Thursday, September 29, 2022
Homeदेश-समाजइंजीनियरिंग छात्र आसिफ पर गोमांस की दावत के ऐलान का आरोप, यूपी पुलिस ने...

इंजीनियरिंग छात्र आसिफ पर गोमांस की दावत के ऐलान का आरोप, यूपी पुलिस ने किया गिरफ्तार: लिखा था – ‘जिस भो%# में दम है रोक लो’

उन्होंने अपनी शिकायत में में लिखा है कि शराफत के बेटे आसिफ ने न सिर्फ गौ माता पर अभद्र टिप्पणी की है बल्कि गोमांस की पार्टी करने के लिए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट भी शेयर की है।

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में पुलिस ने आसिफ नाम के इंजीनियरिंग छात्र को कथित तौर पर गोमांस की दावत देने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस ने यह कार्रवाई करणी सेना द्वारा मंगलवार (13 सितम्बर, 2022) को दर्ज करवाई गई FIR के बाद की। आसिफ मूल रूप से हापुड़ जिले का रहने वाला है। वो अमरोहा के IMS इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ाई करता है।

मामला गजरौला थाना क्षेत्र का है। यहाँ के IMS इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ने वाले आसिफ नाम के एक छात्र ने अपने व्हाट्सएप्प स्टेटस पर गंदी-गंदी गालियों के साथ लिखा था, “आज उसी मीट की पार्टी कर रहे हैं। जिस भो$% वाले में दम है रोक ले हमें।” जब उसके इस स्टेटस का एक हिन्दू छात्र ने विरोध किया, तब आसिफ ने उस से भी लम्बी बहस की और उसका मज़ाक उड़ाया। हालाँकि, छात्र खुद को हिन्दू बता कर FIR की बात पर अड़ा रहा।

इस मामले की पुलिस में शिकायत शिवम राजपूत ने दर्ज करवाई है। उन्होंने अपनी शिकायत में में लिखा है कि शराफत के बेटे आसिफ ने न सिर्फ गौ माता पर अभद्र टिप्पणी की है बल्कि गोमांस की पार्टी करने के लिए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट भी शेयर की है। शिकायतकर्ता ने अपने पास सभी स्क्रीनशॉट होने की जानकारी देते हुए गाय को हिन्दू समाज की माँ समान बताया। शिकायतकर्ता ने कहा कि आसिफ की टिप्पणी से उसकी आस्था को चोट पहुँची है। आसिफ पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की माँग करते हुए शिवम ने अपनी शिकायत में पुलिस को ये भी बताया है कि आरोपित की हरकत से हिन्दू-मुस्लिम दंगा भी हो सकता है।

पुलिस ने शिवम की शिकायत पर आसिफ के खिलाफ IPC की धारा 153-A के तहत कार्रवाई की। आसिफ को गिरफ्तार कर लिया गया है। ऑपइंडिया से बात करते हुए शिकायतकर्ता शिवम ने बताया कि मामला IMS कॉलेज गजरौला का है और आसिफ वहीं पढ़ता है। शिवम ने यह भी बताया कि उनकी शिकायत के बाद आसिफ पकड़ा जा चुका है। SHO गजरौला ने भी ऑपइंडिया से बात करते हुए आसिफ की गिरफ्तारी की पुष्टि की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सरकारी अधिकारी से लेकर PHD होल्डर, लाइब्रेरियन से लेकर तकनीशियन तक’: PFI में शामिल थे कई नामी लोग; ट्विटर ने अकॉउंट बंद किया, वेबसाइट...

प्रतिबंधित PFI के शीर्ष पदों को पूर्व सरकारी कर्मचारी, लाइब्रेरियन और पीएचडी होल्डर संभाल रहे थे। अब इसके सोशल मीडिया अकॉउंट बंद हो गए हैं।

दीपक त्यागी की सिर कटी लाश, हत्या पशुओं की गर्दन काटने वाले छूरे से: ‘दूसरे समुदाय की लड़की से प्रेम’ एंगल को जाँच रही...

मेरठ में दीपक त्यागी की गला काट कर हत्या। मृतक का दूसरे समुदाय की एक लड़की (हेयर ड्रेसर की बेटी) से प्रेम प्रसंग चल रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,049FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe