Monday, June 17, 2024
Homeविविध विषयअन्यजिस हिरोइन से 'रेप' करना चाहता था मंसूर अली खान, उस पर अब तमिलनाडु...

जिस हिरोइन से ‘रेप’ करना चाहता था मंसूर अली खान, उस पर अब तमिलनाडु के नेता ने की गंदी बात: कहा- ₹25 लाख में आई… चेतावनी के बाद माँगी माफी

राजू ने कहा कि जब 2017 में उनकी पार्टी के भीतर विधायकों ने बगावत की थी तो इन विधायकों को कूवाथुर में स्थित गोल्डन बे रिजॉर्ट में ठहराया गया था। यहाँ पर पार्टी के विधायकों के मनोरंजन के इंतजाम हुए थे। यहीं तृषा को बुलाया गया था।

तमिलनाडु की अन्नाद्रमुक (AIADMK) पार्टी के पूर्व नेता एवी राजू ने दक्षिण फिल्मों की हिरोइन तृषा कृष्णन पर एक बेहद आपत्तिजनक बयान दिया, जिसे सुन अभिनेत्री भड़क गईं हैं। एक्ट्रेस ने पूर्व नेता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात कही है। पूरा मामला सोशल मीडिया पर वायरल है। लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं। अभिनेत्री ने भी उनकी आलोचना की है।

जानकारी के अनुसार, सालेम के नेता एवी राजू को AIADMK से 17 फरवरी को निकाल दिया गया था। इसके बाद पार्टी के खिलाफ उन्होंने मोर्चा खोल दिया। उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अभिनेत्री तृषा पर काफी आपत्तिजनक बयान दिया। राजू ने कहा कि जब 2017 में उनकी पार्टी के भीतर विधायकों ने बगावत की थी तो इन विधायकों को कूवाथुर में स्थित गोल्डन बे रिजॉर्ट में ठहराया गया था। यहाँ पर पार्टी के विधायकों के मनोरंजन के इंतजाम हुए थे।

उन्होंने इसी बयान में आगे कहा कि इस रिजॉर्ट में अभिनेत्री तृषा को भी बुलाया गया था। उन्होंने कहा कि अभिनेत्री तृषा को एक विधायक के कहने पर बुलाया गया था और उन्हें इसके लिए ₹25 लाख दिए गए थे। एक मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि एवी राजू के यह आरोप AIADMK के पूर्व विधायक वेंकटचालम पर हैं। उन्होंने तृषा को बुलाने के सम्बन्ध में कहा कि वेंकटचालम कोई युवा लड़की चाहते थे। एवी राजू ने यह सब इंतजाम करने के आरोप एक अन्य अभिनेता पर लगाए हैं। उनके इस बयान पर सोशल मीडिया पर खलबली मच गई और उनकी आलोचना हुई।

तृषा ने अपने ऊपर दिए गए बयान पर एक्स पर ट्वीट कर जवाब दिया, “मुझे यह देख कर बहुत पीड़ा होती है कि निचले और तुच्छ लोग ध्यानाकर्षण के किसी भी स्तर तक गिर सकते हैं। तुम चिंता ना करो, इस पर मैं कड़ी कार्रवाई करूँगी। जो भी कहा जाना था इस मामले में कहा जा चुका है, और अब मामला कानूनी रूप से देखा जाएगा।”

तृषा के इस जवाब के बाद एवी राजू ने तृषा से माफ़ी माँग ली। राजू ने कहा कि उन्होंने सिर्फ वह बताया जो उन्हें वेंकटचालम से पता चला था। उन्होंने कहा कि उनके बयान को गलत तरीक से पेश किया गया और अगर इससे किसी को दुख हुआ है तो वह इसके लिए माफ़ी माँगते हैं।

हालाँकि, अभी यह नहीं स्पष्ट हुआ है कि माफ़ी के बाद आगे तृषा की रणनीति क्या होगी। यह स्पष्ट है कि तृषा को इस मामले में बड़े स्तर पर समर्थन हासिल हुआ है। तृषा के समर्थन में FEFSI (फिल्म एम्प्लोयी फेडरेशन ऑफ साउथ इंडिया) ने भी एक आधिकारिक बयान जारी करके एवी राजू के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की माँग की है।

तृषा पर मंसूर अली खान का विवादित बयान

इससे पहले तृषा को लेकर दक्षिणी फिल्मों में काम करने वाले अभिनेता मंसूर अली खान ने भी विवादित बयान दिया था। मंसूर अली खान ने कहा था, “मुझे जब मालूम हुआ कि मैं तृषा के साथ काम कर रहा हूँ तो मुझे लगा कि यह एक बेडरूम सीन होगा। मुझे लगा कि मैं फिल्म में तृषा को उठाकर बेडरूम में ले जाऊँगा जैसा मैंने और भी कई अभिनेत्रियों के साथ पहले फिल्मों में किया है। मैंने पहले भी कई रेप सीन किए हैं और मेरे लिए यह कोई नई बात नहीं है। लेकिन, इन लोगों ने कश्मीर में शूटिंग के दौरान मुझे तृषा को देखने तक नहीं दिया।”

मंसूर ने यह बयान फिल्म विजय को लेकर दिया था, जिसमें वह और तृषा तथा विजय साथ में काम कर रहे थे। इसके बाद तृषा ने उन्हें करारा जवाब दिया था। तृषा ने ट्विटर पर लिखा था, “मेरी जानकारी में एक वीडियो आया है, जिसमें मंसूर अली खान मेरे बारे में उल्टी सीधी बातें कर रहे हैं। मुझे यह बयान स्त्री-विरोधी, रूढ़िवादी, अश्लील और भद्दा लगा। मैं इसकी निंदा करती हूँ। वो मेरे साथ काम करने की उम्मीद करते रह सकते हैं, लेकिन यह मेरी खुशकिस्मती रही है कि मैंने उनके जैसे नीच आदमी के साथ कभी काम नहीं किया है और कोशिश करूँँगी कि भविष्य में भी ना करूँ। उनके जैसे लोग मानवता पर दाग हैं।” इसके बाद इस मामले ने कानूनी रूप ले लिया था लेकिन उन पर एक अदालत ने ₹1 लाख का जुर्माना भी लगाया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -