गलत कोड से ही डर गया पाकिस्तान, F-16 ने घेरा यात्री विमान, 120 लोग थे सवार

स्पाइसजेट का यह विमान पिछले महीने 23 सितंबर को दिल्ली से काबुल जा रहा था। इसी दौरान आसमान में उसे पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमानों ने घेर लिया था। विमान में 120 लोग सवार थे।

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) के एक गलत कोड के कारण पाकिस्तान में एफ-16 फाइटर जेट्स ने स्पाइसजेट के एक विमान को घेर लिया था। पिछले दिनों हुई इस घटना की चर्चा पूरी दुनिया में हुई थी। अब इस मामले में डीजीसीए के ही एक अधिकारी की लापरवाही सामने आई है।

खबर के मुताबिक डीजीसीए के एक अधिकारी ने इस यात्री विमान को कमर्शियल की जगह मिलिट्री का ‘ट्रांसपोंडर कोड’ दे दिया था। एक अधिकारी ने बताया कि लापरवाही बरतने वाले अधिकारी को सस्पेंड कर दिया गया है।

गौरतलब है कि स्पाइसजेट का यह विमान पिछले महीने 23 सितंबर को दिल्ली से काबुल जा रहा था। इसी दौरान आसमान में उसे पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमानों ने घेर लिया था। विमान में 120 लोग सवार थे। गलत कोड देने की वजह से पाकिस्तानी रडार पर यह भारतीय वायुसेना का विमान दिखाई दे रहा था। गनीमत ये रही कि पाकिस्तान के लड़ाकू विमान ने कोई एक्शन नहीं लिया।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

बता दें कि कि मिलिट्री ट्रांसपोंडर कोड और कॉमर्शियल कोड में अंतर होता है। अगर कॉमर्शियल कोड वाले रास्ते में कोई मिलिट्री कोड वाला विमान उड़ान भरता है तो इसकी जानकारी रडार से उस देश की सुरक्षा एजेंसी को मिल जाती है। बताया जा रहा है कि स्पाइसजेट एयरक्राफ्ट को गलती से एन 32 कोड दिया गया था, जिसका इस्तेमाल भारतीय वायु सेना करती है। इसकी वजह से पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को स्पाइसजेट विमान भारतीय सेना का विमान मालूम पड़ा।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सोनिया गाँधी
शिवसेना हिन्दुत्व के एजेंडे से पीछे हटने को तैयार है फिर भी सोनिया दुविधा में हैं। शिवसेना को समर्थन पर कॉन्ग्रेस के भीतर भी मतभेद है। ऐसे में एनसीपी सुप्रीमो के साथ उनकी आज की बैठक निर्णायक साबित हो सकती है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,514फैंसलाइक करें
23,114फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: