Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजख्वाजा दरगाह परिसर से मुहम्मद सागर ने भीख मँगवाने को किया 3 साल की...

ख्वाजा दरगाह परिसर से मुहम्मद सागर ने भीख मँगवाने को किया 3 साल की बच्ची का अपहरण

पुलिस ने आसपास लगे CCTV फुटेज खंगालने शुरू किए। इसमें सफेद शर्ट, नीली जीन्स व सफेद मुस्लिम टोपी सिर पर लगाए एक लड़का नजर आया। जिसकी गोद में तीन वर्षीया लाल रंग का टॉप पहने बच्ची...

अजमेर के ख्वाजा गरीब नवाज दरगाह परिसर से गत 29 मई को शाम 7 बजे तीन साल की बच्ची का अपहरण करने वाले आरोपित को पुलिस ने महज 36 घंटे के भीतर गुजरात के गाँधी नगर से गिरफ्तार कर अपहृत बच्ची को सकुशल बरामद कर लिया। आरोपित मुहम्मद सागर व उसके चंगुल से छुड़ाई गई बच्ची को लेकर पुलिस टीम रविवार मई 02, 2019 को अजमेर पहुँची। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपित ने भीख मँगवाने के लिए बच्ची का अपहरण कर भागने की जानकारी दी है। यह कार्रवाई अजमेर एसपी कुंवर राष्ट्रदीप सिंह के निर्देशन में की गई।

सीसीटीवी फुटेज से आया पहचान में

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित मोहम्मद सागर चिश्ती है। वह गाँव राई खादीगी पुलिस थाना गाजल जिला मालदा, पश्चिम बंगाल हाल PSL कारगो सेक्टर-2 गाँधीधाम गुजरात में रहता है। इस संबंध में खुरजा, बुलन्दशहर (यूपी) निवासी एक महिला ने दरगाह थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि वह 29 मई को अपनी 14 वर्ष व 3 वर्ष की दो बेटियों तथा 8 वर्षीय एक बेटे के साथ शाम 4 बजे अजमेर स्थित ख्वाजा की दरगाह में हाजरी लगाने पहुँची थी।

बच्ची अपने भाई-बहनों के साथ जन्नति दरवाजे के सामने बैठी थी जहाँ पर तीनों बच्चे खेल रहे थे। तभी शाम करीब 7 बजे रोजा इफ्तारी के समय लौटे तो 3 साल की छोटी बेटी नहीं मिली। तब बच्ची की माँ ने दरगाह में मौजूद लोगों की सहायता से दरगाह में गुम हुई बेटी की तलाश शुरू की। मामला अजमेर एसपी कुंवर राष्ट्रदीप तक पहुँचा और एसपी के निर्देशन में एएसपी सरिता सिंह, दरगाह थानाप्रभारी हेमराज चौधरी व वृत्ताधिकारी सुरेंद्र सिंह बच्ची की तलाश में जुटे।

दरगाह से गुम हुई बच्ची की तलाश में दरगाह थाना स्टॉफ के अलावा गंज थाना व क्लाक टॉवर थाना पुलिस सहित सात टीमें गठित कर दी। पुलिस ने रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, प्रमुख बाजार और दरगाह परिसर और आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने शुरु किए। जिसमें सफेद शर्ट, नीली जीन्स व सफेद मुस्लिम टोपी सिर पर लगाए एक लड़का नजर आया। जिसकी गोद में तीन वर्षीया लाल रंग का टॉप पहने बच्ची नजर आई। वह दरगाह से शाम 7.05 बजे शाहजानी मस्जिद से महफिल खाना गेट पहुँचा।

इसके बाद मोहम्मद सागर बच्ची को गोद में लिए हुए मुख्य बाजार से होकर शाम 7:22 बजे क्लॉक टावर के पास से रेलवे स्टेशन के अंदर जाते हुए नजर आया। वहाँ वह प्लेटफॉर्म नंबर 2 पर नजर खड़ा नजर आया। इसके बाद ओझल हो गया। अगले दिन 30 मई को आरपीएफ की स्पेशल टीम को मोहम्मद सागर रात 9:05 बजे भुज जाने वाली ट्रेन नं 14321 से बरेली में 2 नम्बर प्लेटफॉर्म से इंजन के पीछे प्रथम कोच में बैठता दिखाई दिया।

तब अजमेर पुलिस ने मारवाड़ जंक्शन, आबू रोड, पालनपुर, डिसा, भीलडी, रगनपुर, संतलपुर, बांजू, गांधीधाम, आदिपुर, अजार व भुज में जीआरपी, आरपीएफ को फुटेज भेजे। वहीं, एक और पुलिस टीम को भुज के लिए रवाना किया गया। अजमेर पुलिस ने रेलवे प्रशासन, आरपीएफ व जीआरपी की टीम की मदद तथा गुजरात पुलिस के सहयोग से अपहरणकर्ता मोहम्मद सागर गाँधीधाम, गुजरात पहुँचने पर पकड़ा गया। उसके चंगुल से बच्ची को मुक्त करवाया गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या के बाद संयुक्त किसान मोर्चा के बचाव में कूदा India Today, ‘सोर्स’ के नाम पर नया ‘भ्रमजाल’

SKM के नेता प्रदर्शन स्थल पर हुए दलित युवक की हत्या से खुद को अलग कर रहे हैं। इस बीच इंडिया टुडे ग्रुप अब उनके बचाव में सामने आया है। .

कुंडली बॉर्डर पर लखबीर की हत्या के मामले में निहंग सरबजीत को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार, लगे ‘जो बोले सो निहाल’ के नारे

निहंग सिख सरबजीत की गिरफ्तारी की वीडियो सामने आई है। इसमें आसपास मौजूद लोग तेज तेज 'जो बोले सो निहाल' के नारे बुलंद कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,835FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe