Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजबंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान 'हामून', 'तेज' ने यमन-ओमान के तटों को...

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान ‘हामून’, ‘तेज’ ने यमन-ओमान के तटों को पार किया: भारत के मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, जानें दोनों के बारे में सब कुछ

मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान हामून को लेकर पश्चिम बंगाल, ओडिशा, मिजोरम और मेघालय सहित सात राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। केरल में भी हुई भारी बारिश।

‘भारतीय मौसम विज्ञान विभाग’ (IMD) के मुताबिक, भारत से लगे अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में एक साथ दो चक्रवाती तूफानों ‘तेज’ और ‘हामून ‘का साया मंडरा रहा है। आईएमडी ने इन दोनों चक्रवाती तूफानों को गंभीर बताते हुए चेतावनी जारी की है।

गंभीर चक्रवाती तूफ़ान में तब्दील हुआ ‘हामून’

चक्रवाती तूफान ‘हामून’ बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी के ऊपर ‘गंभीर’ चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है। इसे ये नाम ईरान ने दिया है। आईएमडी की मंगलवार (24 अक्टूबर, 2023 ) सुबह 11 बजे की रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती तूफान हामून बीते 6 घंटों के दौरान 18 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ गया है।

वहीं मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान ‘हामून’ को लेकर पश्चिम बंगाल, ओडिशा, मिजोरम और मेघालय सहित सात राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के मुताबिक, ‘हामून’ की वजह से केरल में भारी बारिश हुई। इस तूफान के 25 अक्टूबर की शाम तक खेपूपारा और चटगाँव के बीच बांग्लादेश तक को पार करने की संभावना है। इससे ओडिशा के तटीय इलाकों, मिजोरम और मणिपुर में भारी बारिश होने की आशंका है।

इसके साथ ही 25 अक्टूबर को नगालैंड, मणिपुर और त्रिपुरा में भी तेज बारिश हो सकती है। हालाँकि, इसे लेकर आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र का कहना था कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर मंगलवार सुबह तक हवा की रफ्तार 80-90 प्रतिघंटे से बढ़कर 100 किलोमीटर प्रति घंटा होने से हामून का ओडिशा पर सीधा असर नहीं पड़ेगा।

यमन-ओमान के तटों को पार कर गया चक्रवाती तूफान ‘तेज’

उधर दूसरी तरफ हिंद महासागर के दूसरी ओर अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफान ‘तेज’ काफी वक्त से ओमान और यमन की सीमा के पास रुका हुआ था है। मौसम विभाग के मुताबिक, गंभीर चक्रवाती तूफान तेज के 24 अक्टूबर की दोपहर के करीब अल गैदाह (यमन) और सलालाह (ओमान) के बीच यमन-ओमान तटों को पार करने का अनुमान जताया गया।

इस दौरान इसकी रफ्तार 115- 125 किलोमीटर प्रति घंटे से 150 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुँच सकती है। मौसम एजेंसी ने कहा कि चक्रवात के 25 अक्टूबर की सुबह यमन में अल ग़ैदा और ओमान में सलालाह के बीच यमन-ओमान तट को पार करने की संभावना है।

चक्रवात तेज के मद्देनजर आईएमडी ने मछुआरों के लिए चेतावनी जारी की है और समुद्र में गए मछुआरों को तुरंत तट पर लौटने के लिए कहा है। उन्हें 25 अक्टूबर तक दक्षिण-पश्चिम अरब सागर में और 25 अक्टूबर की रात तक समुद्र के पश्चिम-मध्य हिस्से में न जाने की सलाह दी गई है।

शनिवार (21 अक्टूबर, 2023 ) को समाचार एजेंसी PTI ने मौसम विज्ञान केंद्र की निदेशक मनोरमा मोहंती के हवाले से खबर दी कि चक्रवात तेज का गुजरात पर कोई असर नहीं होगा. उन्होंने कहा, “गुजरात में अगले सात दिनों तक मौसम शुष्क रहेगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -