Monday, December 6, 2021
Homeदेश-समाजइटावा में उपद्रवी तत्वों ने तोड़ी बाबा साहब की प्रतिमा, इलाके में तनाव

इटावा में उपद्रवी तत्वों ने तोड़ी बाबा साहब की प्रतिमा, इलाके में तनाव

इस प्रकार की हरकतें करने वाले शरारती तत्वों को ये समझना चाहिए कि बाबा साहब के कद को उनकी इस तरह की हरकतें कभी नुकसान नहीं पहुँचा पाएँगी। हाँ, प्रतिमा को नुकसान पहुँचाना सामाजिक सद्भाव को बिगाड़ सकता है।

ऐसे समय में जब बाबा भीमराव अम्बेदकर की जयंती नजदीक है, कुछ असामाजिक तत्व उन्माद फैलाने और समाज में अशांति फैलाने से बाज नहीं आते। इटावा जिले में बकेवर थाना के नोधना क्षेत्र में कुछ अराजक और असामाजिक तत्वों ने बाबा अम्बेदकर की प्रतिमा तोड़ डाली। इस घटना से इलाके में तनाव और अशांति का माहौल है। इस निंदनीय घटना की जानकारी मिलते ही आनन-फानन में प्रशासन ने नई प्रतिमा लगवाने का निर्णय लिया। इसके बाद ही लोगों का गुस्सा शांत हो पाया।

14 अप्रैल को बाबा साहब की जयंती होती है। इससे पहले ही थाना क्षेत्र में नोधना के मजरा रामनगर में अराजकतत्वों ने अम्बेदकर की प्रतिमा तोड़ दी। जानकारी मिलते ही भारी संख्या में लोग घटनास्थल पर पहुँच गए। क्षतिग्रस्त प्रतिमा को देख लोगों में आक्रोश पैदा हो गया।

सूचना मिलने पर मौके पर पहुँचकर प्रशासन ने मामले को रफा-दफा कराया। मीडिया के अनुसार जिला प्रशासन ने बाबा साहब की नई प्रतिमा लगवाने का निर्णय लिया है। इसी तरह की घटनाएँ  2017 और अप्रैल 2018 में भी देखने को मिली थीं, जब बाबा अम्बेदकर की प्रतिमा को अराजकतत्वों ने तोड़ डाला था।

इस प्रकार की हरकतें करने वाले शरारती तत्वों को ये समझना चाहिए कि बाबा साहब के कद को उनकी इस तरह की हरकतें कभी नुकसान नहीं पहुँचा पाएँगी। हाँ, प्रतिमा को नुकसान पहुँचाना सामाजिक सद्भाव को बिगाड़ सकता है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिम बाबरी विध्वंस को नहीं भूलेंगे, फिर से बनेगी मस्जिद’: केरल के स्कूल में बाँटा गया ‘मैं बाबरी हूँ’ का बैज

केरल के एक 'सेंट जॉर्ज स्कूल' की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिसमें एक SDPI कार्यकर्ता बच्चों की शर्ट पर बाबरी वाला बैज लगाता हुआ दिख रहा।

‘लड़ाई जीत ली, पर युद्ध जारी रहना चाहिए’: ISI सरगना और खालिस्तानी के साथ राकेश टिकैत का वीडियो कॉल, PM मोदी को कहा गया...

कथित किसान नेता राकेश टिकैत एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का हिस्सा बने, जिसमें खालिस्तानी से लेकर ISI से जुड़े लोग भी शामिल हुए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,998FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe