Monday, April 15, 2024
Homeदेश-समाजचंद्रबाबू नायडू के लिए ज़मीन नहीं देने पर किसान की पीट-पीट कर हत्या

चंद्रबाबू नायडू के लिए ज़मीन नहीं देने पर किसान की पीट-पीट कर हत्या

पुलिस ने बताया कि मामले की उच्च स्तरीय जाँच की जाएगी और जो भी दोषी होंगे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। राज्य भाजपाध्यक्ष कन्ना लक्ष्मी नारायण ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से हस्तक्षेप करने की माँग की है।

आंध्र प्रदेश के गुंटूर में एक किसान की असामयिक मृत्यु को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधा जा रहा है। राज्य में विपक्षी पार्टियों ने TDP (तेलुगू देशम पार्टी) सरकार पर हमला तेज़ कर दिया है। विपक्षी नेताओं ने मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उक्त किसान ने उनके दौरे को लेकर अपनी ज़मीन देने से इनकार कर दिया था, जिस कारण उसे मार डाला गया। किसान के परिवार वालों ने बताया कि उन्होंने अपनी ज़मीन में अस्थायी हेलिपैड बनाने के लिए अनुमति नहीं दी, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें प्रताड़ित किया।

मृतक की पहचान पिटला कोटेश्वरा राव के रूप में की गई है, जो यदलापडु मंडल के पुटलकोटा गाँव के मूल निवासी हैं। उसके परिजनों का कहना है कि पुलिस ने मृतक को काफ़ी यातनाएँ दी। यह घटना सोमवार (फ़रवरी 18, 2019) की है, जब नायडू एक कार्यक्रम के सिलसिले में क्षेत्र के दौरे पर आए थे। ‘द न्यूज़ मिनट’ के अनुसार, पीड़ित के परिवार और स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा पीटने के बाद उसकी मौत हो गई क्योंकि उसने सीएम की सुरक्षा व्यवस्था के लिए अपने खेत में जगह देने से इनकार कर दिया था।

इस घटना के बाद वाईएसआरसीपी के प्रमुख जगनमोहन रेड्डी, जो राज्य की विधानसभा में विपक्ष के नेता भी हैं, ने नायडू को किसान की मृत्यु का दोषी ठहराया। अपने एक ट्वीट में जगन ने कहा:

“आपने कोंडावेदु में बीसी किसान कोटिया की हत्या कर दी है। पिटाई के बाद उसे अधमरे स्थिति में छोड़ दिया गया था। आपके हेलीकॉप्टर की लैंडिंग की सुविधा के लिए, उनकी पपीते की फसल नष्ट हो गई। जब मानवता की ज़रूरत है तो यह क्रूरता क्या है?”

TDP सुप्रीमो चंद्रबाबू नायडू ने मृतक किसान के परिजनों को मुआवज़े के रूप में 5 लाख रुपए देने की घोषणा की। इस घटना के बाद विपक्षी दलों के नेताओं ने इलाके में पहुँचना शुरू कर दिया। जगनमोहन की पार्टी की तरफ से 3 सदस्यीय समिति ने किसान के परिजनों से मुलाक़ात किया। तेलुगू सुपरस्टार पवन कल्याण की पार्टी ने भी घटना को लेकर नायडू पर निशाना साधा और मृतक के परिजनों को सरकार नौकरी के साथ-साथ एक करोड़ रुपए देने की माँग की।

वहीं पुलिस ने बताया कि मामले की उच्च स्तरीय जाँच की जाएगी और जो भी दोषी होंगे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। राज्य भाजपाध्यक्ष कन्ना लक्ष्मी नारायण ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से हस्तक्षेप करने की माँग की है। राज्य भाजपा ने कहा कि सीएम नायडू केंद्र में भाजपा सरकार को लेकर अक्सर कहते रहते हैं कि लोकतंत्र ख़तरे में है, लेकिन उन्हीं की सरकार ने एक निर्दोष किसान को मार डाला।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कौन है कॉन्ग्रेस का वो नेता, जिसने कन्हैया कुमार को किया नंगा, सारे पुराने पाप एक साथ लाया सामने: ‘सेना बलात्कारी’, ‘गरीबों को हटाओ’...

उत्तर-पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से जैसे ही कन्हैया कुमार के नाम का ऐलान हुआ, कॉन्ग्रेस के भीतर से ही कन्हैया का विरोध होने लगा। दिल्ली में कॉन्ग्रेस के नेता ने कन्हैया कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल किया है।

लेफ्ट-कॉन्ग्रेस ने लूटा पूरा केरल, कर्मचारियों को देने के पैसे भी नहीं बचे: PM मोदी का वामपंथी सरकार पर हमला, आर्थिक संकट के लिए...

पीएम मोदी ने कहा कि केरल की वामपंथी सरकार पर सोना तस्करी में लिप्त होने के आरोप हैं। उन्होंने कॉन्ग्रेस पर भी हमला बोला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe