Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाजअसम के कोकराझार में 3 बैंक डकैतों का एनकाउंटर, CM सरमा ने कहा राज्य...

असम के कोकराझार में 3 बैंक डकैतों का एनकाउंटर, CM सरमा ने कहा राज्य को अपराध मुक्त बना कर रहेंगे

सीएम सरमा ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, ''असम को अपराध मुक्त बनाना है और हत्या, बलात्कार एवं लूट को राज्य से खत्म करना है। हम तब तक काम करते रहेंगे जब तक लक्ष्य प्राप्त नहीं कर लेते।''

असम के कोकराझार जिले में पुलिस ने एनकाउंटर में 3 बैंक डकैतों को मार गिराया है। बैंक में डकैती डालने जा रहे इन अपराधियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी थी, जिसके बाद पुलिस को जवाबी कार्रवाई करनी पड़ी। मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने घटना पर कहा कि असम को अपराध मुक्त बनाया जाएगा।

असम पुलिस को कोकराझार जिले के भोटगाँव में इलाहबाद बैंक में डाली जाने वाली डकैती की गुप्त सूचना मिली थी, जिस पर पुलिस ने भोटगाँव के पास चेंगमारी में रविवार (22 अगस्त 2021) को तड़के ढाई बजे इन डकैतों को घेर लिया। पुलिस से घिरने के बाद डकैतों ने आत्मसमर्पण करने की जगह पुलिस पर ही फायरिंग शुरू कर दी, जिस पर पुलिस को जवाबी कार्रवाई करते हुए डकैतों पर गोलियाँ चलनी पड़ी। इस एनकाउंटर में तीन डकैत घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया और वहाँ उनकी मौत हो गई। असम के डीजीपी से मिली जानकारी के अनुसार, इन डकैतों के पास से वाहन, गैस कटर, ऑक्सीजन सिलेंडर, 2 पिस्टल और अन्य उपकरण बरामद हुए हैं। इस एनकाउंटर के बाद 3 अन्य डकैतों की तलाश की जा रही है।

सीएम सरमा ने पुलिस कार्रवाई की प्रशंसा करते हुए कहा कि डकैतों के एक गैंग को कोकराझार में पुलिस द्वारा मार गिराया गया, जिससे एक बड़ी बैंक डकैती टल गई। सीएम सरमा ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, ”असम को अपराध मुक्त बनाना है और हत्या, बलात्कार एवं लूट को राज्य से खत्म करना है। हम तब तक काम करते रहेंगे जब तक लक्ष्य प्राप्त नहीं कर लेते।” इससे पहले तालिबान के समर्थन में सोशल मीडिया में पोस्ट करने पर 14 लोगों की गिरफ्तारी पर भी उन्होंने कहा था कि असम पुलिस को बिना किसी भय के कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया गया है।

ज्ञात हो कि सोशल मीडिया पर तालिबान के समर्थन में पोस्ट करने पर शुक्रवार (20 अगस्त 2021) की रात 14 लोगों को गिरफ्तार किया गया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, गिरफ्तार लोगों में मौलाना भी शामिल हैं। इसके अलावा, नदीम अख्तर लश्कर नाम के एक मेडिकल स्टूडेंट और बरपेटा से मजीदुल इस्लाम और फारुख हुसैन खान को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार किए गए लोगों पर UAPA, IT एक्ट और सीआरपीसी की विभिन्न धाराएँ लगाई गईं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CCTV फुटेज गायब, फोन फॉर्मेट: जाँच में सहयोग नहीं कर रहा विभव कुमार, AAP के मार्च के बीच बोलीं स्वाति मालीवाल – काश मनीष...

स्वाति मालीवाल पिटाई मामले में बिभव की गिरफ्तारी से अरविंद केजरीवाल बौखलाए दिख रहे हैं। उन्होंने बीजेपी ऑफिस तक मार्च करने का ऐलान किया है।

पानी की टंकी में हथियार, जवानों के खाने-पीने की चीजों में ज़हर… जानें क्या था ‘लाल आतंकियों’ का ‘पेरमिली दलम’ जिसे नेस्तनाबूत करने में...

पेरमिली दलम ने गढ़चिरौली के जंगलों में ट्रेनिंग कैम्प खोल रखे थे। जनजातीय युवकों को सरकार के खिलाफ भड़का कर हथियार चलाने की ट्रेनिंग देते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -