Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाज40 साल की मुस्लिम महिला, 10 साल में 25 मर्दों के साथ भागी: हर...

40 साल की मुस्लिम महिला, 10 साल में 25 मर्दों के साथ भागी: हर बार लौटने पर शौहर कर लेता है कबूल, 2011 में हुआ था निकाह

"2011 में हमारा निकाह होने के बाद 10 वर्षों में मेरी बीवी लगभग 25 बार दूसरों के साथ भागी है। हर बार परिवार में वापस आने के बाद उसने वादा किया कि वह फिर से ऐसा नहीं करेगी, लेकिन अब तक वह अपना वादा निभाने में विफल रही है।"

वह करीब 40 साल की है। 2011 में उसका निकाह माफिजुद्दीन के साथ हुआ। उसके तीन बच्चे भी हैं। निकाह के बाद से अब तक वह अलग-अलग मर्दों के साथ 25 बार भाग चुकी है। हर बार जब वह घर लौटती है तो शौहर उसे कबूल भी कर लेता है। हालाँकि उसे अफसोस भी है कि उसकी बीवी अब तक अपने कमिटमेंट पर खरी नहीं उतर सकी है।

हैरान करने वाली यह घटना असम के नगाँव की है। महिला ढिंग की रहने वाली है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार आखिरी बार जब वह घर से भागी थी तो अपने तीन महीने के बच्चे को पड़ोसी के घर में छोड़ गई थी। हर बार वापस लौटने पर शौहर ने उसे स्वीकार कर लिया। भागने के बाद वह जब भी वापस आती है तो दोबारा ऐसा नहीं करने का वादा करती है, लेकिन बाद में फिर भाग जाती है।

रिपोर्ट के मुताबिक महिला के तीन बच्चे हैं। इनमें सबसे छोटा केवल तीन महीने का है। अभी हाल ही में वो अपने ही गाँव के एक व्यक्ति के साथ भाग गई थी। घर से भागते वक्त उसने अपने तीन महीने के बच्चे को पड़ोसी के घर छोड़ दिया और कहा कि बकरियों के लिए चारा लेने जा रही है। जाते-जाते अपने 22,000 रुपए और कुछ गहने भी साथ ले गई।

महिला के पति के मुताबिक, “आखिरी बार इसी महीने वो 4 सितंबर को भागी थी। 2011 में हमारा निकाह होने के बाद 10 वर्षों में मेरी बीवी लगभग 25 बार दूसरों के साथ भागी है। हर बार परिवार में वापस आने के बाद उसने वादा किया कि वह फिर से ऐसा नहीं करेगी, लेकिन अब तक वह अपना वादा निभाने में विफल रही है।”

माफिजुद्दीन ने आगे कहा, “कभी मेरी बीवी ने दावा किया कि वह अपने रिश्तेदारों के घर गई थी। कभी उसने कहा कि वह अपने बीमार रिश्तेदारों को देखने गई थी। मैं उसे स्वीकार करूँगा, क्योंकि मैं उससे सच्चा प्यार करता हूँ और हमारे तीन छोटे बच्चे भी हैं। अगर मैं अपनी बीवी को स्वीकार नहीं करता तो उनकी देखभाल कौन करेगा? मैंने कानूनी और अन्य परेशानियों से बचने के लिए पुलिस में कोई शिकायत दर्ज नहीं की।”

महिला के दो नाबालिग बेटे और एक बेटी है। उसके सबसे छोटे बेटे की उम्र महज 3 महीने है और सबसे बड़ी बच्ची की उम्र 6 साल है। उसका दूसरा बेटा 3 साल का है। मुस्लिम बहुल सुदूर ढिंग लहकार गाँव के पड़ोसियों के मुताबिक महिला के गाँव के कई युवकों से अवैध संबंध हैं और वह अलग-अलग प्रेमियों के साथ भाग जाती है। बाद में कुछ हफ्तों या महीनों के बाद वह वापस आ जाती है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe