कहा। दूसरी बार भी कंगना ने ठीक वही बात कही।   

कंगना ने बताया कि जावेद अख्तर ने उनसे क्या-क्या कहा था”

“तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी क्योंकि वह तुम्हें जेल में बंद कर देंगे। उन्होंने (ऋतिक रोशन) तुम्हारे खिलाफ़ सारे सबूत इकट्ठा कर लिए हैं। वह समझ चुके हैं कि केस पूरी तरह उनके हाथों में है।”

लेकिन बकौल कंगना, उन्हें समझ नहीं आया कि आखिर कौन से सबूतों की बात जावेद अख्तर कर रहे हैं। तब कंगना सोच में पड़ गई थीं क्या उन्होंने कोई चोरी की है? या उनका कुछ लिया है? कुछ देर सोचने के बाद कंगना ने जावेद से पूछा कि वो किन सबूतों की बात कर रहे हैं? और उन्होंने ऐसा क्या गलत किया है? इस सवाल पर जावेद अख्तर ने कहा, “तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी क्योंकि तेरा मुँह काला हो जाएगा तो तू जाएगी कहाँ?”

इसके अलावा कंगना रनौत के मामले पर आज ही एक बात सामने आई है। CS (चोपड़ा साहब) नाम के ट्विटर एकाउंट से एक ट्वीट किया गया। ट्वीट में ऐसा लिखा गया कि महेश भट्ट ने कंगना रनौत पर चप्पल फेंकी थी। और वो कंगना पर हमला भी करने वाले थे। ऐसा इसलिए क्योंकि कंगना ने उनकी एक फिल्म ठुकरा दी थी, जिसमें एक आत्मघाती आंतकी का महिमामंडन किया जाना था।   

इसी साक्षात्कार में बात करते हुए कंगना ने कुछ और अहम बातें कहीं। इसमें सबसे ज़्यादा उल्लेखनीय है सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर उनका बयान। इस पर कंगना ने कहा, 

“मुंबई पुलिस ने मुझे समन भेजा। मैंने उन्हें बताया कि मैं मनाली में हूँ। वह किसी को भेज कर मेरा बयान दर्ज करा सकते हैं लेकिन इसके बाद मुझसे किसी ने संपर्क नहीं किया। मैं खुद स्पष्ट करना चाहती हूँ अगर मैंने कुछ सार्वजनिक रूप से कहा है और अगर मैं इसे साबित नहीं कर सकी तो अपना पद्मश्री लौटा दूँगी।” उन्होंने कहा, “मैं ऐसी इंसान नहीं हूँ कि बस यूँ ही इतनी बड़ी बात सार्वजनिक रूप से कह दूँ।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe