Saturday, January 22, 2022
Homeदेश-समाजशहनाई की जगह मातम क्यों? छोटी बेटी से अनीश खान और उसके साथियों ने...

शहनाई की जगह मातम क्यों? छोटी बेटी से अनीश खान और उसके साथियों ने किया रेप, पिता पेड़ से लटके मिले

पुलिस इसे आत्महत्या का मामला बता रही। लेकिन पीड़ित परिवार के सदस्यों ने इसे हत्या बताया और इसके पीछे सुमराद्दीन, महमूद, अंजुम, तौफीक और अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया है।

राजस्थान के अलवर जिले के रामगढ़ कस्बे के बालोत नगर में 29 जून को एक घर में शादी की शहनाई गूँजनी थी। लेकिन परिस्थितियाँ ऐसी बनीं कि आज की तारीख में उस घर में मातम पसरा है।

जिस पिता को आज अपनी बेटी ब्याह कर विदा करनी थी, वह 5 दिन पहले एक पेड़ की डाल पर फंदे से लटके मिले थे।

पुलिस इसे आत्महत्या का मामला बता रही। लेकिन पीड़ित परिवार के सदस्यों ने इसे हत्या बताया और इसके पीछे सुमराद्दीन, महमूद, अंजुम, तौफीक और अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया है।

मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि मंगलवार (जून 23, 2020) देर रात आरोपित लड़की के पिता को घर से बाहर बुलाकर ले गए थे और उनकी हत्या कर पेड़ से लटका दिया। उनका शव घर से महज 500 मीटर दूर पेड़ से लटका हुआ मिला था।

क्या है मामला?

राजस्थान के अलवर के रामगढ़ निवासी इस पिता की गलती बस इतनी थी कि वह अपनी छोटी बेटी के रेप के आरोप में मुस्लिम समुदाय के युवकों के ख़िलाफ़ अदालत में केस लड़ रहा था। सुनवाई से ठीक पहले उनका शव घर से थोड़ी दूर पर लगे एक पेड़ से लटका मिला। घटना की सूचना मिलते ही पूरे परिवार में कोहराम मच गया

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि छोटी बेटी से बलात्कार के आरोपित लगातार पीड़ित के पिता पर अपनी राजनीतिक पहुँच और पुलिस संरक्षण के चलते दबाव बनाने की कोशिश कर रहे थे। ये दबाव इतना ज्यादा था कि पिता से बर्दाश्त नहीं हुआ और उन्होंने फाँसी के फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली।

पिता के इस कदम से पहले रेप पीड़िता ने भी परिजनों की परेशानी देखते हुए 18 जून को कुएँ में कूदकर आत्महत्या की कोशिश की थी। लेकिन ग्रामीणों की नजर पड़ने के कारण उसे समय रहते बचा लिया गया।

इसके बाद, आरोपित पक्ष के लोगों ने पिता पर बड़ी बेटी की शादी में रुकावट की धमकियाँ देकर दबाव बनाना शुरू कर दिया। इसके कारण लड़की के पिता तनाव में रहने लगे।

पिता बड़ी मशक्कत करके शादी समारोह को बिना किसी अड़चन के संपन्न करवाना चाहते थे। मगर, उन्हें इसके आसार नहीं नजर आ रहे थे। नतीजतन उन्होंने शादी से ठीक पाँच दिन पहले यह बड़ा कदम उठाया या ये कहें कि उनसे ऐसा करवाया गया।

बता दें इस मामले के संबंध में रेप पीड़िता ने रामगढ़ थाने में अनीश, तौफिक और अंजुम के खिलाफ FIR दर्ज करवाई थी। लेकिन पुलिस ने आरोपितों पर मामला दर्ज करने से मना कर दिया और इस मामले में सिर्फ 3 युवकों को शांतिभंग के आरोप में पकड़ लिया।

बाद में पीड़ित परिवार के अनुसार थानाप्रभारी की शिकायत पुलिस अधीक्षक तक पहुँचने के कारण पुलिस ने एक आरोपी अनीश को पॉक्सो एक्ट में गिरफ्तार किया।

पॉक्सो एक्ट में एक की गिरफ्तारी के बाद अन्य नामजद तौफीक और अंजुम को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है। रेप पीड़िता के पिता की मौत के बाद अब परिजनों ने आधा दर्जन से अधिक लोगों पर हत्या का आरोप लगाया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केस ढोते-ढोते पिता भी चल बसे, माँ रहती हैं बीमार : दिल्ली दंगों में पहली सज़ा दिनेश यादव को, गरीब परिवार ने कहा –...

दिल्ली हिन्दू विरोधी दंगों में दिनेश यादव की गिरफ्तारी के बाद उनके पिता की मौत हो गई थी। पुलिस पर लगा रिश्वत न देने पर फँसाने का आरोप।

‘ईसाई बनने को कहा, मना करने पर टॉयलेट साफ़ करने को मजबूर किया’: तमिलनाडु में 17 साल की लड़की की आत्महत्या, माता-पिता ने बताई...

परिजनों ने आरोप लगाया कि हॉस्टल वॉर्डन द्वारा लावण्या प्रताड़ित किया गया था और मारा-पीटा गया था, क्योंकि उसने ईसाई मजहब में धर्मांतरण से इनकार किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,725FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe