Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाजमछली का मूड़ा, चिकन, लिट्टी और अब चाउमीन पर खूनी झड़प: बिहार के गोपालगंज...

मछली का मूड़ा, चिकन, लिट्टी और अब चाउमीन पर खूनी झड़प: बिहार के गोपालगंज में ये क्या हो रहा?

इसी साल की एक अन्य घटना में थाली में बिना माँगे लिट्टी देने पर विवाद हो गया था। काफी बहस के बाद यह विवाद मारपीट में तब्दील हो गई। इसके बाद मुख्य आरोपित राजन ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोलियाँ चला दीं, जिसमें कई लोग घायल हो गए थे।

बिहार के गोपालगंज जिले में एक तिलक समारोह के दौरान चाउमीन खत्म होने पर कुछ युवकों ने बवाल मचा दिया। चाउमीन नहीं मिलने से नाराज युवकों ने लाठी-डंडे और चाकू से हमला कर दिया। हमले में चाउमीन बना रहे दो सगे भाई घायल हो गए। घायल भाइयों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। मामला विजयपुर थाना क्षेत्र के रसूलपुर गाँव का है। पुलिस ने दोनों घायलों का बयान दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि विजयीपुर थाना क्षेत्र के रसूलपुर गाँव में राजेश यादव के घर तिलक आया था। मेहमानों के खाने-पीने का पूरा इंतजाम किया गया था। रात के करीब 10:30 बजे चाउमीन खत्म हो गया। इस बीच कुछ युवक स्टॉल पर पहुँचे और चाउमीन माँगने लगे। चाउमीन बना रहे सत्यम गुप्ता और मुन्ना गुप्ता ने खत्म होने की बात कही। इससे युवक गुस्सा हो गए और गाली देना शुरू कर दिया। विरोध करने पर लाठी-डंडा और चाकू से हमला कर दिया। इसके बाद तिलक समारोह में अफरा-तफरी मच गई।

घायल युवक ने बताया, “रसूलपुर गाँव में राजेश यादव के घर हमारा चाउमीन का स्टॉल लगा था। रात में हम लोग सबको खिला रहे थे। माल खत्म होने के बाद वे लोग माँगे तो हम लोग बोले कि बना कर दे रहे हैं। वो खिसिया गए। दारू-शराब पिए हुए थे। हम लोगों को गाली देकर वे चले गए। बाद में सामान खत्म होने के बाद जब हम लोग अपने घर आ रहे थे तो रोड पर पकड़ कर रॉड और लाठी से हम दोनों भाइयों को मारा। 200 मीटर तक दौड़ा-दौड़ा कर मारे हैं। हम लोग का पूरा कपड़ा खून से भीग गया था।”

गोपालगंज में बारात, तिलक और सगाई में मनपसंद खाना नहीं मिलने पर पहले भी मारपीट और हत्या तक की घटनाएँ सामने आ चुकी हैं। इसके पहले जिले में मछली के पीस के लिए मारपीट और मटन के पसंदीदा पीस के लिए मर्डर तक हो चुका है।

मछली का मूड़ा न मिलने पर हुई थी मारपीट

इससे पहले भी जिले में शादी समारोह में खाने में मनपसंद चीज नहीं मिलने पर मारपीट की कई घटनाएँ हो चुकी हैं। 12 जून 2021 को भोरे थाना क्षेत्र के सिसई टोला भटवलिया में एक बारात समारोह में मछली का मूड़ा (मछली का सिर) के लिए जमकर मारपीट हुई थी। इस मारपीट की घटना में 11 लोग घायल हुए थे। 

चिकन और लिट्टी न मिलने पर चली गोली

वहीं, 5 मई को जिले के ही उचकागाँव थाना क्षेत्र के नरकटिया गाँव में बारात में खाने के दौरान चिकन और लिट्टी नहीं मिलने पर गोली चल गई थी। इसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी, जबकि तीन लोग घायल हुए थे।

थाली में जबरदस्ती लिट्टी देने पर विवाद

वहीं, इसी साल की एक अन्य घटना में थाली में बिना माँगे लिट्टी देने पर विवाद हो गया था। काफी बहस के बाद यह विवाद मारपीट में तब्दील हो गई। इसके बाद मुख्य आरोपित राजन ने अपनी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोलियाँ चला दीं, जिसमें कई लोग घायल हो गए थे। हालाँकि बाद में मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया थे। 

मुर्गे की हुई मौत होने पर पड़ोसी के घर फेंका बम

गोपालगंज में ही एक मुर्गा की मौत का बदला लेने के लिए बाइक सवार दो युवकों ने जून 2021 में ना सिर्फ अंधाधुंध फायरिंग की, बल्कि पड़ोसी के घर बमबाजी कर पूरे इलाके में दहशत फैला दी। हालाँकि अपराधियों के इस हमले में शिक्षक का परिवार बाल-बाल बच गया, लेकिन मोहल्ले के लोग दहशत में आ गए और इधर-उधर भागने लगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘AAP झूठ की बुनियाद पर बनी पार्टी, इसकी विश्वसनीयता शून्य नहीं, माइनस में’ – BJP के साथ स्वाति मालीवाल मुद्दे पर जेपी नड्डा का...

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल लंबे समय से भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और उनके ही इशारे पर ये साजिश रची गई।

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -