Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजआम आदमी पार्टी के पार्षद का भाई तलाकशुदा महिला से रेप के मामले में...

आम आदमी पार्टी के पार्षद का भाई तलाकशुदा महिला से रेप के मामले में गिरफ्तार, लाइसेंस दिलाने के बहाने ले गया था नवसारी

घटना के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने पीड़िता को न्याय दिलाने की माँग को लेकर सूरत के हीराबाग इलाके में आम आदमी पार्टी कार्यालय के बाहर रैली निकाली।

गुजरात के सूरत जिला में आम आदमी पार्टी के पार्षद धर्मेंद्र वावलिया के भाई मेहुल वावलिया को तलाकशुदा महिला के बलात्कार के मामले में मामले में गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में पीड़िता की शिकायत के बाद कपोदरा पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मेहुल ने महिला को उस वक्त अपने जाल में फँसाया जब उसे पता चला कि वह गाड़ी चलाना सीख रही है। मेहुल ने कथित तौर पर महिला से झूठ बोलकर उसे नवसारी चलने के लिए मनाया था। उसने महिला को वहाँ पर लाइसेंस दिलाने का वादा किया था। हालाँकि, नवसारी जाते समय मेहुल ने महिला के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया।

घटना के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने पीड़िता को न्याय दिलाने की माँग को लेकर सूरत के हीराबाग इलाके में आम आदमी पार्टी कार्यालय के बाहर रैली निकाली। बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता सड़कों पर जमा हो गए और पार्षद को उनके भाई द्वारा कथित रूप से किए गए यौन उत्पीड़न के लिए फटकार लगाई। इस बीच भाजपा की महिला विंग भी विरोध करने के लिए सड़कों पर उतरी और मेहुल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की माँग की।

वहीं इस मामले पर आरोपित मेहुल के भाई आप पार्षद धर्मेंद्र वावलिया ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। धर्मेंद्र ने अपने भाई से दूरी बनाते हुए कहा कि हालाँकि, मेहुल उसका भाई है, लेकिन दोनों सालों से एक-दूसरे के संपर्क में नहीं हैं। उन्होंने आगे कहा कि अगर मेहुल दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

धर्मेंद्र ने कहा, “मेहुल मेरा भाई है और वह अब कई सालों से मेरे साथ नहीं है। मैं अपने भाई के लिए कड़ी सजा की माँग करता हूँ, अगर वह किसी भी गलत काम का दोषी पाया जाता है। अगर उसके खिलाफ आरोप सही साबित होते हैं तो उसे कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। मैं कपोदरा पुलिस और पुलिस आयुक्त से इस तरह के कृत्यों के अपराधियों के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का आग्रह करता हूँ।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

60 साल में भारत में 5 गुना हुए मुस्लिम, आज भी बच्चे पैदा करने की रफ्तार सबसे तेज: अमेरिकी थिंक टैंक ने भी किया...

अध्ययन के अनुसार 1951 से 2011 के बीच भारत की आबादी तिगुनी हुई। लेकिन इसी दौरान मुस्लिमों की आबादी 5 गुना हो गई।

मुर्गा काटने वाले औजार से हमला, ब्रजेंद्र दुबे की मेमरी लॉस, भाई विवेक का चल रहा इलाज: फिरोज, अफरोज समेत 5 आरोपित

मध्य प्रदेश में रीवा में मुस्लिम भीड़ के हमले में घायल ब्रजेंद्र का दिमागी संतुलन बिगड़ गया है। वो कभी-कभी लोगों को पहचान नहीं पाते हैं। उनके भाई विवेक को...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,707FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe