Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाज'4 घंटे, FIR को लेकर जिद पर अड़ी पुलिस': रसूखदार के शेल्टर होम में...

‘4 घंटे, FIR को लेकर जिद पर अड़ी पुलिस’: रसूखदार के शेल्टर होम में 7 साल की बच्ची से यौन शोषण, जाँच के लिए झारखंड पहुँचे बाल आयोग अध्यक्ष

"शर्मनाक बात है कि पिछले चार घंटे से झारखंड पुलिस बच्चे के यौन शोषण के संज्ञेय अपराध में भी FIR दर्ज करने के लिए परिजन को फ़रियादी बनाने की ज़िद पर अड़ी है।"

झारखंड के राँची में पूर्व नौकरशाह द्वारा संचालित चिल्ड्रेन होम में सात साल की बच्ची के यौन उत्पीड़न का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले में शिकायत मिलने के बाद ‘राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR)’ के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो मामले की छानबीन करने के लिए मंगलवार (26 अप्रैल, 2022) को राँची पहुँचे।

ट्विटर के जरिए इसकी जानकारी देते हुए प्रियंक कानूनगो ने कहा, “आज झारखंड के राँची में हूँ। यहाँ एक चिल्ड्रेन होम में बच्चे के साथ स्टाफ़ द्वारा यौन हिंसा व उसके बाद उसको दबाने का मामला प्रकाश में आया है। बालगृह उसी रसूख़दार पूर्व नौकरशाह से ही सम्बंधित संस्था का है जहाँ बच्चों का उपयोग धरना, प्रदर्शन व अराजक गतिविधियों में करते हैं।”

इसकी के साथ कानूनगो ने अपने अगले ट्वीट में राँची पहुँचने की घटना की बात की। उन्होंने लिखा, “शर्मनाक बात है कि पिछले चार घंटे से झारखंड पुलिस बच्चे के यौन शोषण के संज्ञेय अपराध में भी FIR दर्ज करने के लिए परिजन को फ़रियादी बनाने की ज़िद पर अड़ी है। न तो स्वयं से मुक़दमा बना रही न ही एनसीपीआर को अपना फरियादी बना रही है।” इसके साथ ही राज्य के सीएम हेमंत सोरेन पर तंज कसते हुए प्रियंक कानूनगो ने पूछा कि आखिर किसका दबाव है।

ऐसे हुआ खुलासा

गौरतलब है कि हाल ही में एक सामाजिक कार्यकर्ता ने एनसीपीसीआर में शिकायत दर्ज करवाया था कि बीते 7 अप्रैल को राँची के धुर्वा थाना क्षेत्र स्थित रेनबो फाउंडेशन इंडिया द्वारा संचालित रेनबो चिल्ड्रेन होम में एक आदिवासी बच्ची का वहीं के गार्ड ने यौन उत्पीड़न किया। इस मामले में बच्ची को न्याय दिलाने की बजाय चिल्ड्रेन होम के मैनेजर ने इस घटना को दबाने की कोशिश की। इसी पर आयोग ने संज्ञान लिया है।

इसी तरह से पूर्व आईएएस अधिकारी और कथित समाजसेवी हर्ष मंदर द्वारा चलाए जा रहे चिल्ड्रेन होम (अमन घर) में भी भी लड़कों के यौन शोषण का मामला प्रकाश में आया था। इस चिल्ड्रेन होम के मालिक हर्ष मंदर ही हैं। आयोग के मुताबिक, बच्चों के यौन शोषण की कई घटना 2012, 2013 और 2016 में लड़कों के घर के भीतर हुई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -