Thursday, May 30, 2024
Homeविविध विषयअन्यहार के बाद बदसलूकी पर उतरे अफगान खिलाड़ी, भारतीय प्लेयर्स से की मारपीट: कॉलर...

हार के बाद बदसलूकी पर उतरे अफगान खिलाड़ी, भारतीय प्लेयर्स से की मारपीट: कॉलर पकड़ के दिया धक्का, चले लात-घूँसे

अफगानिस्तान के खिलाफ गोल दागने के बाद भारतीय कप्तान सुनील छेत्री के अब 128 इंटरनेशनल मुकाबलों में 82 गोल हो गए हैं। छेत्री से आगे अब सिर्फ पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी हैं।

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में शनिवार (11 जून 2022) की रात हुई एशियन कप 2023 फुटबॉल क्वालीफायर मैच (Asian Cup 2023 Qualifiers) में अफगानिस्तान (Afghanistan) ने हार के बाद भारतीय टीम (India Team) के खिलाड़ियों के साथ अभद्रता और मारपीट की। इसके बाद भारतीय टीम भी बचाव में आ गई और दोनों तरफ से जमकर लात-घूँसे चले।

दरअसल, मैच के आखिरी पलों में भारतीय टीम ने गोल कर अफगानिस्तान पर जीत दर्ज की थी। भारत की इस जीत को अफगान खिलाड़ी पचा नहीं पाए। इस दौरान एक अफगान खिलाड़ी एक भारतीय खिलाड़ी से बदतमीजी करने लगा। इसके बाद बात बढ़ गई और दोनों ओर से कई खिलाड़ी इसमें शामिल हो गए।

वीडियो में स्पष्ट दिख रहा है कि अचानक तीन अफगान खिलाड़ी आते हैं और आपस में बात कर रहे दो खिलाड़ियों में एक दो अपने साथ घसीटने लगते हैं। इन अफगान खिलाड़ियों में से एक भारतीय खिलाड़ी का कॉलर पकड़ कर खींचता है, जबकि दूसरे उसे धक्का देता है। इस दौरान दूसरा भारतीय खिलाड़ी भी साथ रहने की कोशिश करता है, लेकिन उसे भी लगातार धक्का दिया जाता रहा है।

इसके बाद मैदान से बाहर बैठे अफगान खिलाड़ी दौड़कर मैदान में आते हैं लड़ाई में अपने साथियों की मदद करने लगते हैं। उनके पीछे-पीछे भारतीय खिलाड़ी भी दौड़कर मैदान में आते हैं। इसके बाद दोनों तरफ से खिलाड़ी गुत्थमगुत्थी हो जाते हैं। फिर लात और घूँसे चलने लगे। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

इस दौरान भारतीय गोलकीपर गुरप्रीत सिंह ने दोनों तरफ के खिलाड़ियों को शांत कराने की काफी कोशिश की, लेकिन उन्हें भी अफगान खिलाड़ियों ने धक्का दे दिया। इसके बाद AFC के अधिकारी मौके पर पहुँचे, लेकिन हाथापाई रुकने के बजाए और तेज हो गई। आयोजन समिति ने घटना को लेकर अभी कुछ नहीं कहा है। हालाँकि, झगड़े की असली वजह क्या यह पता नहीं चला है।

इस महत्वपूर्ण मैच में भारतीय टीम ने अफगानिस्तान को 2-1 से हराकर तीन अंक हासिल किए हैं। सुनील छेत्री ने खेल के 85 मिनट में एक फ्री-किक गोल मारा, लेकिन अफगानिस्तान ने जुबैर अमीरी फ्री हेडर से गोल करते हुए मैच बराबरी पर ला दिया। इसी बीच मैच खत्म होने से ठीक पहले भारतीय टीम ने निर्णायक गोल दागते हुए जीत हासिल कर ली।

अफगानिस्तान के खिलाफ गोल दागने के बाद भारतीय कप्तान सुनील छेत्री के अब 128 इंटरनेशनल मुकाबलों में 82 गोल हो गए हैं। छेत्री से आगे अब सिर्फ पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और अर्जेंटीना के लियोनेल मेसी हैं।

भारतीय टीम की यह टीम जनवरी 2016 के बाद अफगानिस्तान के खिलाफ पहली जीत है। इससे ठीक पहले दो मौकों पर अफगानिस्तान की टीम भारत को दो बार बराबरी पर रोकने मे सफल रही थी। भारतीय टीम ने अफगानिस्तान के खिलाफ कुल 11 मैच खेले हैं, जिनमें उसे सात में जीत और एक में हार का सामना करना पड़ा है।

बता दें कि एशियन कप 2023 के फाइनल क्वालीफाइंग राउंड के ग्रुप-डी के मुकाबले में अफगानिस्तान को हराने के बाद भारतीय टीम दूसरे नंबर पर आ गई है। पहले नंबर पर हांगकांग की टीम चल रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बाँटने की राजनीति, बाहरी ताकतों से हाथ मिला कर साजिश, प्रधान को तानाशाह बताना… क्या भारतीय राजनीति के ‘बनराकस’ हैं राहुल गाँधी?

पूरब-पश्चिम में गाँव को बाँटना, बाहरी ताकत से हाथ मिला कर प्रधान के खिलाफ साजिश, शांति समझौते का दिखावा और 'क्रांति' की बात कर अपने चमचों को फसलना - 'पंचायत' के भूषण उर्फ़ 'बनराकस' को देख कर आपको भारत के किस नेता की याद आती है?

33 साल पहले जहाँ से निकाली थी एकता यात्रा, अब वहीं साधना करने पहुँचे PM नरेंद्र मोदी: पढ़िए ईसाइयों के गढ़ में संघियों ने...

'विवेकानंद शिला स्मारक' के बगल वाली शिला पर संत तिरुवल्लुवर की प्रतिमा की स्थापना का विचार एकनाथ रानडे का ही था, क्योंकि उन्हें आशंका थी कि राजनीतिक इस्तेमाल के लिए बाद में यहाँ किसी की मूर्ति लगवाई जा सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -