Saturday, April 4, 2020
होम विविध विषय अन्य विदिशा बालियान ने जीता Miss Deaf World 2019 का ताज, यह ख़िताब जीतने वाली...

विदिशा बालियान ने जीता Miss Deaf World 2019 का ताज, यह ख़िताब जीतने वाली पहली भारतीय

इस कॉन्टेस्ट के फ़ाइनल राउंड में भाग लेने वाले 16 देशों में से 11 फाइनलिस्ट चुने गए, जिनमें से विदिशा बालियान विजयी रहीं। इस प्रतियोगिता में दक्षिण अफ्रीकी महिला दूसरे नंबर की विजेता रहीं।

ये भी पढ़ें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

ज़ेहन में अगर कुछ कर दिखाने का जज़्बा हो, तो हर मुश्किल आसान हो जाती है। फिर चाहे आसमान की बुलंदी पर पहुँचना हो या फिर हो ‘मिस डेफ वर्ल्ड-2019’ का ख़िताब जीतना हो। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है यूपी की 21 वर्षीय विदिशा बलियान ने। अपनी कमज़ोरी को दरकिनार कर उन्होंने अपनी लगन और मेहनत से दुनिया को दिखा दिया कि जीत कैसे हासिल की जाती है… नाम कैसे रोशन किया जाता है…और इतिहास कैसे रचा जाता है।

दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुज़्ज़फ़रनगर शहर की विदिशा बालियान को मिस डेफ वर्ल्ड 2019 का ताज पहनाया गया। इस ख़िताब को जीतने वाली वो पहली भारतीय हैं। इस अंतर्राष्ट्रीय सौंदर्य प्रतियोगिता का आयोजन 22 जुलाई को दक्षिण अफ्रीका के मंबेबेला में हुआ था।

विदिशा बालियान एशियन एकेडमी ऑफ़ फिल्म एंड टेलीविज़न की मॉडलिंग स्टूडेंट हैं। यूँ तो वो मुज़्ज़फ़रनगर की हैं लेकिन फ़िलहाल उनका परिवार गाज़ियाबाद में रहता है। उन्हें गुरुग्राम और नोएडा के ट्रेनर्स ने सौंदर्य प्रतियोगिता के लिए ट्रेन्ड किया था।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इस कॉन्टेस्ट के फ़ाइनल राउंड में भाग लेने वाले 16 देशों में से 11 फाइनलिस्ट चुने गए, जिनमें से विदिशा बालियान विजयी रहीं। उन्होंने पीठ में चोट लगने के बावजूद इस प्रतियोगिता में हिस्सा भाग लिया। इस प्रतियोगिता में एक दक्षिण अफ्रीकी महिला दूसरे नंबर की विजेता रहीं।

विदिशा अपनी जीत से काफ़ी उत्साहित दिखीं और उन्होंने कई तस्वीरें इंस्टाग्राम पर शेयर की। अपनी एक तस्वीर पर उन्होंने कैप्शन लिखा कि इस ख़िताब को जीतना सपना सच होने जैसा है। उन्होंने लिखा कि बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो अपनी सुनने की क्षमता खो चुके हैं पर वे बेहद टैलेंटेड हैं और मौक़े डिज़र्व करते हैं।

https://www.instagram.com/p/B0Vz2ZagOY5/?utm_source=ig_embed

विदिशा के बारे में बता दें कि वो बचपन से ही श्रवण-बाधित थीं। इस प्रतियोगिता में भाग लेने के बारे में उन्होंने कहा, “मुझे विश्वास हासिल करने और अपने व्यक्तित्व को विकसित करने के लिए प्रतियोगिता में भाग लेने की प्रेरणा मिली। इस प्लेटफ़ॉर्म के माध्यम से, मैं बधिर समुदाय को उनकी प्रतिभा पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रेरित करना चाहती हूँ और इस बात से परेशान नहीं होना चाहिए कि उनके पास क्या है ।”

इस प्रतियोगिता में विदिशा ने तांडव पर परफॉर्म किया था। उन्होंने अपनी परफ़र्मेंस की तस्वीरें इंस्टाग्राम पर शेयर कीं। उन्होंने लिखा, “तांडव, भगवान शिव का एक शानदार नृत्य है। मुझे छोटी उम्र में ही नृत्य से लगाव था। हालाँकि मैं स्पष्ट रूप से ताल, धुन या आवाज़ नहीं सुन सकती थी। लेकिन, नृत्य करने के लिए अपने दिल और आत्मा में संगीत की आवश्यकता होती है।”

इसके अलावा, विदिशा एक पूर्व अंतरराष्ट्रीय टेनिस खिलाड़ी भी हैं। उन्होंने डीफ्लेम्पिक्स में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। जैसा कि उनके इंस्टाग्राम पोस्ट पर लिखा गया है, विदिशा ने डिफ्लैम्पिक्स में 5वीं रैंक हासिल की थी जिसके बाद उन्हें पीठ में गंभीर चोट लगी थी। उसके बाद उन्होंने सौन्दर्य प्रतियोगिता में भाग लेने का फ़ैसला कर लिया। उनके फ़ैसले का परिणाम आज हम सबके सामने है, जो तालियों का हक़दार हैं।

View this post on Instagram

While being crowned as miss Deaf World would be etched in my memory for lifetime, the win was extra special to me for many reasons. . . As a hearing-impaired child, from not hearing the doorbell to being ignored by people, I’ve seen it all. But after seeing a meteoric rise in my sports career as a tennis player who earned the 5th rank in ‘Deaflympics’, tennis became as important as breathing. And then life’s another blow – a severe back injury left my hopes fractured. . . . Unable to see a reason to live, I didn’t give up because of the strength my family gave me. And in time, I was shown another way – Miss Deaf India. A novice to the world of beauty and fashion, I learnt what was needed and won the title. . . I am blessed with a quality – if I put my mind to something then I don’t measure efforts or time, I give it my all. Whether it’s dancing, basketball, swimming, tennis or yoga, I never slack in my efforts. Maybe as a disabled child I learnt to overcompensate by my hard work to overcome my ability to listen properly. . . . By the grace of the universe, after the Miss Deaf India contest, we crossed paths with Wheeling Happiness, an NGO who empowers disabled people. . . . Thank you for each and every person who contributed in this victory. The crown is ours. 👑 . . Stylist: @ganeshvyas #blog #fromtheheart #missdeafworld2019 #southafrica #winner #wheelinghappiness #disabled #hearingimpaired #positivevibes

A post shared by Vidisha Baliyan (@vidishabaliyan_missworld2019) on

- ऑपइंडिया की मदद करें -
Support OpIndia by making a monetary contribution

ख़ास ख़बरें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

ताज़ा ख़बरें

Covid-19: विश्व में कुल संक्रमितों की संख्या 1063933, मृतकों की संख्या 56619, जबकि भारत में 2547 संक्रमित, 62 की हुई मौत

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाईट के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में कोरोना मामलों की संख्या में 478 की बढ़ोतरी हुई है। इसके साथ ही देश में कुल कोरोना पॉजिटिव मामले बढ़कर 2,547 हो गए हैं, जिनमें 2,322 सक्रिय मामले हैं। वहीं, अब तक 62 लोगों की इस वायरस के संक्रमण के कारण मौत हो गई है, जबकि 162 लोग ठीक भी हो चुके हैं।

मुंबई हवाईअड्डे पर तैनात CISF के 11 जवान निकले कोरोना पॉजिटिव, 142 क्वारन्टाइन में

बीते कुछ दिनों में अब तक CISF के 142 जवानों को क्वारन्टाइन किया जा चुका है, इनमें से 11 की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है

कोरोना मरीज बनकर फीमेल डॉक्टर्स को भेज रहे हैं अश्लील सन्देश, चैट में सेक्स की डिमांड: नौकरी छोड़ने को मजबूर है स्टाफ

क्या आप सोच सकते हैं कि ऐसे समय में, जब देश-दुनिया के तमाम लोग कोरोना की महामारी से आतंकित हैं। कोई व्यवस्था को बनाए रखने में अपना दिन-रात झोंक देने वाले डॉक्टर्स से बदसलूकी कर सकता है? खुद को कोरोना का मरीज बताकर महिला डॉक्टर्स को अश्लील संदेश भेज सकता है? उन्हें अपनी सेक्सुअल डिज़ायर्स बता सकता है?

तीन दिन से भूखी लड़कियों ने PMO में किया फोन, घंटे भर में भोजन लेकर दौड़े अधिकारी, पड़ोसियों ने भी नहीं दिया साथ

तीन दिन से भूखी इन बच्चियों ने काेविड-19 के लिए जारी केंद्र सरकार की हेल्प डेस्क 1800118797 पर फोन कर अपनी स्थिति के बारे में जानकारी दी। और जैसे चमत्कार ही हो गया। एक घंटे भीतर ही इन बच्चियों के पास अधिकारी भोजन लिए दौड़े-दौड़े आए।

गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यों को कोरोना से लड़ने के लिए आवंटित किए 11092 करोड़ रुपए, खरीद सकेंगे जरूरी सामान

मोदी सरकार ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में तेजी लाते हुए आज राज्यों को 11,092 करोड़ देने की घोषणा की

फलों पर थूकने वाले शेरू मियाँ पर FIR पर बेटी ने कहा- अब्बू नोट गिनने की आदत के कारण ऐसा करते हैं

फल बेचने वाले शेरू मियाँ का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा था, जिसमें वो फलों पर थूक लगाते हुए देखे जा रहे थे। इसके बाद पुलिस ने उन पर कार्रवाई कर गिरफ्तार कर लिया, जबकि उनकी बेटी फिजा का कुछ और ही कहना है।

प्रचलित ख़बरें

‘नर्स के सामने नंगे हो जाते हैं जमाती: आइसोलेशन वार्ड में गंदे गाने सुनते हैं, मॉंगते हैं बीड़ी-सिगरेट’

आइसोलेशन में रखे गए जमाती बिना कपड़ों, पैंट के नंगे घूम रहे हैं। यही नहीं, आइसोलेशन में रखे गए तबलीगी जमाती अश्लील वीडियो चलाने के साथ ही नर्सों को गंदे-गंदे इशारे भी कर रहे हैं।

या अल्लाह ऐसा वायरस भेज, जो 50 करोड़ भारतीयों को मार डाले: मंच से मौलवी की बद-दुआ, रिकॉर्डिंग वायरल

"अल्लाह हमारी दुआ कबूल करे। अल्लाह हमारे भारत में एक ऐसा भयानक वायरस दे कि दस-बीस या पचास करोड़ लोग मर जाएँ। क्या कुछ गलत बोल रहा मैं? बिलकुल आनंद आ गया इस बात में।"

मुस्लिम महिलाओं के साथ रात को सोते हैं चीनी अधिकारी: खिलाते हैं सूअर का माँस, पिलाते हैं शराब

ये चीनी सम्बन्धी उइगर मुस्लिमों के परिवारों को चीन की क्षेत्रीय नीति और चीनी भाषा की शिक्षा देते हैं। वो अपने साथ शराब और सूअर का माँस लाते हैं, और मुस्लिमों को जबरन खिलाते हैं। उइगर मुस्लिम परिवारों को जबरन उन सभी चीजों को खाने बोला जाता है, जिसे इस्लाम में हराम माना गया है।

क्वारंटाइन में नर्सों के सामने नंगा होने वाले जमात के 6 लोगों पर FIR, दूसरी जगह शिफ्ट किए गए

सीएमओ ने एमएमजी हॉस्पिटल के क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती तबलीगी जमात के लोगों द्वारा नर्सों से बदतमीजी करने की शिकायत की थी। शिकायत में बताया गया था कि क्वारंटाइन में रखे गए तबलीगी जमात के लोग बिना पैंट के घूम रहे हैं। नर्सों को देखकर भद्दे इशारे करते हैं। बीड़ी और सिगरेट की डिमांड करते हैं।

फलों पर थूकने वाले शेरू मियाँ पर FIR पर बेटी ने कहा- अब्बू नोट गिनने की आदत के कारण ऐसा करते हैं

फल बेचने वाले शेरू मियाँ का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा था, जिसमें वो फलों पर थूक लगाते हुए देखे जा रहे थे। इसके बाद पुलिस ने उन पर कार्रवाई कर गिरफ्तार कर लिया, जबकि उनकी बेटी फिजा का कुछ और ही कहना है।

ऑपइंडिया के सारे लेख, आपके ई-मेल पे पाएं

दिन भर के सारे आर्टिकल्स की लिस्ट अब ई-मेल पे! सब्सक्राइब करने के बाद रोज़ सुबह आपको एक ई-मेल भेजा जाएगा

हमसे जुड़ें

171,455FansLike
53,017FollowersFollow
211,000SubscribersSubscribe
Advertisements