Sunday, July 21, 2024
Homeविविध विषयअन्यअब अंबानी परिवार में नहीं होगा मुकेश-अनिल जैसा झगड़ा? बोले अनंत- मेरे लिए बहन...

अब अंबानी परिवार में नहीं होगा मुकेश-अनिल जैसा झगड़ा? बोले अनंत- मेरे लिए बहन माता जैसी, भाई राम… हम फेवीक्विक से जुड़े

अनंत अंबानी ने कहा, "मेरा भाई मेरा राम है। मेरी बहन मेरे लिए माता रानी के समान है। हमेशा ये लोग मेरी रक्षा करते हैं। ये लोग जैसा कहेंगे वैसा ही करूँगा। अगर हम एक दूसरे पर विश्वास रखेंगे तो कभी कोई तुलना नहीं होगी।"

मुकेश अंबानी के छोटे बेटे अनंत अंबानी इन दिनों खूब चर्चा में है। हाल में उन्होंने इंडिया टुडे के राहुल कंवल को इंटरव्यू दिया था। इस वीडियो में उन्होंने कई जगह ऐसी बातें कहीं जो अब भारत के लोगों का दिल जीत रही हैं। इस वीडियो में उन्होंने पशु प्रेम से लेकर हिंदू धर्म और गणेश भगवान में अपनी आस्था के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि आज जो कुछ भी उन लोगों के पास उसके निर्माणकर्ता उनके पिता मुकेश अंबानी हैं और माँ से उन्होंने ये सीखा है कि कैसे बेजुबानों की सेवा करके पुण्य कमाया जा सकता है। साथ ही बड़ी सहजता से ये बताया कि उनका रिश्ता उनके अपने भाई बहनों के साथ कैसा है।

44 मिनट के वीडियो में इंटरव्यू के दौरान 31 मिनट के पास जब उनसे पूछा गया कि उनके पिता और चाचा के बीच जो दरार आई, उसे लेकर क्या उन्हें कभी कोई चिंता सताती है। इस पर उन्होंने कहा, “मुझे बिलकुल ऐसी कोई चिंता नहीं है। मेरा भाई मेरा राम है। मेरी बहन मेरे लिए माता रानी के समान है। हमेशा ये लोग मेरी रक्षा करते हैं। ये लोग जैसा कहेंगे वैसा ही करूँगा। अगर हम एक दूसरे पर विश्वास रखेंगे तो कभी कोई तुलना नहीं होगी। हम फेवीक्विक जैसे एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। अगर आप आगे-पीछे वाले लोगों का सुनोगे तो कॉम्पिटिशन होगा। अगर विश्वास रहेगा तो ऐसा कुछ नहीं होगा।”

वीडियो में अनंत ने बताया कि वो गणेश भगवान के बहुत बड़े भक्त हैं। वनतारा के जरिए हाथियों की सेवा करते हैं और इस सेवा को वो गणेश भगवान को समर्पित करते हैं। वीडियो में उन्होंने बताया कि जैसे वो भगवान गणेश के भक्त हैं वैसे ही उनका भाई शिव भगवान का बहुत बड़ा भक्त हैं। उनकी दादी भी शिव भक्त थीं और नानी की भी भगवान में खूब आस्था थी। उन्होंने बताया कि उनकी माँ नीता अंबानी नवरात्रियों पर आज भी उपवास करती हैं। घर के सभी सदस्यों को सनातनी होने पर बहुत गर्व है।

बता दें कि अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट की शादी से पूर्व पूरा अंबानी परिवार जामनगर में आकर लगातार धर्म-कर्म के कार्यों में जुटा है। उन्होंने हाल में जामनगर में 14 मंदिरों का निर्माण करवाया है। इसके अलावा उन्होंने प्री वेडिंग की जो शुरुआत की है उसे भी अन्न सेवा से की है। इसके लिए उन्होंने 51 हजार लोगों को बिठाकर भोजन करवाया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -