Thursday, June 13, 2024
Homeविविध विषयअन्य114/6 पर फँस गया था भारत, तब इस जोड़ी ने मचाया धूम-धड़ाका: अधूरा रह...

114/6 पर फँस गया था भारत, तब इस जोड़ी ने मचाया धूम-धड़ाका: अधूरा रह गया विश्व कप में Pak की पहली जीत का सपना

राजेश्वरी गायकवाड़ ने गेंदबाजी करते हुए भारत की तरफ से शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने 10 ओवर में मात्र 31 रन देकर 4 विकेट झटके।

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने ‘ICC महिला क्रिकेट विश्व कप 2022’ के पहले ही मैच में पाकिस्तान को बड़े अंतर से मात दे दी। भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 7 विकेट पर 244 रनों का स्कोर खड़ा किया। जहाँ सलामी बल्लेबाज स्मृति मंदाना ने 75 गेंदों पर 52 रनों की पारी खेली, वहीं 7वे नबंर पर बल्लेबाजी के लिए उतरीं स्नेह राणा ने 48 गेंदों पर नाबाद 53 रन मारे। उनके साथ पूजा वस्त्रकार ने 59 गेंदों पर 67 रनों की तेज-तर्रार पारी खेली।

एक समय ऐसा आ गया था, जब 33.1 ओवर में मात्र 114 रनों पर 6 विकेट गिर गए थे। लेकिन, अपना रिकॉर्ड छठा विश्व कप खेल रहीं कप्तान मिताली राज के 9 रन पर सस्ते में आउट होने के बाद पूजा और स्नेह ने मिल कर 7वें विकेट के लिए 122 रनों की साझेदारी की। पाकिस्तान की तरफ ने नशरा संधू ने जहाँ 36 रन देकर 2 विकेट झटके, वहीं निदा दार ने 45 रन देकर 2 विकेट झटके। दोनों ने 10-10 ओवर फेंके।

वहीं पाकिस्तान की तरफ से उतरीं किसी भी महिला बल्लेबाज ने अर्धशतक तक नहीं जड़ा। पाकिस्तान की तरफ से सलामी बल्लेबाज सिदरा अमीन ने सबसे ज्यादा 30 रनों की पारी खेली। राजेश्वरी गायकवाड़ ने गेंदबाजी करते हुए भारत की तरफ से शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने 10 ओवर में मात्र 31 रन देकर 4 विकेट झटके। वहीं स्टंप्स के पीछे से विकेटकीपर ऋचा घोष ने एक के बाद एक पाँच कैच पकड़े। उनके प्रदर्शन की सराहना हो रही है।

पाकिस्तान की पारी ओवर में रनों पर सिमट गई। बल्लेबाजी में अच्छी पारी खेलने के बाद स्नेह राणा ने गेंदबाजी में भी सही प्रदर्शन किया और 9 ओवरों में 27 रन देकर विकेट लिए। 39 वर्षीय वरिष्ठ गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने भी 10 ओवर में 26 रन खर्च करते हुए 2 बड़े विकेट झटके। इसके साथ ही पाकिस्तान की टीम 43 ओवरों में 137 रनों पर सिमट गई। भारत की मेघना सिंह ने अंतिम विकेट झटका। इस तरह भारत ने इस विश्व कप में अपना पहला मैच जीत लिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -