Tuesday, April 20, 2021

विषय

Women empowerment

असमी गमछा, नागा शाल, गोंड पेपर पेंटिंग, खादी: PM मोदी ने विमेंस डे पर महिला निर्मित कई प्रॉडक्ट को किया प्रमोट

"आपने मुझे बहुत बार गमछा डाले हुए देखा है। यह बेहद आरामदायक है। आज, मैंने काकातीपापुंग विकास खंड के विभिन्न स्वयं सहायता समूहों द्वारा बनाया गया एक गमछा खरीदा है।"

रेल इंजनों पर देश की महिला वीरांगनाओं के नाम: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर भारतीय रेलवे ने दिया सम्मान

झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई, इंदौर की रानी अहिल्याबाई और रामगढ़ की रानी अवंतीबाई इनमें प्रमुख हैं। ऐसे ही दक्षिण भारत में कित्तूर की रानी चिन्नम्मा, शिवगंगा की रानी वेलु नचियार को सम्मान दिया गया।

उत्तराखंड पुलिस से जुड़ा ‘महिला कमांडो’ दस्ता, CM रावत ने कहा- बेटियों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देने के लिए चलाएँगे कार्यक्रम

CM त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड महिला कमांडो दस्ता तैयार करने वाला देश का चौथा राज्य है। प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा महिलाओं और युवतियों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

जिस ‘भारत भवन’ के लिए ढोया था ईंट-पत्थर… अब उसी के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि: जानिए कौन हैं पद्मश्री भूरीबाई

उन्हें उम्मीद नहीं थी कि कभी इसी 'भारत भवन' में वो मुख्य अतिथि बनेंगी। पद्मश्री भूरीबाई देवी पिथोरा पेंटिंग कला में सिद्धहस्त हैं।

चुनने की आजादी बेटियों का अधिकार, समानता की हकीकत को पुरुषों को स्वीकार करना होगा

24 जनवरी को 'राष्ट्रीय बालिका दिवस' (National Girl Child Day) मनाया जाता है। इसका उद्देश्य लड़कियों के सम्मान और महत्व को बढ़ावा देना है।

’15 साल में लड़कियाँ प्रजनन के लायक तो शादी 21 में क्यों’ – अपनी बहन-बेटी को किस उम्र में ब्याहेंगे ये कॉन्ग्रेसी नेता?

कॉन्ग्रेस नेता सज्जन सिंह ने कहा कि जब लड़कियाँ 15 साल में प्रजनन लायक हो जाती हैं तो शादी की उम्र 21 साल करने की क्या जरूरत है?

रियल वुमेन भाड़ में, ट्रांस वुमेन जिंदाबाद: ‘ठेकेदारों’ के लिए महिलाएँ कभी वजाइना ओनर्स तो कभी मेंस्ट्रूरेटर

साल 2020 में महिला अधिकारों के नाम पर ट्रांस वुमेन को केंद्र में लाने के लिए रियल वुमेन के मुद्दों को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया।

16% बढ़ी महिला पुलिसकर्मियों की ‘शक्ति’: बिहार सबसे आगे, J&K और तेलंगाना सबसे पीछे

ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट की रिपोर्ट को देखें तो प्रति लाख के हिसाब से पुलिस संख्या में पिछले साल के मुकाबले इस साल...

UP के इंटर कॉलेजों में सेनेट्री पैड वेंडिंग मशीन, स्कूलों में लड़कियों को करियर काउंसलिंग: योगी सरकार की पहल

योगी सरकार ने ग्रामीण परिवेश की लड़कियों में आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए उनकी पर्सनेलिटी डेवलवमेंट भी करवाने का फैसला लिया है। इसके तहत...

डॉक्टर बनने के लिए बाल विवाह से लड़ने वाली ‘द हिन्दू लेडी’, जिनकी वजह से आया ‘सहमति की उम्र का क़ानून’

22 नवंबर 1864 को मुंबई में पैदा हुई देश की पहली प्रैक्टिसिंग महिला डॉक्टर रुक्माबाई की जीवन यात्रा पर एक नजर।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,213FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe