Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयअन्यगलत कोड से ही डर गया पाकिस्तान, F-16 ने घेरा यात्री विमान, 120 लोग...

गलत कोड से ही डर गया पाकिस्तान, F-16 ने घेरा यात्री विमान, 120 लोग थे सवार

स्पाइसजेट का यह विमान पिछले महीने 23 सितंबर को दिल्ली से काबुल जा रहा था। इसी दौरान आसमान में उसे पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमानों ने घेर लिया था। विमान में 120 लोग सवार थे।

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) के एक गलत कोड के कारण पाकिस्तान में एफ-16 फाइटर जेट्स ने स्पाइसजेट के एक विमान को घेर लिया था। पिछले दिनों हुई इस घटना की चर्चा पूरी दुनिया में हुई थी। अब इस मामले में डीजीसीए के ही एक अधिकारी की लापरवाही सामने आई है।

खबर के मुताबिक डीजीसीए के एक अधिकारी ने इस यात्री विमान को कमर्शियल की जगह मिलिट्री का ‘ट्रांसपोंडर कोड’ दे दिया था। एक अधिकारी ने बताया कि लापरवाही बरतने वाले अधिकारी को सस्पेंड कर दिया गया है।

गौरतलब है कि स्पाइसजेट का यह विमान पिछले महीने 23 सितंबर को दिल्ली से काबुल जा रहा था। इसी दौरान आसमान में उसे पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमानों ने घेर लिया था। विमान में 120 लोग सवार थे। गलत कोड देने की वजह से पाकिस्तानी रडार पर यह भारतीय वायुसेना का विमान दिखाई दे रहा था। गनीमत ये रही कि पाकिस्तान के लड़ाकू विमान ने कोई एक्शन नहीं लिया।

बता दें कि कि मिलिट्री ट्रांसपोंडर कोड और कॉमर्शियल कोड में अंतर होता है। अगर कॉमर्शियल कोड वाले रास्ते में कोई मिलिट्री कोड वाला विमान उड़ान भरता है तो इसकी जानकारी रडार से उस देश की सुरक्षा एजेंसी को मिल जाती है। बताया जा रहा है कि स्पाइसजेट एयरक्राफ्ट को गलती से एन 32 कोड दिया गया था, जिसका इस्तेमाल भारतीय वायु सेना करती है। इसकी वजह से पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को स्पाइसजेट विमान भारतीय सेना का विमान मालूम पड़ा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -