Wednesday, August 4, 2021
Homeविविध विषयअन्यYouTube पर सबसे ज्यादा देखा गया यह वीडियो, लाख-करोड़ नहीं... 7 अरब से भी...

YouTube पर सबसे ज्यादा देखा गया यह वीडियो, लाख-करोड़ नहीं… 7 अरब से भी ज्यादा: न हीरो है, न हिरोइन

Baby Shark वीडियो 17 जून 2016 को YouTube पर अपलोड किया गया था। Baby Shark के Youtube का नंबर-1 बनने के पहले यह ताज Despacito नाम के वीडियो के पास था।

YouTube पर सबसे ज्यादा देखे गए वीडियो का कल (2 नवंबर, 2020) एक नया रिकॉर्ड बना। Baby Shark नाम के YouTube वीडियो को ज्यादा देखे गए वीडियो का ताज मिला। इसे अब तक 7.04 बिलियन व्यूज (7040000000) मिल चुके हैं।

Baby Shark नाम का यह YouTube वीडियो बच्चों का वीडियो है। इसमें कोई हीरो या हिरोइन नहीं है। दो बच्चे हैं और मछलियों वाले कुछ ग्राफिक्स। बस! न सरसों का खेत और न ही पहाड़ों पर लहराती सिल्क की साड़ी।

खैर! वापस आते हैं Baby Shark वीडियो पर। यह वीडियो 17 जून 2016 को YouTube पर अपलोड किया गया था। इसे कोरियाई-अमेरिकी गायक होप सेगोइन (Hope Segoine) द्वारा रिकॉर्ड किया गया था। दक्षिण कोरियाई शैक्षणिक कंपनी पिंकफॉन्ग (Pinkfong) ने इस गाने को प्रोड्यूस किया था।

Baby Shark Vs Despacito

Baby Shark के Youtube का नंबर-1 बनने के पहले यह ताज Despacito नाम के वीडियो के पास था। लुइस फोंसी और डैडी यांकी (Luis Fonsi, Daddy Yankee) का यह वीडियो Youtube पर 12 जनवरी 2017 को अपलोड किया गया था।

वापस आते हैं Baby Shark पर। कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए बच्चों में उचित तरीके से हाथ धोने और स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए Baby Shark वीडियो के एक नए संस्करण को इसी साल की शुरुआत में बना कर YouTube पर अपलोड किया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsBaby Shark YouTube
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,945FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe