Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजप्रिंसिपल रौशन जमीर ने नाबालिग छात्रा को स्कूल बुलाकर किया रेप: न्यूड तस्वीरों के...

प्रिंसिपल रौशन जमीर ने नाबालिग छात्रा को स्कूल बुलाकर किया रेप: न्यूड तस्वीरों के सहारे 3 महीने तक करता रहा ब्लैकमेल

हद तो तब हो गई जब प्रिंसिपल रौशन जमीर ने अपना जमीर बेचकर पहली बार रेप करने के बाद छात्रा की न्यूड तस्वीरें ले ली। वह उसे तस्वीरें वायरल करने की धमकी देने लगा। फोटो वायरल होने की डर से 14 वर्षीय छात्रा को उसकी सभी शर्तें मानने लिए मजबूर होना पड़ा।

बिहार के अररिया जिले में शिक्षा के मंदिर में प्रिंसिपल ने हैवानियत की हदें पार कर घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। यह मामला महलगाँव थाना क्षेत्र के एक स्कूल का है, जहाँ प्रिंसिपल रौशन जमीर ने गुरु और शिष्य के रिश्ते को कलंकित किया है। बताया जा रहा है कि सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल पर कभी मिड डे मील तो कभी पोशाक की राशि दिलाने के बहाने 14 साल की नाबालिग छात्रा के साथ बलात्कार करने का आरोप है।

हद तो तब हो गई जब प्रिंसिपल रौशन जमीर ने अपना जमीर बेचकर पहली बार रेप करने के बाद छात्रा की न्यूड तस्वीरें ले ली। वह उसे तस्वीरें वायरल करने की धमकी देने लगा। फोटो वायरल होने की डर से 14 वर्षीय छात्रा को उसकी सभी शर्तें मानने लिए मजबूर होना पड़ा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रिंसिपल ने लगातार 3 महीने तक छात्रा के साथ दुष्कर्म किया, जिससे वह गर्भवती हो गई। इसका खुलासा तब हुआ, जब गाँववालों ने उसे रंगे हाथों पकड़ा। इसके बाद छात्रा के पिता ने महिला थाने में केस दर्ज कराया। पुलिस ने आरोपित प्रिंसिपल रौशन जमीर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

दरअसल, 29 जून 2021 की शाम को उत्क्रमित मध्य विद्यालय प्रसादपुर डुमरिया के आरोपित प्रिंसिपल ने छात्रा के पिता को फोन कर कहा कि वह अपनी बेटी को मिड डे मील का सूखा राशन लेने के लिए स्कूल भेज दें। पिता ने बच्ची को स्कूल भेज दिया, लेकिन जब वह स्कूल पहुँची तो जमीर उसे छत पर ले गया और उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा। एक स्थानीय व्यक्ति ने उसे यह सब करते हुए देख लिया और तुरंत छात्रा के पिता को इसके बारे में सूचित किया।

इसके बाद छात्रा के पिता अपने भाइयों और ग्रामीणों के साथ स्कूल परिसर पहुँचे और प्रिंसिपल को रंगे हाथों दबोच लिया। छात्रा ने बताया कि 3 महीने पहले पोशाक और राशन का लालच देकर स्कूल के प्रिंसिपल ने उसके साथ बलात्कार किया। उसने उसकी न्यूड तस्वीरें ले ली और इन्हें वायरल करने की धमकी देते हुए उसके साथ दुष्कर्म करता था। छात्रा 2 माह की गर्भवती है।

पीड़िता के पिता ने गाँव के मुखिया और सरपंच को भी इस मामले की जानकारी दी, जिसके बाद पंचायत में सुलह कराए जाने की कवायद शुरू हुई। हालाँकि, सरपंच और मुखिया द्वारा पंचायत में बुलाए जाने के बाद भी आरोपित शिक्षक नहीं पहुँचा। जिसके बाद पंचों की ओर से पीड़ित परिवार को पुलिस की मदद लेने का निर्देश दिया गया।

मामले को लेकर SDPO पुष्कर कुमार ने बताया कि जाँच जारी है। आरोपित प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रिंसिपल ने ग्रामीणों और पीड़िता के बयान के आधार पर नाबालिग छात्रा के साथ दुष्कर्म करने का जुर्म कबूल कर लिया है। उसने यह भी बताया कि गाँववालों ने सुलह कराने की भी कोशिश की थी। ऐसे जघन्य अपराध में पंचायत की कोशिश गलत है। सदर SDPO ने बताया कि पंचायती करने की कोशिश करने वालों की भी जाँच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘5 अगस्त की तारीख बहुत विशेष’: PM मोदी ने हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन और 370 हटाने का किया जिक्र

हॉकी में ओलंपिक मेडल, राम मंदिर भूमिपूजन, आर्टिकल 370 हटाने का जिक्र कर प्रधानमंत्री मोदी ने 5 अगस्त को बेहद खास बताया है।

आर्टिकल 370 के खात्मे का भारत स्वप्न, जिसे मोदी सरकार ने पूरा किया: जानिए इससे कितना बदला J&K और लद्दाख

आर्टिकल 370 हटाने के मोदी सरकार के ऐतिहासिक फैसले से न केवल जम्मू-कश्मीर में जमीन पर बड़े बदलाव आए हैं, बल्कि दशकों से उपेक्षित लद्दाख ने भी विकास के नए रास्ते देखे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,121FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe